UP: योगी सरकार जल्द कर सकते है सरकारी नौकरियों की घोषणा

UP: योगी सरकार जल्द कर सकते है सरकारी नौकरियों की घोषणा

लखनऊ उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) बहुत ज्यादा समीप हैं ऐसे में योगी सरकार (Yogi Government) जल्द ही सरकारी नौकरियों की घोषणा कर सकती है प्रदेश के सभी सरकारी विभागों के रिक्त पदों पर भर्ती करने की तैयारी है ने अपर मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिव और सचिवों को विभाग में खाली पदों का ब्यौरा (अधियाचन) भेजने का आदेश दिया है यह भी आदेश है कि यदि अफसरों को किसी तरह के हाई लेवल अनुमोदन की आवश्यकता हो तो तत्काल अनुमोदन लेकर ब्योरा भेजें

यूपी सरकार की अहमियत शासकीय कार्यों का त्वरित और समयबद्ध निस्तारण कराना है इसके लिए विभागों के खाली पदों को जल्द भरा जाना महत्वपूर्ण है ने भेजे आदेश में यह भी लिखा है कि शासन ने इस विषय में समय-समय पर आदेश भी दिए हैं उन्होंने विभागों को शासन स्तर, विभागाध्यक्ष, निदेशालय, मंडल और जिला स्तर पर रिक्त पदों को भरे जाने के लिए जल्द प्रक्रिया पूरा कराने के आदेश दिए हैं मुख्य सचिव ने यह भी लिखा है कि निकट भविष्य में जो कार्मिक सेवानिवृत्त हो रहे हैं उन रिक्त होने वाले पदों के लिए भी चयन की कार्यवाही पूरा करा ली जाए

राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष जेएन तिवारी ने सीएम योगी आदित्यनाथ, मुख्य सचिव और अपर मुख्य सचिव कार्मिक डा देवेश चतुर्वेदी का आभार जाहीर किया है बताया कि 28 अक्टूबर 2020 को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में प्रदेश कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रतिनिधिमंडल के साथ हुई मीटिंग में रिक्त पदों को तत्परता से भरने पर सहमति बनी थी 10 जुलाई 2021 को सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात के दौरान भी रिक्त पदों को भरने का आश्वासन मिला था


गढ़मुक्तेश्वर मेला को योगी सरकार की अनुमति, कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने के निर्देश

गढ़मुक्तेश्वर मेला को योगी सरकार की अनुमति, कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने के निर्देश

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस पर लगभग अंकुश लगा चुके सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कोरोना कर्फ्यू पूरी तरह से हटाने के बाद अब एक कदम और आगे बढ़ा दिया है। खुले मैदान में अब किसी तरह के आयोजन की कोई पाबंदी नहीं है। कार्तिक मास में दीपावली के बाद गढ़मुक्तेश्वर में करीब 15 दिन तक मेला लगता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में लगने वाले एक बड़े मेले के आयोजन को अनुमति प्रदान कर दी है। उन्होंने हापुड़ में लगने वाले गढ़मुक्तेश्वर मेले के आयोजन को अनुमति दी है। इसके साथ ही निर्देश भी दिया है कि वहां पर सभी स्थान पर कोविड प्रोटोकॉल के साथ भव्य रूप से मेले का आयोजन हो।


अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि कार्तिक मास में बीते दो वर्ष से प्रदेश के हापुड़ जनपद के गढ़मुक्तेश्वर के खादर में लगने वाला कार्तिक मेला स्थगित था। इस बार मुख्यमंत्री योगी ने ऐतिहासिक मेले के आयोजन के लिए निर्णय लिया है। मेले के आयोजन को लेकर अब शासनादेश जारी हो गया है। ऐसे में इस बाद दिवगंत परिजनों के दीपदान के लिए लोग खादर में पहुंच सकते हैं।

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि कोरोना संक्रमण से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को निरन्तर सुदृढ़ बनाए रखे जाने व कोविड नियमों के तहत सभी पर्व एवं त्योहारों को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के निर्देश दिए हैं।


हापुड़ जिले के गढ़मुक्तेश्वर में कार्तिक पूर्णिमा पर लगने वाले मेले में कई राज्यों से लाखों श्रद्धालु पहुंचते हैं। यहां लोग अपने पुरखों की आत्मा की शांति के लिए दीपदान करते हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम-09 के साथ बुधवार को समीक्षा बैठक के बाद प्रदेश के सभी जिलों में कन्टेंमेंट जोन के बाहर रात का कर्फ्यू समाप्त करने का आदेश दिया था। कोविड प्रोटोकाल के अनुपालन की शर्त के अनुसार रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक लागू करने के आदेश थे।