बुजुर्ग पिता ने की बेटी से छेड़खानी का विरोध, बुजुर्ग पिता की कर दी बैट से पीटकर मर्डर 

 बुजुर्ग पिता ने की बेटी से छेड़खानी का विरोध,  बुजुर्ग पिता की कर दी बैट से पीटकर मर्डर 

दिल्ली के बुराड़ी इलाके में कथित तौर पर बेटी से छेड़खानी का विरोध करने पर बुजुर्ग पिता की बैट से पीटकर मर्डर करने का मुद्दा सामने आया है. हालांकि, पुलिस के मुताबिक

यह टकराव कुत्ते के भौंकने को लेकर प्रारम्भ हुआ था. घटना में बुजुर्ग का बेटा भी गम्भीर रूप से घायल हो गया है. उसे पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बहरहाल, पुलिस ने मर्डर की धारा में एफआईआर दर्ज कर आरोपी चाचा-भतीजा को अरैस्ट कर लिया है. पुलिस का बोलना है अन्य कोणों को ध्यान में रखते हुए भी मुद्दे की जाँच की जा रही है. 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, मृतक की पहचान 68 वर्ष के कुलदीप कात्याल के तौर पर हुई है. कुलदीप अपने बेटे शम्भू एवं परिवार के साथ बुराड़ी के संत नगर में रहते थे. वहीं पास की गली में कुलदीप की बेटी माला अपने पत्नी अशोक एवं बच्चे के साथ रहती है. माला ने बताया कि पड़ोस में रहने वाला बकुल अक्सर उस पर अश्लील टिप्पणी करता रहता था. हालांकि, उन्होंने इस मामले में कभी पुलिस से शिकायत नहीं की थी.

बताया जाता है कि बुधवार रात करीब साढ़े 11 बजे माला जन्माष्टमी के मौका पर मंदिर से दर्शन कर घर लौटी थी. पीड़िता ने बताया कि उसे देखकर घर के गेट पर बंधा कुत्ता भौंकने लगा, तभी शराब के नशे में धुत होकर बकुल वहां पहुंचा व उसने अभद्र भाषा का इस्तेमाल करना प्रारम्भ कर दिया. जब महिला ने उसका विरोध किया तो वह हाथापाई पर उतारू हो गया. यह देखकर माला के बेटे गगन ने घर में सो रहे अपने पिता को बुला लिया. इसके बाद बकुल व उसके चाचा दीपक ने अशोक की पिटाई करनी प्रारम्भ कर दी. फिर गगन दौड़ता हुआ अपने ननिहाल पहुंचा जहां पर कुलदीप व उनका बेटा शम्भू दुकान बंद कर रहे थे. पूरी बात सुनने पर दोनों पिता-पुत्र अशोक को बचाने के लिए पहुंचे. माला ने बताया कि अशोक को बचाने के दौरान बकुल व उसके परिवार के 8-9 लोगों ने उसके पिता व भाई पर भी हमला कर दिया. इसी क्रम में कुलदीप के सिर पर एक बैट से प्रहार किया गया जिससे वह गम्भीर रूप से घायल हो गए. 

घटना के बाद जब आरोपी फरार हो गए तो परिजनों ने घायल पिता पुत्र को बाबू जगजीवन राम अस्पताल में भर्ती कराया. साथ ही बुराड़ी थाने को घटना की सूचना दी. पुलिस ने गैर इरादतन मर्डर की प्रयास में एफआईआर दर्ज कर लिया. इस बीच कुलदीप की हालत गम्भीर होने पर उन्हें सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन उपचार के दौरान उनकी मृत्यु हो गई. इसके बाद पुलिस ने एफआईआर में मर्डर की धारा जोड़ दिया व आरोपी चाचा भतीजा को गुरुवार को अरैस्ट कर लिया अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है.

पिता, पति, भाई पिटते रहे बचाने कोई नहीं आया

वहीं आरोपी एवं उसके परिवार के लोग लाठी, बेसबॉल बैट एवं बैट से बुजुर्ग व उसके बेटे एवं दामाद को पीट रहे थे. इस दौरान माला ने वहां आसपास में रहने वाले लोगों से बचाने की गुहार लगाई, लेकिन कोई भी बचाने के लिए नहीं आया. एक पड़ोसी ने बताया कि आरोपियों का परिवार बेहद झगड़ालू है इसलिए आसपास के लोग उनसे बेहद डरते हैं. हमलावरों के खौफ का आलम यह था कि जब तक वे हाथापाई करते रहे. सभी अपनी बालकनी से सिर्फ मूक-दर्शक बनकर देख रहे थे. माला ने बताया कि वे लोग 2010 से इस इलाके में रह रहे हैं. सभी पड़ोसियों से अच्छे संबंध हैं, लेकिन कोई भी बचाने के लिए नहीं आया.

छेड़छाड़ के आरोपों की जाँच

वहीं, डीसीपी मोनिका भारद्वाज ने बताया कि पुलिस को कुत्ता भौंकने को लेकर हुए टकराव की सूचना मिली थी जिसके आधार पर बुराड़ी पुलिस ने कार्रवाई की है. अब पीड़ित परिजनों ने छेड़छाड़ की बात कही है. इसकी भी जाँच की जा रही है. शुक्रवार को मृत शरीर का पोस्टमॉर्टम कराया जाएगा.