Under19 World Cup : अधूरा रह गया टीम इंडिया का रिकॉर्ड पांचवीं बार ये खिताब जीतने का सपना

Under19 World Cup : अधूरा रह गया टीम इंडिया का रिकॉर्ड पांचवीं बार ये खिताब जीतने का सपना

अंडर19 वर्ल्ड कप (Under19 World Cup) के फाइनल में भारतीय टीम को बांग्लादेश (Bangladesh) के हाथों तीन विकेट से पराजय का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही टीम इंडिया का रिकॉर्ड पांचवीं बार ये खिताब जीतने का सपना भी अधूरा रह गया।

 इतना ही नहीं, मैच के बाद मैदान पर तब व अप्रिय घटना घटी जब बांग्लादेश के खिलाड़ी भारतीय खिलाड़ियों से उलझ गए। इसके बाद आईसीसी ने वीडियो फुटेज की जाँच करते हुए बांग्लादेश के तीन व हिंदुस्तान के दो खिलाड़ियों को दोषी करार दिया। अब भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कैप्टन कपिल देव (Kapil Dev) व मोहम्मद अजहरुद्दीन (Mohammad Azharuddin) ने भी बोला है कि बीसीसीआई (BCCI) को भारतीय खिलाड़ियों पर कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।

कपिल देव की नसीहत, मर्यादा नहीं लांघ सकते
कपिल देव (Kapil Dev) ने द हिंदू से कहा, 'मैं बीसीसीआई (BCCI) को खिलाड़ियों के विरूद्ध कड़ा कदम उठाते हुए देखना चाहूंगा ताकि मिसाल पेश की जा सके। क्रिकेट विपक्षी खिलाड़ियों को गाली देने भर का खेल नहीं है। मुझे लगता है कि इस बात की पर्याप्त वजह है, जिसके आधार पर बीसीसीआई इन युवा खिलाड़ियों से सख्ती से निपटेगी। मैं आक्रामकता का स्वागत करता हूं, इसमें कुछ भी गलत नहीं है। मगर ये नियंत्रित आक्रामकता होनी चाहिए। प्रतिस्पर्धी होने के नाम पर आप मर्यादा नहीं लांघ सकते। मैदान पर युवा खिलाड़ियों का ऐसा व्यवहार बिल्कुल भी स्वीकार नहीं किया जा सकता। '

अजहर का सवाल-सपोर्ट स्टाफ क्या कर रहा है?
इस मुद्दे में पूर्व कैप्टन मोहम्मद अजहरुद्दीन (Mohammad Azharuddin) ने भी अपनी राय जाहिर की। उन्होंने कहा, 'मैं तो निश्चित रूप से अंडर 19 क्रिकेटरों के विरूद्ध एक्‍शन लेता, लेकिन मैं ये भी जानना चाहता हूं कि आखिर सपोर्ट स्टाफ ऐसे युवा खिलाड़ियों को जागरूक करने के लिए क्या कदम उठा रहे हैं। इससे पहले कि देर हो जाए, अभी कठोर कदम उठाने की आवश्यकता है। खिलाड़ियों को अनुशासित होना ही चाहिए। '
 

बांग्लोदश के तीन व हिंदुस्तान के दो खिलाड़ियों को सजा, रवि बिश्नोई दो मामलों में दोषी
आईसीसी (ICC) ने बांग्लादेश के तीन व हिंदुस्तान के दो खिलाड़ियों को खेल की साख को ठेस पहुंचाने का दोषी करार दिया है। बांग्लादेश के मोहम्मद तौहीद रिदय, शमीम हुसैन व रकीबुल हसन को आईसीसी की आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाया गया है, जबकि हिंदुस्तान के दो खिलाड़ियों आकाश सिंह (Akash Singh) व रवि बिश्नोई (Ravi Bishnoi) को भी दोषी पाया गया है। भारतीय स्पिनर व वर्ल्ड कप में सर्वाधिक 17 विकेट लेने वाले रवि बिश्नोई को विकेट लेने के बाद आक्रामक रिएक्शन जाहीर करने के  मुद्दे में दोषी करार दिया गया है।