IPL 2021 में बतौर कप्तान सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में मोर्गन और धौनी हैं सबसे नीचे

IPL 2021 में बतौर कप्तान सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में मोर्गन और धौनी हैं सबसे नीचे

आइपीएल 2021 के फाइनल मैच में चेन्नई सुपर किंग्स का सामना कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ शुक्रवार को होगा। इसमें कोई शक नहीं है कि दोनों टीमों ने यहां तक का सफर अच्छे प्रदर्शन और बेहतरीन कप्तानी के दम पर तय किया। एम एस धौनी और इयोन मोर्गन की बेहतरीन कप्तानी का ही नतीजा है कि दोनों टीमों ने फाइनल में अपनी जगह बनाई, लेकिन बतौर बल्लेबाज दोनों ही इस लीग में फेल रहे हैं। बात चाहे धौनी की हो या फिर मोर्गन की बतौर बल्लेबाज इन दोनों में ही इस सीजन में निराश किया। यही नहीं बतौर कप्तान इस सीजन में मोर्गन रन बनाने के लिहाज से आठवें स्थान पर हैं तो अब तक धौनी नौवें नंबर पर। 

मोर्गन और धौनी के बल्ले से नहीं निकले रन, केएल राहुल पहले नंबर पर

आइपीएल 2021 में केकेआर के कप्तान इयोन मोर्गन ने लीग व प्लेआफ मुकाबले को मिलाकर कुल 129 रन बनाए हैं और वो सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में 8वें नंबर पर हैं तो वहीं महेंद्र सिंह धौनी तो सबसे निचले पायदान पर हैं। वो 114 रन के साथ नौवें नंबर पर हैं। यहां हम आपको बता दें कि इस सीजन में हैदराबाद की कप्तानी डेविड वार्नर और केन विलियमसन दोनों ने की थी और बतौर कप्तान दोनों ही लिस्ट में शामिल हैं। इसमें 193 रन के साथ वार्नर छठे तो वहीं केन 158 रन के साथ सांतवें नंबर पर हैं। 


आइपीएल के 14वें सीजन में बतौर कप्तान सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकार्ड केएल राहुल के नाम रहा जिन्होंने कुल 626 रन बनाए तो वहीं 484 रन के साथ संजू सैमसन दूसरे नंबर पर रहे। वहीं दिल्ली के कप्तान रिषभ पंत 19 रन के साथ तीसरे स्थान पर रहे जबकि विराट कोहली 405 रन के साथ चौथे स्थान पर रहे। रोहित शर्मा ने कुल 381 रन बनाए और वो पांचवें नंबर पर रहे। 

आइपीएल 2021 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले कप्तान 

626 रन- केएल राहुल

484 रन- संजू सैमसन

419 रन- रिषभ पंत

405 रन- विराट कोहली

381 रन- रोहित शर्मा

193 रन- डेविड वार्नर

158 रन- केन विलियमसन

129 रन- इयोन मोर्गन

114 - MS Dhoni


विसे की ताबड़तोड़ पारी से जीती नामिबिया, नीदरलैंड्स को छह विकेट से दी शिकस्त

विसे की ताबड़तोड़ पारी से जीती नामिबिया, नीदरलैंड्स को छह विकेट से दी शिकस्त

नामिबिया ने डेविड विसे के ताबड़तोड़ अर्धशतक से बुधवार को यहां टी-20 विश्व कप के पहले दौर के ग्रुप-ए के मैच में अपने से ऊंची रैंकिंग की नीदरलैंड्स को छह गेंद रहते छह विकेट से हरा दिया। दक्षिण अफ्रीका के लिए भी टी-20 मैच खेल चुके विसे ने 40 गेंदों पर चार चौके और पांच छक्के की मदद से नाबाद 66 रन बनाए। इसके चलते नामिबिया ने 19 ओवर में चार विकेट पर 166 रन बनाकर जीत दर्ज की। नीदरलैंड्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में चार विकेट पर 164 रन का स्कोर बनाया था।


लक्ष्य का पीछा करते हुए नामिबिया ने नौ ओवर में 52 रन पर तीन विकेट गंवा दिए थे, लेकिन 36 साल के विसे ने अकेले दम पर नीदरलैंड्स को छह गेंद बाकी रहते हराने में मदद की। उन्होंने प्रतिद्वंद्वी टीम के कप्तान पीटर सीलार पर छक्का लगाकर महज 29 गेंद में करियर का पहला अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक पूरा किया।


उन्होंने कप्तान गेरहार्ड इरास्मस (32) के साथ चौथे विकेट के लिए 51 गेंद में 93 रन की साझेदारी की। अंत में जेजे स्मिट ने आठ गेंद में नाबाद 14 रन बनाए। स्मिट ने 19वें ओवर की अंतिम दो गेंद पर दो चौके लगाकर टीम की जीत सुनिश्चित की। पदार्पण कर रही नामिबिया की पहले दौर के मैच में यह पहली जीत थी।


इससे पहले नीदरलैंड्स के सलामी बल्लेबाज मैक्स ओडोड (70) ने लगातार दूसरा अर्धशतक जड़ा और कोलिन एकरमैन (35) के साथ 82 रन की साझेदारी की। ओडोड की 57 गेंद की पारी में छह चौके और एक छक्का शामिल था। इस जीत से नामिबिया सुपर-12 चरण की दौड़ में बनी हुई है और पहले दौर के अंतिम मैच में उसे इसके लिए आयरलैंड को हराना होगा। वहीं, दो मैच हारने के बाद नीदरलैंड्स के अगले चरण में पहुंचने की संभावना काफी कम है।