T20 world cup 2021 में इस कारण से टीम इंडिया को हराने का दम भर रहे हैं पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम

T20 world cup 2021 में इस कारण से टीम इंडिया को हराने का दम भर रहे हैं पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम

टी20 वर्ल्ड कप 2021 के पहले ही मैच में टीम इंडिया का सामना पाकिस्तान क्रिकेट टीम के साथ 24 अक्टूबर को होगा। इस बार पाकिस्तान ने अपनी टीम में कई बदलाव किए हैं और कई सीनियर खिलाड़ियों की दल में वापसी हुई है। इन खिलाड़ियों की वापसी के बाद टीम के कप्तान बाबर आजम थोड़े बदले-बदले और कुछ ज्यादा ही उत्साह में नजर आ रहे हैं। 24 अक्टूबर को होने वाले मुकाबले से पहले बाबर आजम ने दावा कर दिया है कि वो इस बार टीम इंडिया को हरा देंगे। अब उन्होंने दावा किया है तो जाहिर है इसके पीछे कुछ कारण भी हैं और उन्होंने इसका भी खुलासा किया है। 

बाबर आजम ने आइसीसी के वेबसाइट पर दिए अपने इंटरव्यू में कहा कि मुझे ऐसा लगता है कि हमारी टीम भारत को हराने में सफल होगी और यूएई में हमने हाल के वर्षों में काफी क्रिकेट खेली है जिसका हमें फायदा होगा। उन्होंने कहा कि हम यूएई में लगातार पिछले 3-4 साल से खेल रहे हैं और हमें वहां के कंडीशन के बारे में काफी अच्छे से अंदाजा है। हमें पता है कि वहां का विकेट किस तरह का बर्ताव करेगा और जीत के लिए किस टीम कांबिनेशन की जरूरत है। हालांकि किसी मैच में दो टीमों मे जो बेहतर खेलता है उसे जीत मिलती है, लेकिन अगर आप मुझसे पूछेंगे तो हम इस मैच में जीत जाएंगे। 


बाबर ने कहा कि एक टूर्नामेंट से पहले एक समूह के रूप में आपका विश्वास और आत्मविश्वास बहुत मायने रखता है। एक टीम के तौर पर हमारा आत्मविश्वास और मनोबल वाकई ऊंचा है। हम अतीत के बारे में नहीं बल्कि भविष्य के बारे में सोच रहे हैं। हम इसके लिए तैयारी कर रहे हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि हम अच्छी तरह से तैयार हैं और उस दिन अच्छा क्रिकेट खेलेंगे। सभी खिलाड़ियों ने घरेलू स्तर पर अच्छे प्रदर्शन के बाद टीम में प्रवेश किया है। हमें टीम के सीनियर खिलाड़ियों से बहुत कुछ सीखना है क्योंकि उनके पास इतना अनुभव है। ये खिलाड़ी पहले टी20 वर्ल्ड कप और लीग मैच भी खेल चुकी हैं। हमारी टीम के 7-8 खिलाड़ियों ने चैंपियंस ट्रॉफी भी खेली है जिससे पहले एक अलग ही आत्मविश्वास आता है।


विसे की ताबड़तोड़ पारी से जीती नामिबिया, नीदरलैंड्स को छह विकेट से दी शिकस्त

विसे की ताबड़तोड़ पारी से जीती नामिबिया, नीदरलैंड्स को छह विकेट से दी शिकस्त

नामिबिया ने डेविड विसे के ताबड़तोड़ अर्धशतक से बुधवार को यहां टी-20 विश्व कप के पहले दौर के ग्रुप-ए के मैच में अपने से ऊंची रैंकिंग की नीदरलैंड्स को छह गेंद रहते छह विकेट से हरा दिया। दक्षिण अफ्रीका के लिए भी टी-20 मैच खेल चुके विसे ने 40 गेंदों पर चार चौके और पांच छक्के की मदद से नाबाद 66 रन बनाए। इसके चलते नामिबिया ने 19 ओवर में चार विकेट पर 166 रन बनाकर जीत दर्ज की। नीदरलैंड्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में चार विकेट पर 164 रन का स्कोर बनाया था।


लक्ष्य का पीछा करते हुए नामिबिया ने नौ ओवर में 52 रन पर तीन विकेट गंवा दिए थे, लेकिन 36 साल के विसे ने अकेले दम पर नीदरलैंड्स को छह गेंद बाकी रहते हराने में मदद की। उन्होंने प्रतिद्वंद्वी टीम के कप्तान पीटर सीलार पर छक्का लगाकर महज 29 गेंद में करियर का पहला अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक पूरा किया।


उन्होंने कप्तान गेरहार्ड इरास्मस (32) के साथ चौथे विकेट के लिए 51 गेंद में 93 रन की साझेदारी की। अंत में जेजे स्मिट ने आठ गेंद में नाबाद 14 रन बनाए। स्मिट ने 19वें ओवर की अंतिम दो गेंद पर दो चौके लगाकर टीम की जीत सुनिश्चित की। पदार्पण कर रही नामिबिया की पहले दौर के मैच में यह पहली जीत थी।


इससे पहले नीदरलैंड्स के सलामी बल्लेबाज मैक्स ओडोड (70) ने लगातार दूसरा अर्धशतक जड़ा और कोलिन एकरमैन (35) के साथ 82 रन की साझेदारी की। ओडोड की 57 गेंद की पारी में छह चौके और एक छक्का शामिल था। इस जीत से नामिबिया सुपर-12 चरण की दौड़ में बनी हुई है और पहले दौर के अंतिम मैच में उसे इसके लिए आयरलैंड को हराना होगा। वहीं, दो मैच हारने के बाद नीदरलैंड्स के अगले चरण में पहुंचने की संभावना काफी कम है।