पीरियड्स के दौरान हैवी ब्लीडिंग के होते है ये कारण

पीरियड्स के दौरान हैवी ब्लीडिंग के होते है ये कारण

महिलाओं के लिए पीरियड्स के वो 7 दिन बहुत ज्यादा भारी होते हैं। ज़्यादातर लड़कियां व महिलाएं चाहती हैं कि किसी तरह बस ये सात दिन कट जाएं ताकि इस मुसीबत से छुटकारा मिले। इसकी वजह है कि पीरियड्स के दिनों में थकावट, क्रैम्प्स, ब्लॉटिंग व मूड स्विंग्स होना जिससे ज़्यादातर स्त्रियों को दो चार होना पड़ता है। इस दौरान सारे बदन में दर्द व ऐंठन बनी रहती है जो मानसिक कठिनाई का भी कारण बनती है। कुछ स्त्रियों को पीरियड्स के दौरान हैवी ब्लीडिंग भी होती है। आइए जानते हैं कि इसके पीछे क्या कारण जिम्मेदार हो सकते हैं।



इस समस्या के पीछे कई वजहें जिम्मेदार हो सकती हैं। लेकिन कई बार आपके खानपान के तौर उपायों में भी इसका राज छुपा होने कि सम्भावना है। कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिनका यदि आप आवश्यकता से ज्यादा सेवन करें तो आपको पीरियड्स के दौरान हैवी ब्लीडिंग की समस्या का सामना करना पड़ेगा। आइए जानते हैं इनके बारे में
शहद को कहें ना:
शहद स्वास्थ्य के लिए बहुत ज्यादा लाभकारी है व यह शरीर को गर्म रखता है। लेकिन पीरियड्स के दौरान किसी भी तरह से इसके सेवन से हैवी ब्लीडिंग की समस्या सामने आ सकती है। इसकी गर्म तासीर की वजह से पीरियड्स में ब्लड ज्यादा आ सकता है।

चुकंदर से करें तौबा:
हीमोग्लोबिन बरकरार रखने के लिए कई डॉक्टर्स चुकंदर खाने की सलाह देते हैं। यह स्वास्थ्य के लिए अमृत के समान है। इसमें कैल्शियम, आयरन, विटमिन, पोटेशियम, फॉलिक एसिड व फाइबर प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इसे खाने से शरीर में खून तेजी से बनता है। यही वजह है कि पीरियड्स के दौरान इसे खाने से हैवी ब्लीडिंग की समस्या होती है।

कॉफी से करें किनारा:
पीरियड्स पेन को कम करने के लिए कई लोग कॉफी पीने की सलाह देते हैं। लेकिन अगर आपको पीरियड्स के दौरान हैवी ब्लीडिंग होती है तो कॉफी के सेवन से आपको परहेज करना चाहिए।