कानपुर : ईद के दिन 21 वर्षीय युवक की हुई गर्दन कटने से मृत्यु

कानपुर : ईद के दिन 21 वर्षीय युवक की हुई गर्दन कटने से मृत्यु

यूपी (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) जिले के अनवरगंज में एक 21 वर्षीय युवक की ईद के दिन गर्दन कटने से मृत्यु हो गई। बताया जा रहा है कि कुली मार्केट निवासी मीट कारोबारी

हाफिज रईस अहमद के 21 वर्षीय बेटे मोहम्मद जफर ने ईद पर बीते सोमवार की रात ब्लेड से अपनी गर्दन रेत ली, इससे उसकी मौके पर ही मौज हो गई। इसके बाद उसके घर में कोहराम मच गया चीख-पुकार व रोने की आवाजें जोर-जर से आने लगी। आनन-फानन में परिवार के मेम्बर उन्हें समीप के व्यक्तिगत नर्सिंग होम लेकर पहुंचे तो चिकित्सक ने भी मृत घोषित किया।

सूचना पाकर क्षेत्राधिकारी अनवर गंज सैफुद्दीन थाने की पुलिस भी अस्पताल पहुंच कर मृत शरीर को कब्जे में लिया। मृतक के चाचा मोहम्मद लईयक ने बताया कि उनका भतीजा बहुत ज्यादा समय से तनाव में था, जिसका उपचार भी चल रहा था, लेकिन सुधार नहीं हो पा रहा था। बीते सोमवार उसने अपने परिवार वालों के साथ बैठकर नमाज अदा भी की व सेवई भी खाई व बाहर टहल कराने की बात भी कही, जिस पर उसके परिजनों ने घूमने के लिए मना किया था व कहां कि वह घर के बाहर ही टहल सकता है। इसके बाद वो अपने घर के बाहरी टहलने लगा।

 तो मचा हंगामा
मृतक के चाचा के मुताबिक थोड़ी देर बाद जब घर लौटा तो घर में उपस्थित मेहमानों से बात करते करते हुए उठकर टॉयलेट की तरफ चला गया व बहुत ज्यादा देर तक बाथरूम में रहा। जब बाथरूम से बाहर नहीं निकला तो परिवार के सदस्यों को संदेह हुआ। उन्होंने खिड़की से झांक कर देखा तो उनके होश उड़ गए। जफर लहूलुहान हालत में बाथरूम में पड़ा था। इसके बाद भाई पिता परिवार के मेम्बर ने लोहे का दरवाजा तोड़कर उसे बाहर निकाला व करीब के ही अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसी दौरान किसी ने पुलिस को सूचना दे दी जिस पर पुलिस भी अस्पताल पहुंची।

जांच जारी
क्षेत्राधिकारी अनवरगंज सैफुद्दीन ने बताया की परिजनों के अनुसार युवक मानसिक रूप से बीमार था। बहुत ज्यादा दिनों से उसका उपचार भी चल रहा था, पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। जाँच के बाद ही ठीक जानकारी सामने आएगी कि आखिर युवक मानसिक रोग से पीड़ित था या नहीं। आखिर यह आत्महत्या या मर्डर यह जाँच का विषय है। क्योंकि मृतक के घर से व घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।