उत्तर प्रदेश में मानसून की चाल बदली सिर्फ तीन जिलों में हुई बारिश

उत्तर प्रदेश में मानसून की चाल बदली सिर्फ तीन जिलों में हुई बारिश

मानसून की चाल बदलने से पूरा राज्य बरसात के लिए तरस रहा है. पिछले 24 घंटे में दो या तीन जिलों में ही बूंदाबांदी हुई. बाकी जिलों में कहीं बदली छाई रही तो कहीं धूप खिली रही. पूरे राज्य में उमस बरकरार है. मौसम विभाग बता रहा है कि अभी तीन-चार दिन ऐसा ही मौसम रहेगा. 9-10 जुलाई से बरसात के आसार हैं. अमूमन मानसून इस समय उत्तर हिंदुस्तान के राज्यों से होकर गुजरता है. इससे पूरे यूपी में जोरदार बरसात होती है. पर अभी मानसून मध्य हिंदुस्तान की तरफ से आगे बढ़ रहा है.

इससे ओडिशा, मध्य प्रदेश, झारखंड आदि स्थानों पर अच्छी बरसात हो रही है. मौसम विभाग निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि मानसून एक्टिव है. वह बात अलग है कि उस मूवमेंट दूसरी दिशा से है. लखनऊ मौसम विभाग को जिन 33 जिलों की रिपोर्ट मिली है, उसमें पिछले 12 घंटों में केवल झांसी मे 12 मिलीमीटर, मेरठ में नौ मिली मीटर वर्षा रिकॉर्ड की गई. वाराणसी में केवल बूंदाबांदी हुई.

मिर्जापुर में आकाशीय बिजली से तीन की मौत, तीन झुलसे
मंगलवार दोपहर में बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से किशोरी समेत तीन लोगों की मृत्यु हो गई. जबकि तीन बच्चे झुलस गए. झुलसे बच्चों को मंडलीय हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है. जानकारी के मुताबिक फूलकुमारी (25 वर्ष), उसका बेटा मुन्ना (8 वर्ष), रोहित (14 वर्ष), ममता (12 वर्ष), ईश्वर (10 वर्ष), अनूप (12 वर्ष) मवेशी लेकर घर से कुछ दूर सीवान पर गए थे. दोपहर लगभग डेढ़ बजे अचानक बारिश होने लगी. बारिश से बचने के लिए सभी नीम के पेड़ नीचे खड़े हो गए. उसी दौरान तेज गरज चमक के साथ गिरी बिजली की चपेट में आने से पेड़ के नीचे खड़ी स्त्री और सभी बच्चे झुलस. सूचना पर पहुंचे परिजनों ने सभी को मंडलीय हॉस्पिटल पहुंचाया. जहां डाक्टरों ने फूलकुमारी, ममता और रोहित को मृत घोषित कर दिया. जबकि झुलसे अन्य तीन बच्चों को भर्ती कर दिया.