कोरोना से बिगड़ते हालात पर भारत की आलोचना करने वालों पर बरसे हेडन

कोरोना से बिगड़ते हालात पर भारत की आलोचना करने वालों पर बरसे हेडन

भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान हर रोज लाखों लोग संक्रमित हो रहे हैं तो कई अपनी जान गंवा चुके हैं। ऐसे में भारत में बिगड़ते हालात के लिए कुछ लोग सरकार को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। इस बीच पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर मैथ्यू हेडन ने भारत की आलोचना करने वाले लोगों पर निशाना साधा और कहा कि इतनी बड़ी जनसंख्या के देश को संभालना आसान नहीं है।

हेडन ने एक अखबार के कॉलम में लिखा, 'भारत इस समय कोरोना महामारी की दूसरी लहर का सामना कर रहा है, इतनी खतरनाक जैसे पहले कभी नहीं हुई। जहां भारत इसके खिलाफ लड़ाई लड़ रहा है तो वहीं मीडिया 140 करोड़ की जनसंख्या के इस देश की आलोचना करने में पीछे नहीं है, जबकि इतनी ज्यादा जनसंख्या वाले देश में कोई भी स्कीम लागू करना आसान नहीं है।'

हेडन ने कहा, 'मैं एक दशक से भी ज्यादा समय से भारत आ रहा हूं और पूरे देश में घूमा हूं, खासतौर पर तमिलनाडु में, जो कि मेरा आध्यात्मिक घर है। यहां के नेताओं और जनप्रतिनिधियों के लिए मेरे लिए दिल में सम्मान है, क्योंकि वह इतनी विविधता भरा बड़ा देश चलाते हैं। जब भी वहां गया लोगों ने मुझे बहुत प्यार और अपनापन दिया, जिसके लिए मैं हमेशा उनका कर्जदार रहूंगा।'


हेडन ने यह भी कहा 'मैं गर्व से कह सकता हूं कि मैं भारत को इस हद तक जानता हूं कि उनका दर्द समझ सकता हूं, लेकिन कुछ ऐसे लोग जिन्होंने शायद ही वहां समय बिताया हो और उस देश को समझा हो, फिलहाल आलोचना करने में पीछे नहीं है। एक क्रिकेटर के तौर पर इस खेल के प्यार की वजह से मैं आइपीएल में हिस्सा लेने भारत आता रहा। आइपीएल में वर्षो से मेरे देश के कई खिलाड़ी खेल रहे हैं। ऐसे समय में जब लोग भारत के लिए दरवाजे बंद कर रहे हैं और सरकार की आलोचना कर रहे हैं, मैं चाहता था कि भारत में रहते हुए अपने विचार सामने रखूं, जो मीलों दूर बैठे लोग नहीं जानते।'


चौथे दिन का खेल बरिश की भेंट चढ़ा, नहीं डाली जा सकी एक भी गेंद

चौथे दिन का खेल बरिश की भेंट चढ़ा, नहीं डाली जा सकी एक भी गेंद

विश्व को पहली बार टेस्ट चैंपियन मिलेगा या फिर आइसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की ट्रॉफी भारत और न्यूजीलैंड के बीच शेयर की जाएगी? इसका जवाब साउथैंप्टन में जारी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के नतीजे से तय होना है। सोमवार यानी 21 जून को मुकाबले के चौथे दिन एक भी गेंद नहीं डाली जा सकी। बारिश की वजह से पूरे दिन का खेल बर्बाद हो गई मैच चौथे दिन के खेल के रद होने की जानकारी बीबीसीआइ ने ट्विटर के जरिए दी।

भारत को 217 रन पर समेटने के बाद न्यूजीलैंड की टीम ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक 45 ओवर में 2 विकेट खोकर 101 रन बनाए हैं। कप्तान केन विलियमसन और रोस टेलर नाबाद पवेलियन लौटे हैं।


आपकी जानकारी के लिए बता दें, 18 जून से ये महामुकाबला शुरू होना था, लेकिन बारिश के कारण मैच के पहले दिन टॉस तक नहीं फेंका जा सका। बारिश और खराब रोशनी की वजह से पहले दिन मैच नहीं हुआ और ऐसा दूसरे दिन भी चला, लेकिन दूसरे दिन करीब 60 ओवर का खेल हुआ और तीसरे दिन भी बारिश ने आंख-मिचौली की।

तीसरे दिन मुकाबला अपने समय से शुरू नहीं हो सका, जबकि बारिश और खराब रोशनी की वजह से मैच जल्दी समाप्त करना पड़ गया। अब चौथे दिन भी साउथैंप्टन में बारिश हुई है और लगातार रुक-रुककर हो रही है। ऐसे में चौथे दिन कितने ओवर इस मुकाबले में फेंके जाएंगे, ये देखने वाली बात होगी।

साउथैंप्टन के मौसम से जुड़ी रिपोर्ट की मानें तो आज पूरे दिन बारिश की संभावना है। खासकर पहले और तीसरे सत्र में बारिश की पूरी-पूरी संभावना है। ऐसे में अगर खेल प्रेमियों को कुछ ओवर देखने को मिलें तो अच्छी बात होगी, लेकिन मौजूदा समय और वेदर रिपोर्ट को देखें तो संभव नहीं लग रहा कि आज मैच की शुरुआत भी हो पाएगी।