सीएम योगी के निर्देश पर गोरखपुर में खुलेंगे मोहल्ला क्लीनिक, 23 वार्डों में चिह्नित हुई जमीन

सीएम योगी के निर्देश पर गोरखपुर में खुलेंगे मोहल्ला क्लीनिक, 23 वार्डों में चिह्नित हुई जमीन

 सीएम योगी के ड्रीम प्रोजेक्ट मोहल्ला क्लीनिक पर नगर निगम ने तेजी से काम शुरू कर दिया है। शहर के 23 वार्डों में मोहल्ला क्लीनिक के लिए जमीन चिह्नित कर ली गई है। नगर निगम प्रशासन ने इसकी जानकारी डीएम कार्यालय को भेज दी है। स्वास्थ्य विभाग क्लीनिक बनाएगा और स्वास्थ्यकर्मियों की व्यवस्था करेगा।

मुख्यमंत्री ने दिए थे जमीन की तलाश के निर्देश, स्वास्थ्य विभाग करेगा क्लीनिक का निर्माण

नागरिकों को उनके घर के पास इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री ने मोहल्ला क्लीनिक खोलने के निर्देश दिए थे। कहा था कि वार्डों में नगर निगम की खाली पड़ी जमीन पर क्लीनिक खोली जाए। इससे बुजुर्गों, महिलाओं और बच्चों को काफी फायदा मिलेगा। इसके बाद महापौर सीताराम जायसवाल ने उन पार्षदों से प्रस्ताव मांगे जिनके वार्ड में नगरीय स्वास्थ्य केंद्र न हों।

यहां हैं नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र

शिवपुर सहबाजगंज, अंधियारीबाग, जाफरा बाजार, तुर्कमानपुर, बेतियाहाता, हुमायूंपुर, गोरखनाथ, निजामपुर, बसंतपुर, छोटे काजीपुर, दीवान बाजार, पुर्दिलपुर, नथमलपुर, जटेपुर, सिविल लाइंस, रामपुर रामगढ, झरना टोला, इस्लामचक, शाहपुर, तारामंडल, मोहद्दीपुर, इलाहीबाग, बिछिया

यहां चिह्नित की गई जमीन

वार्ड नंबर वार्ड स्थान

4 मानबेला झुंगिया गेट शौचालय के पास

6 चरगांवा चरगांवा

11 हुमांयूपुर उत्तरी मूक बधिर विद्यालय के पास

13 शिवपुर सहबाजगंज रामलीला मैदान

18 जंगल तुलसीराम बिछिया जंगल तुलसीराम बिछिया पूर्वी

26 नरसिंहपुर भरपुरवा शौचालय के पास

31 कृष्णानगर कृष्णा नगर धोबी गली

37 शक्तिनगर शक्तिनगर

38 दिलेजाकपुर दिलेजाकपुर

40 दीवान बाजार डीबी इंटर कालेज के पीछे

41 कल्याणपुर वीर अब्दुल हमीद पार्क

44 उर्वरक नगर कोइलहवां चौराहा

45 इलाहीबाग इलाहीबाग चौराहा

47 रायगंज खुर्रमपुर शौचालय के पास

48 सूर्यकुंड धाम नगर अनारकली साड़ी सेंटर के पास

49 जाफरा बाजार सब्जी मंडी में

50 विकासनगर विकासनगर

51 इस्माइलपुर सुलभ शौचालय के पास

53 काजीपुर खुर्द जगरनाथपुर

61 अलीनगर कुर्मियाना टोला

67 शेषपुर कौवादह शौचालय के पास

68 पुराना गोरखपुर वजीराबाद, नथमलपुर

70 जंगल नकहा नंबर एक जीडीए की जमीन

यह सुविधाएं मिलेंगी

नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की तरह मोहल्ला क्लीनिकों में भी सुविधा दी जाएगी। यहां मरीज का परीक्षण, परामर्श, निश्शुल्क दवा, टीकाकरण, कुछ क्लीनिकों में प्रसव की सुविधा दी जाएगी। खून और यूरिन की जांच की भी सुविधा मिलेगी।

