दिल्ली कैपिटल्स किस खिलाड़ी के लय में नहीं होने की वजह से है परेशानी में, ब्रायन लारा ने बताया नाम

दिल्ली कैपिटल्स किस खिलाड़ी के लय में नहीं होने की वजह से है परेशानी में, ब्रायन लारा ने बताया नाम

आइपीएल 2021 के दूसरे क्वालीफायर मैच में दिल्ली कैपिटल्स का सामना कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ बुधवार को होगा। इस मैच में दोनों टीमों के पास फाइनल में पहुंचने का बराबर का मौका होगा। इस सीजन में सीएसके पहले ही फाइनल में पहुंच चुकी है और अब दिल्ली और केकेआर में से जिसे जीत मिलेगी वो धौनी की टीम के साथ भिड़ेगी। दिल्ली को पहले क्वालीफायर में सीएसके के हाथों हार मिली थी और वो फाइनल में जाने से चूक गई थी। अब दिल्ली की टीम में आखिर ऐसी क्या कमजोरी है जो उसके लिए बड़ी परेशानी बनी हुई है इसके बारे में वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान ब्रायन लारा ने बताया। 

वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा का मानना है कि दिल्ली कैपिटल्स के तेज गेंदबाज कागिसो रबाडा का लय में नहीं होना टीम के लिए इंडियन प्रीमियर लीग के नॉकआउट चरण में चिंता की बात है। पिछले सत्र में टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले रबाडा मौजूदा सीजन में उस लय को दोहराने में नाकाम रहे है। बायें हाथ के इस पूर्व बल्लेबाज लारा ने स्टार स्पोर्ट्स के कार्यक्रम सिलेक्ट डगआउट में कहा कि हां रबाडा का लय में नहीं होना दिल्ली के लिए चिंताजनक स्थिति है।

उन्होंने कहा कि उन्होंने दिल्ली को प्लेआफ में पहुंचने में बहुत बड़ी भूमिका निभाई, उन्होंने धीमी गेंदों के साथ बीच और आखिरी के ओवरों में बहुत सारे विकेट हासिल किए है लेकिन पिछले कुछ मैचों से वह ऐसा नहीं कर पा रहे है। वो अपने हमवतन एनरिच नार्त्जे के साथ दिल्ली की फ्रेंचाइजी के मुख्य गेंदबाज है। रबाडा ने हालांकि पिछले चार मैचों में एक भी विकेट नहीं लिया है। उन्होंने कहा कि जब नार्त्जे अपना काम शानदार तरीके से कर रहे हैं। तो आप चाहते है कि रबाडा की तरह का विश्वस्तरीय गेंदबाज वैसा ही प्रदर्शन करें जैसा कि उसने पिछले टूर्नामेंट में किया था। लारा ने कहा कि इससे टीम को थोड़ी चिंता हो रही होगी। मुझे लगता है कि दिल्ली की टीम रबाडा को फिर से लय हासिल करते देखना पसंद करेगी।


विसे की ताबड़तोड़ पारी से जीती नामिबिया, नीदरलैंड्स को छह विकेट से दी शिकस्त

विसे की ताबड़तोड़ पारी से जीती नामिबिया, नीदरलैंड्स को छह विकेट से दी शिकस्त

नामिबिया ने डेविड विसे के ताबड़तोड़ अर्धशतक से बुधवार को यहां टी-20 विश्व कप के पहले दौर के ग्रुप-ए के मैच में अपने से ऊंची रैंकिंग की नीदरलैंड्स को छह गेंद रहते छह विकेट से हरा दिया। दक्षिण अफ्रीका के लिए भी टी-20 मैच खेल चुके विसे ने 40 गेंदों पर चार चौके और पांच छक्के की मदद से नाबाद 66 रन बनाए। इसके चलते नामिबिया ने 19 ओवर में चार विकेट पर 166 रन बनाकर जीत दर्ज की। नीदरलैंड्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में चार विकेट पर 164 रन का स्कोर बनाया था।


लक्ष्य का पीछा करते हुए नामिबिया ने नौ ओवर में 52 रन पर तीन विकेट गंवा दिए थे, लेकिन 36 साल के विसे ने अकेले दम पर नीदरलैंड्स को छह गेंद बाकी रहते हराने में मदद की। उन्होंने प्रतिद्वंद्वी टीम के कप्तान पीटर सीलार पर छक्का लगाकर महज 29 गेंद में करियर का पहला अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक पूरा किया।


उन्होंने कप्तान गेरहार्ड इरास्मस (32) के साथ चौथे विकेट के लिए 51 गेंद में 93 रन की साझेदारी की। अंत में जेजे स्मिट ने आठ गेंद में नाबाद 14 रन बनाए। स्मिट ने 19वें ओवर की अंतिम दो गेंद पर दो चौके लगाकर टीम की जीत सुनिश्चित की। पदार्पण कर रही नामिबिया की पहले दौर के मैच में यह पहली जीत थी।


इससे पहले नीदरलैंड्स के सलामी बल्लेबाज मैक्स ओडोड (70) ने लगातार दूसरा अर्धशतक जड़ा और कोलिन एकरमैन (35) के साथ 82 रन की साझेदारी की। ओडोड की 57 गेंद की पारी में छह चौके और एक छक्का शामिल था। इस जीत से नामिबिया सुपर-12 चरण की दौड़ में बनी हुई है और पहले दौर के अंतिम मैच में उसे इसके लिए आयरलैंड को हराना होगा। वहीं, दो मैच हारने के बाद नीदरलैंड्स के अगले चरण में पहुंचने की संभावना काफी कम है।