अखिलेश पर संजय निषाद का तंज, जो अपना परिवार नहीं संभाल पाया, वह प्रदेश क्या संभालेगा

अखिलेश पर संजय निषाद का तंज, जो अपना परिवार नहीं संभाल पाया, वह प्रदेश क्या संभालेगा

उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए सियासी हलचल बढ़ने लगी है। सत्तारूढ़ भाजपा हो या फिर मुख्य विपक्षी पार्टी समाजवादी पार्टी, सभी अपने गठबंधन को मजबूत करने की कोशिश में जुट गए हैं। दोनों ओर से छोटे-छोटे दलों को अपने गठबंधन में शामिल करने की कवायद लगातार जारी है। इन सबके बीच राष्ट्रीय निषाद पार्टी के अध्यक्ष डॉक्टर संजय निषाद ने अखिलेश यादव पर जबरदस्त तंज कसा है। अखिलेश पर तंज कसते हुए निषाद ने कहा कि सत्ता में रहते हुए जो अपने परिवार को नहीं संभाल पाया, वह प्रदेश क्या संभालेगा। आपको बता दें कि संजय निषाद भाजपा के साथ गठबंधन में हैं। वह लगातार विभिन्न क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं।

इन सबके बीच संजय निषाद देवरिया के रुद्रपुर पहुंचे उन्होंने निषादों की सभा को संबोधित भी किया। उन्होंने कहा कि रुद्रपुर में निषाद समाज के लोग ज्यादा हैं। ऐसे में उनकी पार्टी रुद्रपुर से चुनाव लड़ेगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हमने भाजपा से 70 सीटों की मांग की है। फिलहाल रुद्रपुर से भाजपा के जय प्रकाश निषाद विधायक हैं और योगी सरकार में पशुधन और मत्स्य राज्य मंत्री हैं। गौरतलब है कि भाजपा संजय निषाद के बीच अब तक सीट को लेकर कोई बात नहीं बन पाई है। हाल में ही पार्टी अध्यक्ष गोरखपुर दौरे पर गए थे जहां संजय निषाद से उनकी मुलाकात हुई थी। इस दौरान योगी आदित्यनाथ और प्रदेश संगठन मंत्री सुनील बंसल भी मौजूद रहे। 

विवादित बयान

इससे पहले निषाद उस समय विवादों में आ गए थे जब उन्होंने दावा किया था कि भगवान राम राजा दशरथ के नहीं बल्कि श्रृंगी ऋषि निषाद के पुत्र थे। इसके बाद विपक्ष ने इस बयान पर भाजपा से रुख स्पष्ट करने की मांग की थी। निषाद ने कहा था, ‘‘ऐसा कहा जाता है कि भगवान राम का जन्म उनकी मां को खीर खिलाने के बाद हुआ। वास्तव में ऐसा नहीं होता। इसलिये कहा जाता है कि राम दशरथ के तथाकथित पुत्र हैं और असल में वह श्रृंगी ऋषि निषाद के पुत्र थे।’’ 


पेट्रोल-डीजल के दाम में बड़ी राहत! जानें UP के शहरों में क्या है तेल का भाव

पेट्रोल-डीजल के दाम में बड़ी राहत! जानें UP के शहरों में क्या है तेल का भाव

भारतीय पेट्रोलियम कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के बुधवार,1 दिसंबर के नए रेट जारी कर दिए हैं. प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आज पेट्रोल के दाम 95.28 रुपए प्रति लीटर दर्ज किए गये हैं, जबकि डीजल के दाम 86.80 रुपए प्रति लीटर दर्ज किए गए हैं. आज 27वां दिन है, जब तेल के दामों में कोई बढ़ोतरी या बदलाव नहीं किया गया है, जोकि किसान और मध्यम वर्ग के लिए राहत भरी खबर है.

नोएडा में पेट्रोल-डीजल का रेट

प्रदेश की हाईटेक सिटी नोएडा में भी तेल के दामों में हल्का बदलाव देखा गया. नोएडा में प्रति लीटर पेट्रोल की कीमत 95.51 रुपए दर्ज की गई, जबकि डीजल के दाम 87.01 रुपए प्रति लीटर दर्ज किए गए हैं. हालांकि, राहत की बात ये है कि आज भी पेट्रोल के दामों में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

गिर सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के कारण अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल के दाम में गिरावट दर्ज की गई है. अगर गिरावट का सिलसिला ऐसे ही जारी रहा तो आने वाले दिनों में पेट्रोल-डीजल के दाम 5 रु तक सस्ते हो सकते हैं.

जानें अपने शहर में तेल के ताजा भाव

अगर आप बिना पेट्रोल पंप जाए ही पेट्रोल डीजल के ताजा रेट जानना चाहते हैं, तो ये बहुत ही आसान प्रक्रिया है. दरअसल, एसएमएस द्वारा अपने शहर में तेल की कीमत का आसानी से जान सकते हैं. इसके लिए इंडियन ऑयल के ग्राहक RSP लिखकर 9224992249 नंबर पर और बीपीसीएल उपभोक्ता RSP लिखकर 9223112222 नंबर और एचपीसीएल उपभोक्ता HPPrice लिखकर 9222201122 नंबर पर मैसेज भेजकर आसानी से जानकारी उपलब्धकर सकते हैं.

कैसे तय होती है तेल की कीमत?

दरअसल, देश में हर दिन के पेट्रोल और डीजल के दाम अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल की कीमत और विदेशी मुद्रा दरों के आधार पर तय होते हैं. इन्हें हर दिन सुबह 6 बजे इसी के आधार पर अपडेट किया जाता है. ऑयल मार्केटिंग कंपनियां क्रूड ऑयल की कीमतों की समीक्षा के बाद नए रेट तय करती हैं. हिंदुस्तान पेट्रोलियम, इंडियन ऑयल और भारत पेट्रोलियम कंपनियां रोज सुबह विभिन्न शहरों में तेल के दाम अपडेट करती हैं, जिसके बाद ही तेल के दामों में बढ़ोतरी और गिरावट का पता चलता है.