सीसीएसयू में किया है 8570 छात्र-छात्राओं ने ही आवेदन, जाने कारण

 सीसीएसयू में किया है 8570 छात्र-छात्राओं ने ही आवेदन, जाने कारण

जिस तरह से प्रदेश में रोजाना कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं, उसको देखते हुए राज्य सरकार सभी विश्वविद्यालयों में एंट्रेंस के बजाय मेरिट से ही एडमिशन करा सकती है। सीसीएसयू (चौधरी चरण सिंह

विश्वविद्यालय) में भी पांच कोर्सों में एडमिशन एंट्रेंस के जरिए होते हैं। अभी तक इन विषयों में सिर्फ 8570 छात्र-छात्राओं ने ही आवेदन किया है, लेकिन अगर गाइडलाइन जारी हुई तो सभी को इसका पालन करना होगा।

सीसीएसयू कैंपस और कॉलेजों में एलएलएम, एमफिल, एमएड, एमपीएड और बीपीएड में एडमिशन एंट्रेंस के जरिए होते हैं। इसके लिए ऑनलाइन आवेदन विवि की वेबसाइट पर किए जा रहे हैं। आवेदन करने की अंतिम तिथि 20 जुलाई है। एमफिल में 22 विषयों में आवेदन किए जा रहे हैं। रविवार शाम तक एमपीएड में 293, बीपीएड में 524, एलएलएम में 1287 और एमएड में 875 आवेदन हो गए। एमफिल के सभी विषयों में पांच हजार के करीब रजिस्ट्रेशन हुए हैं। विवि प्रशासन ने अभी एंट्रेंस की तिथि घोषित नहीं की है। 20 जुलाई को आवेदन की अंतिम तिथि के बाद ही इस पर फैसला लिया जाएगा। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए शनिवार को उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा है कि अगर हालात नहीं संभले तो विश्वविद्यालयों में एंट्रेंस की बजाय मेरिट से ही एडमिशन कराए जा सकते हैं।

स्नातक में हुए अब तक 4600 रजिस्ट्रेशन
कैंपस और कॉलेजों में स्नातक में एडमिशन के लिए रविवार शाम तक 4600 रजिस्ट्रेशन हुए हैं। इनमें बीए, बीएससी-बीकॉम, बीएससी, बीए-एलएलबी, बीकॉम-एलएलबी, बीबीए, बीसीए, बीएससी ज्वैलरी डिजाइन, बीएससी होम साइंस और बीएससी एजी समेत 23 कोर्स शामिल हैं। यूपी बोर्ड में इस साल पास होने वाले छात्र-छात्राओं के लिए अभी फार्म शुरू नहीं किए गए हैं। सीसीएसयू के अधिकारियों का कहना है कि यूपी बोर्ड से डाटा मिलने में समय लग रहा है। ऐसे में 16 जुलाई के बाद ही इस बार पास हुए छात्र-छात्राएं फार्म भर पाएंगे।