क्रिकेट में वापसी को लेकर कही ये बात, श्रीसंत का स्पॉट फिक्सिंग बैन खत्म

क्रिकेट में वापसी को लेकर कही ये बात, श्रीसंत का स्पॉट फिक्सिंग बैन खत्म

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज एस श्रीसंत (S Sreesanth) पर कथित तौर पर लगा स्पॉट फिक्सिंग (Spot Fixing) का बैन 13 सिंतबर यानी आज खत्म हो गया है। एस श्रीसंत पर आईपीएल 2013 (IPL 13) के दौरान कथित तौर पर स्पॉट फिक्सिंग करने की वजह से आजीवन प्रतिबंध की सजा सुनाई गई थी।

लेकिन 37 वर्ष के श्रीसंत ने कानून का सहारा लेकर इस प्रतिबंध के विरूद्ध लड़ाई जारी रखी थी, जिसकी बदौलत पिछले वर्ष भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के लोकपाल ने इस मुद्दे फंसे एस श्रीसंत के बैन को आजीवन से घटाकर 7 वर्ष कर दिया था। जिसके आधार पर अब श्रीसंत ने अपनी इस सजा के समयकाल को पूरा कर लिया है व क्रिकेट में वापसी को लेकर अपनी राय रखी है।  

अब क्रिकेट खेलने को आजाद- श्रीसंत
रविवार को एस श्रीसंत के ऊपर लगा कथित तौर पर स्पॉट फिक्सिंग (Spot Fixing Ban) का प्रतिबंध समाप्त हो चुका है। इससे पहले एस श्रीसंत ने शुक्रवार को अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर इस बैन को लेकर एक बाद एक ट्वीट कर अपनी भावनाएं प्रकट की। श्रीसंत ने अपने ट्वीट में लिखा कि मैं अब किसी भी प्रकार के आरोप का दोषी नहीं हूं व अब मैं इनसे मुक्त हूं। इसके बाद अब मैं उस खेल को आगे लेकर बढूंगा जो मेरे दिल के बेहद करीब है। मैं अपने खेल के दौरान हर गेंद पर सौ फीसदी देने की प्रयास करूंगा फिर चाहे वो मेरा प्रैक्टिस सेशन ही क्यों न हो। मौजूदा समय के आधार पर मेरे पास अब 5-7 वर्ष का वक्त बाकी रह गया है। इस दौरान मैं जिस भी टीम का भाग रहूंगा, उसके लिए अपने खेल का बेस्ट ही देने का कोशिश करूंगा। साथ ही एस श्रीसंत ने घरेलू क्रिकेट खेलने के लिए पूरा मन बना लिया है।  

घरेलू प्रदेश केरल के लिए क्रिकेट खेलते नजर आएंगे श्रीसंत
इसके बीच एस श्रीसंत के स्पॉट फिक्सिंग के बैन को समाप्त होने बाद के बाद सबकी नजरें इस पर बनी हुई है कि वह कब से अपने . ऐसे में केरल प्रदेश ने श्रीसंत के लिए क्रिकेट (Cricket) के मैदान पर शर्त के तौर पर वापसी के लिए दरवाजे खोल दिए हैं। दरअसल, केरल प्रदेश का मानना है कि अगर एस श्रीसंत अपनी फिटनेस साबित करते हैं तो उनके नाम पर विचार करके, उन्हें खेलने का मौका दिया जा सकता है।  

भारतीय घरेलू क्रिकेट सत्र में नजर आ सकते हैं श्रीसंत
हालांकि कोरोना वायरस के कारण भारतीय क्रिकेट का घरेलू सत्र वैसे रद्द हो चुका है व बीसीसीआई (BCCI) ने भी अभी तक यह नहीं बताया है कि कब से डोमेस्टिक क्रिकेट प्रारम्भ होगा। अमूमन अगस्त के महीने में भारतीय क्रिकेट का घरेलू सत्र प्रारम्भ होता है, लेकिन कोरोना के कारण सब टल गया है। ऐसे में जब भारतीय क्रिकेट का घरेलू सत्र प्रारम्भ होगा तभी होने कि सम्भावना है केरल प्रदेश की शर्त के तहत एस श्रीसंत मैदान पर लौटते दिखें।