सड़क सुरक्षा माह का आगाजः सीएम योगी ने कहा कि दुर्घटनाओं की कीमत चुकाता है परिवार

सड़क सुरक्षा माह का आगाजः सीएम योगी ने कहा कि दुर्घटनाओं की कीमत चुकाता है परिवार

लखनऊ: सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सड़क दुर्घटना का कारण हाई स्पीड भी बनता है। शराब पीकर गाड़ी चलाना या अनावश्यक रास्ते मे मोबाइल चेक करते समय होने वाली दुर्घटनाओं से परिवारों, समाज को बड़ी कीमत चुकाना पड़ती है। अक्सर देखा जाता है शराब पीकर लोग गाड़ी चलाते हैं। इसके लिए परिवहन विभाग अभियान भी चलाता है। पर जनजागरूकता के आभाव में अक्सर दुर्घटनाएं होती रहती हैं।

सड़क सुरक्षा हमारे लिए कितनी महत्वपूर्ण है
यह बात आज उन्होंने सड़क सुरक्षा माह और परिवहन विभाग की परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास कार्यक्रम करते हुए कही। परिवहन विभाग की 55 करोड़ से अधिक परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास के कार्यक्रम के दौरान योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सड़क सुरक्षा हमारे लिए कितनी महत्वपूर्ण है। सड़क दुर्घटनाओं से होने वाली मौतें रोकी जा सकती हैं। बस थोड़ी सी सावधानी बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि इसमे परिवहन,स्वास्थ्य,स्कूल कॉलेज सभी शामिल होंगे,इसके लिए जागरूकता कार्यक्रम करना होंगे। सड़क दुर्घटनाओं के लिए जो कारक हैं।


उसके लिए हमने पिछले साढ़े 3 वर्षों में कई कदम उठाए हैं। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले तीन सालों के आंकड़ों में काफी अंतर दिखाई पड़ा है,लेकिन काफी काम करने हैं। गाड़ी चलाने योग्य लाइसेंस को देखने की जिम्मेदारी परिवहन विभाग की है। एक माह तक चलने वाला ये अभियान सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के सम्बंध में काफी मदद मिलेगी। 20 फरवरी तक हर जिले में अनवरत प्रदेश में कार्यक्रम आयोजित होंगे।

योगी ने कहा कि इस कार्यक्रम के लिए पूरे प्रदेश में हर जिले में जिलाधिकारी इसका नोडल अधिकारी होगा। स्कूल कॉलेज में जाकर सड़क नियमो के लिए कार्यक्रम आयोजित करना होगा।

केंद्र सरकार दुर्घटनाओं को रोकने के लिए काफी सक्रिय है
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार दुर्घटनाओं को रोकने के लिए काफी सक्रिय है, उच्चतम न्यायालय भी सड़क दुर्घटनाओं के लिए काफी जागरूक है। योगी ने कहा कि कि अगले एक माह तक इस कार्यक्रम को करने की जिम्मेदारी जिन जिन विभागों का दायित्व है,वो पूरी ईमानदारी निष्ठा से करें। एक माह बाद 20 फरवरी को कार्यक्रम पूरा होगा तो इसके बाद हम विभागों की समीक्षा करेंगे। एक हफ्ते के जागरूकता के बाद नियमों के उल्लंघन करने के बाद एक्ट के तहत कड़ी कार्रवाई करेंगे।

उन्होंने कहा कि परिवहन विभाग के ये जो भी योजनाएं है,उनका जनता इस्तेमाल करेगी। परिवहन विभाग कोरोना, लॉक डाउन के समय चाहे अप्रवासियों को गन्तव्य तक पहुंचाना हो,या कोटा या अन्य जगहों से विद्यार्थियों को लाना हो अभूतपूर्व कार्य किया है।

सीएम ने सड़क सुरक्षा के लिए शपथ दिलाई
उन्होंने कहा कि ”हम प्रतिज्ञा करते हैं कि हम सड़क सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए अपनी ओर से पूरा प्रयास करेंगे,तथा दोपहिया वाहन चलाते समय हमेशा हेलमेट पहनेंगे,कभी कभी शराब पीकर गाड़ी नही चलाएंगे,कार चलाते समय हमेशा सीट बेल्ट पहनेंगे, वाहन चलाते समय कभी कभी भी मोबाइल फोन पर बात नही करेंगे,तथा न कोई मैसेज भेजेंगे और न ही देखेंगे, हमेशा ट्रैफिक नियमो का पालन करेंगे,तथा अपने परिजनों से पालन कराएंगे,सड़क दुर्घटना पीड़ितों की मदद करने हेतु सदैव तत्पर रहेंगे।”


यूपी के मंत्री को सजा! देर से पहुंचे मीटिंग में, फिर सीट पर...