मोहल्ला क्लीनिक मुख्यमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट है। जमीन चिह्नित कर ली गई है। स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के साथ बैठक कर काम शुरू कराने के लिए कहा जाएगा। - सीताराम जायसवाल, महापौर।

मोहल्ला क्लीनिक के लिए चिह्नित जमीन का जल्द सर्वे कराया जाएगा। नागरिकों को उनके घर के पास स्वास्थ्य सुविधा मिल जाएगी। जहां कम जगह होगी वहां मल्टीस्टोरी भवन बनवाया जाएगा। - डा. सुधाकर पांडेय, सीएमओ।


पूर्व CM कल्याण सिंह की हालत नाजुक, हाल जानने PGI पहुंचीं उमा भारती

पूर्व CM कल्याण सिंह की हालत नाजुक, हाल जानने PGI पहुंचीं उमा भारती

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह के स्‍वास्‍थ्‍य की स्थिति बेहद नाजुक बनी हुई है। लखनऊ के संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआइ) से मिली जानकारी के अनुसार क्रिटिकल केयर मेडिसिन के गहन चिकित्सा कक्ष (आइसीयू) में विशेषज्ञ चिकित्सकों की देखरेख में उनका उपचार चल रहा है। उनके गुर्दे तीन दिन से ठीक तरह से काम नहीं कर रहे हैं। डॉक्टरों ने डायलिसिस शुरू कर दी है। बुधवार को मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री व वरिष्ठ भाजपा नेता उमा भारती ने अस्पताल पहुंचकर कल्याण सिंह का हालचाल लिया। उमा भारती ने डॉक्टरों और परिवारीजन से उनके स्वास्थ्य के बारे में बातचीत भी की।

लखनऊ संजय गांधी पीजीआइ में भर्ती चल रहे पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह को देखने के लिए बुधवार को भाजपा नेता उमा भारती भी पहुंचीं। वहां पहुंचकर उन्होंने डॉक्टरों से कल्याण सिंह की सेहत का हालचाल जाना। हालांकि इस दौरान कल्याण सिंह अचेत अवस्था में रहे। उमा भारती ने एसजीपीजीआइ के डॉक्टरों और पूर्व सीएम के परिवारजन से मुलाकात कर उनकी तबीयत के बारे में अपडेट लिया। डॉक्टरों के अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री की हालत लगातार चिंताजनक और नाजुक बनी हुई है। इससे पहले मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कल्याण सिंह का हाल लिया। उनके स्वास्थ्य की स्थिति के बारे में जानकारी ली।


पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की किडनी की कार्य शक्ति काफी कम हो गई है। इस कारण उनकी लगातार डायलिसिस की जा रही है। स्वास्थ्य स्थिति अभी भी नाजुक बनी हुई है। वह लाइफ सेविंग सपोर्ट सिस्टम पर हैं। वह लगातार डायलिसिस पर हैं। विशेषज्ञ सलाहकारों द्वारा उनके नैदानिक मापदंडों की बारीकी से निगरानी की जा रही है। सीसीएम कार्डियोलॉजी, नेफ्रोलाजी, न्यूरोलॉजी और एंडोक्रिनोलॉजी उनके स्वास्थ्य से जुड़े तमाम पहलुओं पर कड़ी नजर रखे हुए हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह को तीन जुलाई के देर रात लखनऊ के डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया था, जहां से हालत गंभीर होने के बाद चार जुलाई की शाम संजय गांधी पीजीआइ में शिफ्ट किया गया। उनको पीजीआइ के सीसीएम (क्रिटिकल केयर मेडिसिन) डिपार्टमेंट के आइसीयू (इंटेंसिव केयर यूनिट) में भर्ती किया गया है। कल्याण सिंह का हालचाल लेने के लिए लगातार पार्टी के वरिष्ठ नेता पहुंच रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उनके इलाज की लगातार निगरानी कर रहे हैं।