झांसा दे कर महिला के साथ हुआ सामूहिक बलात्कार, इतने लोगों के खिलाफ दर्ज हुई प्राथमिकी

झांसा दे कर महिला के साथ  हुआ सामूहिक बलात्कार, इतने लोगों के खिलाफ दर्ज हुई प्राथमिकी

जींद (हरियाणा)। जिला पुलिस ने नौकरी दिलाने का झांसा देकर महिला के साथ सामूहिक बलात्कार करने के मामले में एक ठेकेदार सहित तीन लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। पुलिस को दी गई तहरीर में राजस्थान के सवाई माधेपुर जिला निवासी 20 वर्षीय युवती बताया है कि उसकी राजस्थान निवासी चरणसिंह मीना से जान पहचान थी,

जो जींद में पत्थर लगाने के काम ठेके पर लेता था। मीना युवती को काम दिलाने का वादा करके जींद ले आया और रेलवे स्टेशन के पास एक कमरा किराये पर दिला दिया। तहरीर के अनुसार, 18 दिसंबर को युवती का पति काम पर गया हुआ था। उसी बीच ठेकेदार चरण सिंह दो अन्य लोगों सोनू और शरीफ के साथ कमरे पर आए और उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया।

तीनों ने 20 दिसंबर को भी युवती के साथ सामूहिक बलात्कार किया और घटना के बारे में किसी को बताने पर बुरा अंजाम भुगतने की धमकी भी दी। तहरीर के अनुसार, पीड़िता अपने गांव लौटी और सवाई माधोपुर के गगनपुर थाने में तीनों के खिलाफ शिकायत दी। थाने ने इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज कर उसे जींद के संबंधित थाने को भेज दिया।

जींद के शहर थाना प्रभारी दिनेश कुमार ने बताया कि गगनपुर थाने से प्राप्त जीरो प्राथमिकी के आधार पर ठेकेदार सहित तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की जांच की जा रही है।


इतने साल की बच्ची के साथ हुआ दुष्कर्म , गार्ड हुआ गिरफ्तार

इतने  साल की बच्ची के साथ हुआ  दुष्कर्म , गार्ड  हुआ गिरफ्तार

विस्तार केंद्रशासित प्रदेश दादर और नगर हवेली, दमन और दीव के दमन जिले में एक सरकारी अस्पताल में 11 साल की लड़की से दुष्कर्म करने के आरोप में एक सुरक्षा गार्ड को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। दमन थाने के एक अधिकारी ने बताया कि बच्ची अपनी मां के साथ थी, जिसका अस्पताल में इलाज चल रहा था। यह घटना 11 जनवरी को मारवाड़ सरकारी अस्पताल में हुई थी। आरोपी ने कथित तौर पर लड़की को पानी देने के बहाने सुनसान कमरे में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया।

अधिकारी ने कहा कि अपराध के बारे में जानने के बाद एक पुलिस टीम अस्पताल पहुंची। सुरक्षा गार्ड फरार था, इसलिए हमने कई दलों का गठन किया और उसे बस अड्डे से तब पकड़ लिया जब वह कल रात जिले से भागने की कोशिश कर रहा था। उन्होंने बताया कि आरोपी की पहचान प्रशांत कुमार के रूप में हुई है जो बिहार का रहनेवाला है।

अधिकारी ने बताया कि आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376, 376 (ए) (बी) और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि स्थानीय अदालत ने आरोपी को पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है। आगे की जांच जारी है।