मानसून के मौसम में इस तरह रखे अपने स्वास्थ्य का ख्याल, ऐसे करे बीमारी से बचाव

मानसून के मौसम में इस तरह रखे अपने स्वास्थ्य का ख्याल, ऐसे करे बीमारी से बचाव

मानसून का समय आने लगा है व इसी के साथ कई बीमारियां भी आ रही हैं। बारिश के मौसम में खुद का खास ख्याल रखना होता है। इस मौसम में स्वास्थ्य जल्दी ही ख़राब होती है।ऐसे बारिश के मौसम में मच्छर, कीट, कीड़े व मकौड़े होने का भय भी ज्यादा रहता है। इन कीड़ों की वजह से इंसान को परेशानियां भी बहुत उठानी पड़ती हैं। अगर आपके साथ भी कभी ऐसी समस्या होती है तो आपको डरने की आवश्यकता नहीं हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि किस तरह से आपको अपनी स्वास्थ्य का ख्याल रखना है।

* चींटी या मधुमक्खी
बारिश के दिनों चीटियां बहुत ही ज्यादा दिखने लगती है व इस मौसम में वो उड़ने भी लगती है, अगर इस मौसम में चींटी या मधुमक्खी ने डंक मार दिया है तो घर में उपस्थित कोई भी मिंट वाली वस्तु जैसे टूथपेस्ट आदि या पान पर लगाने वाला चूना लगा लें। इसके अतिरिक्त आप चाहे तो प्याज का रस भी लगा सकते हैं।

* मच्छर या मक्खी
मच्छर-मक्खी से बचने का सबसे बेहतर तरीका है घर को व खुद को इनसे बचाकर रखना। बरसात जाली के दरवाजे हमेशा बंद रखें। बच्चों को व खुद को पूरी तरह ढंक कर रखें। बच्चे अगर खेलने बाहर जाएं तो मच्छर से बचाने वाली क्रीम जरूर लगाएं। रात में सोते हुए भी मच्छरदानी आदि का प्रयोग करें। मच्छर के काटने पर तुलसी के पत्ते पीसकर उनका रस लगाने से फायदा होता है।

* सांप काटनें पर
वैसे तो 90 फीसदी सांप जहरीले नहीं होते हैं। फिर उनके जहर का हम कोई अंदेशा नहीं लगा सकते है। अगर किसी को सांप काट ले तो थोड़ा सब्र से कार्य लें। सबसे पहले तो सांप के काटने वाले जगह को दोनो ओर कपड़े या डोर से कस कर बांध दें ताकि रक्त प्रवाह धीमा हो जाये व जहर ना फैले। इसके बाद 50 ग्राम देशी घी में करीब 1 ग्राम फिटकारी अच्छी तरह पीसकर मिला लें। इसे सांप के काटने वाली स्थान पर लगाएं, इससे जहर उतर जायेगा।