पुलिस का रौब दिखाकर करते थे लूट, हुए अरेस्ट

पुलिस का रौब दिखाकर करते थे लूट, हुए अरेस्ट

दिल्ली की वसंतकुंज थाना पुलिस ने लूट के मुद्दे का खुलासा करते हुए 9 अगस्त को दिल्ली पुलिस में कार्यरत तीन जवानों को हिरासत में लिया था. अरैस्ट जवानों में मोनू व अमित

मालवीय नगर थाने में जबकि संदीप स्पेशल सेल में तैनात थे. आरोपियों की लूट और अन्य कई मामलों में संलिप्तता सामने आने के बाद आला अधिकारियों ने उन्हें दिल्ली पुलिस से बर्खास्त कर दिया है. बुधवार को पुलिस मुख्यालय से महत्वपूर्ण कार्रवाई कर तीनों के विषय में उनसे जुड़े अधिकारियों को सूचना दे दी गई है.

ज्ञात हो कि 8 अगस्त को महिपालपुर के एक कारोबारी ने वसंतकुंज नॉर्थ थाने में अपने साथ बंधक बनाकर हुई लूट की शिकायत दी थी. पीड़ित कारोबारी नवीन सेहरावत ने बताया कि वह एक फर्म चलाते हैं व उसके निदेशक हैं. 8 अगस्त को वह अपने कर्मचारियों के साथ कार्यालय में कार्य में व्यस्त थे, तभी चार लोग मास्क लगाकर कार्यालय में पहुंचे व खुद को पुलिसकर्मी बताते हुए उन्हें पिस्तौल दिखाकर पैसा व अन्य सामान लूट कर ले गए. हालांकि, इस दौरान कार्यालय के कर्मचारियों ने जय कपूर नामक एक बदमाश को मौके पर ही पकड़ लिया था. जिसकी निशानदेही पर पुलिस ने लूट के सभी अन्य 7 आरोपियों को अरैस्ट कर लूट का माल बरामद कर लिया.

गिरफ्तार आरोपियों में तीनों पुलिसकर्मी संदीप कुमार, मनू कुमार व अमित कुमार शामिल थे. लूट की वारदात में तीनों का नाम सामने आने के बाद पुलिस आयुक्त ने तीनों आरोपियों को बुधवार शाम को पुलिस फोर्स से बर्खास्त कर दिया. 

पुलिस का रौब दिखा करते थे लूट 

वसंतकुंज नॉर्थ थाना पुलिस लूट की वारदात की जाँच कर रही थी, तभी इस जाँच के दौरान सामने आया कि तीनों पुलिस कर्मी इससे पहले भी लोगों को पुलिस का आईडी कार्ड दिखाकर उन्हें डराते थे व उसके बार-बार जबरन पैसा और अन्य सामान लूट लेते थे. आरोपियों ने कई कारोबारियों से पुलिस छापेमारी का भय दिखाकर जबरन वसूली की थी.