यूपी के मंत्री को सजा! देर से पहुंचे मीटिंग में, फिर सीट पर...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा में 18 फरवरी यानी आज से बजट सत्र शुरु होने वाला है। उससे पहले बुधवार को दोपहर में बजट सत्र के एजेंडे पर चर्चा करने के लिए विधानसभा अध्यक्ष ने सर्वदलीय बैठक बुलाई। ये बैठक तकरीबन एक घंटे तक चली, लेकिन इस बैठक में कुछ ऐसा हुआ कि बजट पर चर्चा से ज्यादा इस बात की चर्चा रही है कि आखिर मीटिंग के भीतर क्या हुआ?

सीट पर खड़े होने की मिली सजा
खबर मिली है कि विधानमंडल दल की बैठक में कुछ बीजेपी के विधायक और मंत्री देर से पहुंचे। उसके बाद उन्हें अजीब सजा सुनाई गई। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बैठक में कई विधायक और मंत्री देर से पहुंचे। करीब दर्जन भर से ज्यादा विधायक, सीएम योगी आदित्यनाथ के आने के बाद आये। यह देख बैठक की अध्यक्षता कर रहे प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने ऐसे नेताओं को अपनी सीट पर ही खड़े हो जाने को कह दिया।

स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि सीएम के आने के बाद जो भी माननीय सदस्य इस विधानमंडल दल की मीटिंग में आए हैं, वह अपनी-अपनी सीट पर खड़े हो जाएं और उसके बाद बैठे। भरी मीटिंग में इस तरह का फरमान सुनते ही सीएम योगी भी मंच पर बैठे हुए असहज दिखाई दिए। खबर है कि मुख्यमंत्री अपने हाथों से विधायकों और मंत्रियों को बैठने का इशारा करते रहे, लेकिन तब तक अध्यक्ष स्वतंत्रदेव कई बार मंत्री-विधायकों को खड़े होने के लिए कह चुके थे।

जानकारी के अनुसार, पूर्वांचल के एक वरिष्ठ मंत्री भी देर से पहुंचे थे और खड़े होने की बात पर वह भी बेहद ही असहज थे। हालांकि, यह सब कुछ एक मिनट के भीतर खत्म हो गया, लेकिन विधायकों और मंत्रियों के बीच यह चर्चा का विषय बना रहा कि स्कूल में देर से आने वाले बच्चों की तरह आज उनके साथ सलूक किया गया। अनौपचारिक बातचीत में कई मंत्री और विधायक इस बैठक में इस तरह की बात से काफी नाराज नजर आए, लेकिन किसी ने इस बारे में बात करना सही नहीं समझा।


बंदूक तो सिर्फ़ शौक के लिए रखता हूं... फुल एक्शन अवतार में जॉन अब्राहम       वीर सावरकर की पुण्यतिथि पर भारतरत्न लता मंगेशकर ने दी श्रद्धांजलि       ये एक्टर आज शुरू करेंगे 'गंगूबाई काठियावाड़ी' की शूटिंग       कभी पेंटर बनना चाहते थे प्रकाश झा, इतने साल बाद दीप्ति नवल संग लिया था तलाक       Ranbir Kapoor और आलिया भट्ट की तस्वीर हुई वायरल       Raisin Water Benefits: रोज़ाना पिएंगे किशमिश का पानी फिर देखें इसका कमाल       Immunity Improve Tips: इन कुछ हेल्दी तरीकों से इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाएं       दिल और लिवर को रखना चाहते हैं सुरक्षित, तो डाइट में शामिल करें ये सब्जी       Health Benefits of Bitter Foods: ऐसी कुछ कड़वी सब्जियां जो सेहत का ख़ज़ाना है, जानें       Dieting Side Effects: डाइटिंग का सोच रहे हैं, तो जान लें इसके बारे में       तेजी से वजन बढ़ाना चाहते हैं, तो दिन में करें ये काम       मोटापा, डायबिटीज, दिल की बीमारियों का रिस्क कम करने के लिए करें ये काम       ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए ऐसे करें इसका सेवन       नेचुरल तरीके से हैप्पी हार्मोन बढ़ाने के लिए फॉलो करें ये घरेलू उपाय       रक्त को भी प्रभावित करता है Covid-19, शरीर में हो सकते हैं ये...       Dasvi के सेट से यामी गौतम ने शेयर किया अपना IPS का लुक       Kiston Song: आज रिलीज होगा जाह्नवी कपूर- राजकुमार राव की फिल्म 'रूही' का दूसरा गाना 'किस्तों'       इस एक्ट्रेस ने बॉलीवुड को लेकर फिर दिया बड़ा बयान       Happy Birthday Danny: जया बच्चन के पुराने दोस्त हैं डैनी, एक साथ की क्लास में पढ़ाई       इस बार भी लीड रोल में होंगे अजय देवगन और तब्बू, Drishyam 2 का हिंदी रीमेक बनाने की तैयारी शुरू