धोनी के टिप्स से मिली महिला क्रिकेटर इंद्राणी को सफलता

धोनी के टिप्स से मिली महिला क्रिकेटर इंद्राणी को सफलता

इंग्लैंड दौरे के लिए भारतीय महिला क्रिकेट टीम में शामिल की गईं झारखंड की विकेटकीपर बल्लेबाज इंद्राणी रॉय का बोलना है कि वह आनें वाले सीरीज में वह पूर्व भारतीय कैप्टन महेंद्र सिंह से मिले टिप्स को आजमाएंगी. इंग्लैंड दौरे पर हिंदुस्तान को 16 जून से एकमात्र टेस्ट मैच खेलना है. इसके बाद वह 15 जुलाई तक तीन मैचों की वनडे सीरीज और फिर इतने ही मैचों की टी20 सीरीज खेलेगी.

धोनी ने दिए टिप्स
इंद्राणी ने एक मीडिया हाउस से वार्ता करते हुए बोला कि पिछले वर्ष रांची में ट्रेनिंग सेशन के दौरान माही सर से मेरी लंबी वार्ता हुई थी. मैंने पूछा कि कैसे मैं अपने खेल में सुधा करूं, तो उन्होंने मुझे बोला कि मुझे अपने रिफ्लेक्स तेज करने चाहिए और पांच मीटर रेडियस में मूवमेंट अच्छा होना चाहिए. साथ ही उन्होंने बोला कि एक विकेटकीपर के लिए यह जरूरी वस्तु होती है और उन्होंने मुझे सलाह दी कि ऐसी प्रयास करोगी तो बेहतर होती जाओगी. इससे वाकई मुझे सहायता मिली. माही सर जैसे कद्दावर से एक या दो चीजें सीख लेना सम्मान की बात है और उनकी सलाह वाकई मेरे कार्य आई और मेरे खेल में सुधार हुआ. हर बार जब मैं ग्राउंड पर जाती हूं तो उनकी टिप्स याद रखती हूं.

टीम के साथ पहला दौरा
भारतीय टीम में स्थान मिलने की बात पर इस पर इंद्राणी ने बोला कि उन्हें कड़ी मेहनत का फल मिला है. साथ ही उनका बोलना है कि अब वह दिग्‍गजों के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने पर अपना ध्यान लगा रही हैं. युवा विकेटकीपर और बल्लेबाज का बोलना है कि यह टीम के साथ उनका पहला दौरा है और यदि उन्हें प्‍लेइंग-11 में मौका मिलता है तो अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की प्रयास करेंगी. बता दें कि टीम इंडिया के लिए यह दाैरा इसलिए भी जरूरी है क्योंकि अगले वर्ष न्यूजीलैंड में वनडे वर्ल्ड कप होना है.

घरेलू क्रिकेट में बहुत बढ़िया प्रदर्शन
बता दें कि इंद्राणी रॉय ने घरेलू क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन किया था. सीनियर वनडे स्‍पर्धा में वह सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाली महिला बल्‍लेबाज थीं. इसमें इंद्राणी ने कुल 456 रन बनाए. बता दें कि वैसे तो इंद्राणी पश्चिम बंगाल की रहने वाली हैं, लेकिन कुछ वर्षों पहले वह झारखंड में जाकर बस गईं. झारखंड आने के बाद उनको क्रिकेट कॅरियर में सफलता मिली और वह झारखंड राज्‍य टीम की प्रमुख बल्‍लेबाज बन गईं.


चौथे दिन का खेल बरिश की भेंट चढ़ा, नहीं डाली जा सकी एक भी गेंद

चौथे दिन का खेल बरिश की भेंट चढ़ा, नहीं डाली जा सकी एक भी गेंद

विश्व को पहली बार टेस्ट चैंपियन मिलेगा या फिर आइसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की ट्रॉफी भारत और न्यूजीलैंड के बीच शेयर की जाएगी? इसका जवाब साउथैंप्टन में जारी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के नतीजे से तय होना है। सोमवार यानी 21 जून को मुकाबले के चौथे दिन एक भी गेंद नहीं डाली जा सकी। बारिश की वजह से पूरे दिन का खेल बर्बाद हो गई मैच चौथे दिन के खेल के रद होने की जानकारी बीबीसीआइ ने ट्विटर के जरिए दी।

भारत को 217 रन पर समेटने के बाद न्यूजीलैंड की टीम ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक 45 ओवर में 2 विकेट खोकर 101 रन बनाए हैं। कप्तान केन विलियमसन और रोस टेलर नाबाद पवेलियन लौटे हैं।


आपकी जानकारी के लिए बता दें, 18 जून से ये महामुकाबला शुरू होना था, लेकिन बारिश के कारण मैच के पहले दिन टॉस तक नहीं फेंका जा सका। बारिश और खराब रोशनी की वजह से पहले दिन मैच नहीं हुआ और ऐसा दूसरे दिन भी चला, लेकिन दूसरे दिन करीब 60 ओवर का खेल हुआ और तीसरे दिन भी बारिश ने आंख-मिचौली की।

तीसरे दिन मुकाबला अपने समय से शुरू नहीं हो सका, जबकि बारिश और खराब रोशनी की वजह से मैच जल्दी समाप्त करना पड़ गया। अब चौथे दिन भी साउथैंप्टन में बारिश हुई है और लगातार रुक-रुककर हो रही है। ऐसे में चौथे दिन कितने ओवर इस मुकाबले में फेंके जाएंगे, ये देखने वाली बात होगी।

साउथैंप्टन के मौसम से जुड़ी रिपोर्ट की मानें तो आज पूरे दिन बारिश की संभावना है। खासकर पहले और तीसरे सत्र में बारिश की पूरी-पूरी संभावना है। ऐसे में अगर खेल प्रेमियों को कुछ ओवर देखने को मिलें तो अच्छी बात होगी, लेकिन मौजूदा समय और वेदर रिपोर्ट को देखें तो संभव नहीं लग रहा कि आज मैच की शुरुआत भी हो पाएगी।