मनचलो की अब नहीं होगी खैर, होगी इनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई

 मनचलो की अब नहीं होगी खैर, होगी इनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में स्कूल-कॉलेज जाने वाली छात्राओं के साथ छेड़छाड़ और तुगलकी फरमान सुनाने का मुद्दा प्रकाश में आया है. दावा किया जा रहा है कि मनचले 'बुर्के में रहो, नहीं तो स्कूल जाना कर देंगे बंद' कहकर छात्राओं को आतंकित करते हैं. मुद्दे में डीएम ने जाँच के दिए हैं व क्षेत्रवासियों से बोला है कि वे बिना किसी भय व दबाव के लड़कियों को कॉलेज भेजें.

बुलंदशहर के एनआरईसी कॉलेज तथा एकेपी डिग्री कॉलेज में बड़ी संख्या में लड़कियां पढ़ने के लिए आती हैं. बताया जा रहा है कि कुछ मनचले कॉलेज तक उनका पीछा करते हैं. आरोप है कि छात्राओं के पहनावे को लेकर भी उनके साथ अभद्रता की जाती है. छात्राओं ने ज्वाइंट मजिस्ट्रेट, एसडीएम से यह भी शिकायत की है कि बुर्का पहनकर स्कूल जाया करो, नहीं तो स्कूल जाना बंद करा देंगे. इस मुद्दे में कुछ छात्राओं ने ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ईशा प्रिया से भेंटकर मनचलों की हरकत की शिकायत की.

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ईशा प्रिया तथा खुर्जा कोतवाली इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार सिंह ने सराय मुर्तजा में लोकल लोगों के साथ मीटिंग की. इसमें उन्होंने लोगों से बिना किसी भय के अपने बच्चों को स्कूल-कॉलेज भेजने को कहा.  साथ ही लड़कियों के पहनावे को लेकर टिप्पणी करने व स्कूल जाने से रोकने वाले आरोपियों पर कठोर कार्रवाई की बात कही. 

मामला संज्ञान में आया है. ज्वाइंट मजिस्ट्रेट खुर्जा मुद्दे की जाँच कर रही है. जो भी ऐसी हरकत करेगा उसके विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी. -रविन्द्र कुमार, डीएम 

छात्राओं ने मौखिक शिकायत करके बताया कि उन्हें मनचले छेड़ते हैं. इसके बाद मोहल्ले में 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' पर लोगों को जागरूक किया. आरोपियों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी. -ईशा प्रिया, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट, खुर्जा