गोरखपुर विश्वविद्यालय के चार विद्यार्थी करेंगे देश का प्रतिनिधित्व

गोरखपुर विश्वविद्यालय के चार विद्यार्थी करेंगे देश का प्रतिनिधित्व
दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के चार विद्यार्थियों का चयन इंटरनेशनल यूथ मैथमेटिक्स चैलेंज (आईवाईएमसी)-2020 के अंतिम चरण के लिए हुआ है। इन विद्यार्थियों में एमएससी (गणित) की सुजाता सिंह, शिवम वर्मा तथा बीएससी (गणित) द्वितीय वर्ष की निकिता गुप्ता और राहुल कुमार चौहान शामिल हैं। ये विद्यार्थी अपने मेंटर व गणित एवं सांख्यिकी विभाग के सहायक आचार्य डॉ. राजेश कुमार के निर्देशन में दिसंबर में होने वाले स्पर्धा में देश का प्रतिनिधित्व करेंगे।
इंटरनेशनल यूथ मैथ चैलेंज विश्व भर के छात्रों के लिए सबसे बड़ी ऑनलाइन गणित की प्रतियोगिता है। गणित में रुझान रखने वाले छात्रों को यह सक्षम बनाता है ताकि वे अपने कौशल का प्रदर्शन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कर सकें। यह प्रतियोगिता तीन चरणों में होती है। पहला चरण क्वालिफिकेशन, दूसरा प्री फाइनल और तीसरा फाइनल राउंड का होता है।
डॉ. राजेश कुमार ने बताया की अंतिम चरण में चयनित विद्यार्थियों को राजदूत (एंबेसडर) के रूप में भी चुना जाता है। गणित एवं सांख्यिकी विभाग के अध्यक्ष प्रो. वीएस वर्मा ने कहा कि इन छात्रों ने विभाग एवं  विश्वविद्यालय का मान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ाया है। कुलपति प्रो. राजेश सिंह ने चारों मेधावियों के इस सफलता पर बधाई दी और उनके बेहतरीन भविष्य की कामना की है।

UP में अब दो दिन ही होगा काम, लगेगी सेकेण्ड डोज

UP में अब दो दिन ही होगा काम, लगेगी सेकेण्ड डोज

लखनऊ: प्रदेश में शुरू हुए कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर आज राज्य सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया। फैसले में कहा गया है कि प्रदेश में कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य अब सप्ताह में दो दिन गुरुवार एवं शुक्रवार को ही किया जाएगा । पहले चरण के वैक्सीनेशन के तहत अगले तीन सप्ताह में सभी हेल्थ वर्कर्स का कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य पूरा कर लिया जाएगा । 15 फरवरी से पहले चरण में वैक्सीनेट लोगों को कोरोना वैक्सीन की सेकेण्ड डोज देने का काम शुरू किया जाएगा।

कोरोना वैक्सीनेशन के द्वितीय चरण की तैयारी
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोरोना की वैक्सीन आ जाने के बाद भी हमें कोविड-19 के प्रति सतर्कता बरतनी होगी। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के वैक्सीनेशन कार्य को केंद्र सरकार की गाइडलाइन्स तथा क्रम के अनुरूप संचालित किया जाए। उन्होंने कोरोना वैक्सीनेशन के द्वितीय चरण के अभियान की सभी तैयारियां समय पर सुनिश्चित करने है ।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोविड-19 के प्रसार को रोकने में कोविड टेस्ट की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने कहा कि सर्विलांस सिस्टम तथा कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग का कार्य प्रभावी ढंग से जारी रखा जाए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि प्रतिदिन कोविड-19 के कम से कम 1.50 लाख टेस्ट अवश्य किए जाएं।

कोरोना के प्रति लोगों को सतत जागरूक करने के निर्देश
मुख्यमंत्री ने कहा कि आरोग्य मेलों में एन्टीजन टेस्ट की पर्याप्त व्यवस्था करने के साथ ही आरोग्य मेलों में आयुष्मान भारत योजना तथा मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान के सम्बन्ध में लोगों को जानकारी प्रदान की जाए तथा पात्र लाभार्थियों को इन योजनाओं के गोल्डन कार्ड भी वितरित किए जाएं। उन्होंने कहा कि कोरोना के प्रति लोगों को सतत जागरूक किया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड चिकित्सालयों में सभी आवश्यक दवाओं, मेडिकल उपकरणों तथा बैकअप सहित ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता बनाए रखी जाए। सभी सरकारी तथा निजी अस्पतालों में फायर सेफ्टी के सम्बन्ध में जरूरी प्रबन्ध सुनिश्चित किए जाएं। उन्होंने ‘102’ तथा ‘108’ एम्बुलेंस सेवाओं का सुचारु और प्रभावी संचालन सुनिश्चित करने तथा जरूतमंदों को एक निश्चित समय में एम्बुलेंस सेवा उपलब्ध करने को कहा है।


वजन कम करना चाहते है और साथ ही बीमारियों से महफूज रहना चाहते है तो गर्म पानी पीएं       आंखों की रोशनी बढ़ाने के साथ ही कई बीमारियों का उपचार भी करता है शहद       ठंड और प्रदूषण का डबल अटैक बच्चों के लिए बन सकता है खतरा       जानिए, दूध के साथ किन चीजों को खाने से करना चाहिए परहेज, नहीं तो गड़बड़ी की रहती है आशंका       रोजाना सिर्फ 5 मिनट करें ये 3 काम, पेट की चर्बी हो जाएगी गायब!       नींबू को लंबे समय तक स्टोर करके फ्रेश रखना चाहते है तो इन आसान उपायों को अपनाएं       कब्ज से हैं परेशान, तो रोजाना करें ये योगासन       कोरोना काल में फ्लू हो जाने पर इन बातों का रखें ख्याल       पाना चाहते हैं तेज दिमाग, तो सप्ताह में इतने अंडे खाएं       सेहत और फिटनेस के लिहाज से मक्खन या चीज़ में से क्या खाना है ज्यादा बेहतर?       दिमाग में कैसे जमा होती है याददाश्त? वैज्ञानिकों ने खोला राज़       वजन को कंट्रोल करने के साथ ही मुंह को फ्रेश भी रखती है सौंफ, जानिए फायदे       अर्थराइटिस से पीड़ित है तो सबसे पहले अपनी डाइट को दुरुस्त करें       लंबी उम्र के लिए वैज्ञानिकों ने खोजा खास प्रोटीन, जानिए इस प्रोटीन के स्रोत       जोड़ों में होने वाले हल्के दर्द को भी न करें इग्नोर, हो सकता है आर्थराइटिस का संकेत       जानें, सप्ताह में कितनी बार और कैसे ब्लड शुगर जांच करें       क्या काढ़ा और खुद से इलाज करना, कोविड-19 से लड़ने में कर सकते हैं आपकी मदद       इस योग को करने से महज 30 दिनों में मोटापे से मिल सकता है छुटकारा       तनाव और चिंता दूर करने के साथ सुकून भरी नींद के लिए घर में जरूर लगाएं ये पौधे       आंत के कैंसर की संभावनाओं को काफी हद तक कम करते हैं ये फूड आइटम्स