कोहली की टीम को मिली लगातार दूसरी हार, सुपर किंग्स ने 6 विकेट से जीता मुकाबला

कोहली की टीम को मिली लगातार दूसरी हार, सुपर किंग्स ने 6 विकेट से जीता मुकाबला

शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में आइपीएल 2021 का 35वां मुकाबला चेन्नई सुपर किंग्स और रायल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच खेला गया। इस मैच में सीएसके के कप्तान धौनी ने टास जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। इस मुकाबले में आंधी की वजह से 7 बजे की जगह टास साढ़े सात बजे किया गया और मैच की शुरुआत 15 मिनट की देरी से हुई।

आरसीबी ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सीएसके के खिलाफ 20 ओवर में 6 विकेट पर 156 रन बनाए। सीएसके की टीम ने 4 विकेट खोकर 18.1 ओवर में जीत दर्ज कर अंक तालिका में टाप पोजिशन हासिल किया।  रितुराज (38), डुप्लेसिस (31) और अंबाती रायडु (32) ने अहम पारी खेली जबकि सुरेश रैना (17) और कप्तान धौनी (11) ने टीम को जीत तक पहुंचाया।

सीएसके की बल्लेबाजी फिर लाजवाब


सीएसके का पहला विराट रितुराज गायकवाड़ के तौर पर गिरा जो 38 रन बनाकर चहल का शिकार बने तो वहीं फाफ डुप्लेसिस को मैक्सवेल ने 31 रन पर पवेलियन वापस भेज दिया। दोनों के बीच पहले विकेट के लिए 71 रन की अच्छी साझेदारी हुई। मोइन अली को 23 रन पर हर्षल पटेल ने कोहली के हाथों कैच आउट करवा दिया। अंबाती रायुडू को 32 रन पर हर्षल पटेल ने एबी के हाथों कैच आउट करवा दिया। 

आरसीबी  की बल्लेबाजी, कोहली व पडीक्कल के अर्धशतक

आरसीबी को कप्तान कोहली और देवदत्त पडीक्कल ने शानदार शुरुआत दिलाई। दोनों ने पावरप्ले में पहले विकेट के लिए 55 रनों की साझेदारी की। 12 वें ओवर में टीक का स्कोर 100 के पार पहुंचा दिया। दोनों ने अर्धशतक ठोका। दोनों के बीच 111 रनों की साझेदारी को ड्वेन ब्रावो ने विराट कोहली को आउट करके तोड़ी। कोहली ने 53 रनों की पारी खेली। 17वें ओवर में लगातार दो गेंदों पर शार्दुल ने दो झटका दिया। एबी डिविलियर्स 12 और देवदत्त पडीक्कल 70 रन बनाकर आउट हुए। टिम डेविड एक रन बनाकर दीपक चाहर की गेंद पर आउट हुए। मैक्सवेल 11 रन पर ब्रावो की गेंद पर आउट हो गए। हर्षल पटेल भी तीन रन बनाकर ब्रावो की गेंट पर अपना विकेट गंवा बैठे। सीएसके की तरफ से ब्रावो ने तीन, शार्दुल ठाकुर ने दो जबकि दीपक चाहर ने एक विकेट लिए। 


आरसीबी की टीम में दो बदलाव

सीएसके के खिलाफ इस मैच के लिए विराट कोहली की टीम में दो बदलाव हुए। सचिन बेबी की वजह प्लेइंग इलेवन में नवदीप सैनी जबकि काइल जैमीसन की जगह अंतिम ग्यारह में टिम डेविड को शामिल किया गया। वहीं सीएसके इस मैच में बिना किसी बदलाव के उतरी है। 

सीएसके की प्लेइंग इलेवन- 

रितुराज गायकवाड़, फाफ डुप्लेसिस, मोइन अली, अंबाती रायुडू, सुरेश रैना, एम एस धौनी (कप्तान), रवींद्र जडेजा, ड्वेन ब्रावो, शार्दुल ठाकुर, दीपक चाहर, जोस हेडलवुड। 

आरसीबी की प्लेइंग इलेवन-

विराट कोहली (कप्तान), देवदत्त पडीक्कल, एसआर भरत, ग्लेन मैक्सवेल, एबी डिविलियर्स, टिम डेविड, वानेंदु हसरंगा, हर्षल पटेल, मो. सिराज, नवदीप सैनी, युजवेंद्रा चहल। 


विसे की ताबड़तोड़ पारी से जीती नामिबिया, नीदरलैंड्स को छह विकेट से दी शिकस्त

विसे की ताबड़तोड़ पारी से जीती नामिबिया, नीदरलैंड्स को छह विकेट से दी शिकस्त

नामिबिया ने डेविड विसे के ताबड़तोड़ अर्धशतक से बुधवार को यहां टी-20 विश्व कप के पहले दौर के ग्रुप-ए के मैच में अपने से ऊंची रैंकिंग की नीदरलैंड्स को छह गेंद रहते छह विकेट से हरा दिया। दक्षिण अफ्रीका के लिए भी टी-20 मैच खेल चुके विसे ने 40 गेंदों पर चार चौके और पांच छक्के की मदद से नाबाद 66 रन बनाए। इसके चलते नामिबिया ने 19 ओवर में चार विकेट पर 166 रन बनाकर जीत दर्ज की। नीदरलैंड्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में चार विकेट पर 164 रन का स्कोर बनाया था।


लक्ष्य का पीछा करते हुए नामिबिया ने नौ ओवर में 52 रन पर तीन विकेट गंवा दिए थे, लेकिन 36 साल के विसे ने अकेले दम पर नीदरलैंड्स को छह गेंद बाकी रहते हराने में मदद की। उन्होंने प्रतिद्वंद्वी टीम के कप्तान पीटर सीलार पर छक्का लगाकर महज 29 गेंद में करियर का पहला अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक पूरा किया।


उन्होंने कप्तान गेरहार्ड इरास्मस (32) के साथ चौथे विकेट के लिए 51 गेंद में 93 रन की साझेदारी की। अंत में जेजे स्मिट ने आठ गेंद में नाबाद 14 रन बनाए। स्मिट ने 19वें ओवर की अंतिम दो गेंद पर दो चौके लगाकर टीम की जीत सुनिश्चित की। पदार्पण कर रही नामिबिया की पहले दौर के मैच में यह पहली जीत थी।


इससे पहले नीदरलैंड्स के सलामी बल्लेबाज मैक्स ओडोड (70) ने लगातार दूसरा अर्धशतक जड़ा और कोलिन एकरमैन (35) के साथ 82 रन की साझेदारी की। ओडोड की 57 गेंद की पारी में छह चौके और एक छक्का शामिल था। इस जीत से नामिबिया सुपर-12 चरण की दौड़ में बनी हुई है और पहले दौर के अंतिम मैच में उसे इसके लिए आयरलैंड को हराना होगा। वहीं, दो मैच हारने के बाद नीदरलैंड्स के अगले चरण में पहुंचने की संभावना काफी कम है।