हरियाणा : बाइक का चालान काटने पर पुलिस चौकी पर हमला!

हरियाणा : बाइक का चालान काटने पर पुलिस चौकी पर हमला!

हरियाणा के पलवल जिले के हथीन थाना भीतर मिंडकोला चौकी पर शुक्रवार रात को कुछ अज्ञात युवकों के हमला कर दिया. हमले के दौरान लोगों ने पुलिस चौकी पर पथराव और फायरिंग की. इस पथराव में पांच पुलिस कर्मी घायल हो गए.

घायलों को अस्पताल में दाखिल करवाया गया है. हमले का कारण रात में पुलिस द्वारा की जा रही चेकिंग के दौरान बाइक पर घूम रहे युवकों को रोकना व बाइक का चालान काटना बताया गया है. आरोप है कि गांव मिंडकोला के पास शुक्रवार रात बाइक पर घूम रहे 15-20 युवकों को रोके जाने पर उन्होंने पुलिस चौकी पर हमला कर दिया व सभी हमलावर मौके से फरार हो गए. हमलावरों की पहचान नहीं हो सकी है.

कोरोना वायरस के मद्देनजर देशव्यापी लॉकडाउन के ​बीच यातायात के साधनों की कोई व्यवस्था न होने के चलते हरियाणा के गुरुग्राम, फरीदाबाद, पलवल, पानीपत, सोनीपत जैसे जिलों से पलायन कर रहे गरीब, मेहनतकश और प्रवासी लोग पैदल ही अपने घरों को जाने को विवश हैं.

लॉकडाउन के बाद एनसीआर के शहरों से प्रारम्भ हुआ लोगों के पलायन का सिललिसा शनिवार को भी जारी रहा. दिल्ली-बदरपुर बॉर्डर से बहुत ज्यादा लोग यूपी की तरफ जा रहे हैं. खास बात यह है कि अब पुलिस ही ऐसे लोगों को ट्रकों में भरकर भेजती दिख रही है.

बल्लभगढ़ नेशनल हाईवे पर तैनात पुलिस कर्मी पैदल जा रहे लोगों को व्यक्तिगत वाहनों में बैठाते हुए देखे गए. वहीं, गुरुग्राम के ऑल रेलवे रोड पर मध्य प्रदेश के रहने वाले मेहनतकश वर्ग के लोग बड़ी सख्या में पैदल ही अपने घरों की ओर निकल पड़े हैं.

बता दें कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए देशभर में लागू 21 दिनों के लॉकडाउन के बाद रोजी-रोटी की समस्या के चलते देशभर में मजदूरों का पलायन हो रहा है.दिल्ली, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ आदि जैसे कई प्रदेश हैं, जहां से लोग पैदल ही अपने गांव वापस जा रहे हैं. इसी बीच महाराष्ट्र व कर्नाटक में अपने घरों की ओर वापसी कर रहे कुछ लोग हादसे का शिकार हो गए. दो हादसों में दस लोगों की मृत्यु हो गई.

महाराष्ट्र के पालघर जिले के वसई तालुका में शनिवार को तेज गति से आ रहे टेंपो से कुचल कर चार लोगों की मृत्यु हो गई व तीन गंभीर रूप से घायल हो गए. ये सभी गुजरात से मुंबई पैदल जा रहे थे. हादसे के बाद पुलिस के एक ऑफिसर ने बताया कि यह एक्सीडेंट परोले गांव में तड़के तीन बजे हुई जब तेज गति से आ रहे एक टेंपो ने गुजरात से मुंबई पैदल जा रहे कुछ लोगों को कुचल दिया. हादसे में चार लोगों की मृत्यु हो गई व तीन गंभीर रूप से घायल हो गए.