सुब्रमण्यम स्वामी ने सीएम नीतीश कुमार को चेताया

सुब्रमण्यम स्वामी ने सीएम नीतीश कुमार को चेताया

बिहार में विधानसभा चुनाव तो अगले वर्ष होने हैं लेकिन सियासी खटपट अभी से ही प्रारम्भ हो गई है. यह तकरार एनडीए के भीतर ही प्रारम्भ हो गई है. भाजपा व जदयू के नेताओं के बीच इन दिनों जबरदस्त बयानबाजी चल रही है. भाजपा के नेता अब प्रदेश में अपना मुख्यमंत्री चाहते हैं. पटना में आई हालिया बाढ़ ने दोनों के सियासी विवाद को सतह पर ला दिया. इस बीच भाजपा के सीनियर नेता व राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने सीएम नीतीश कुमार को चेताया है.

उन्होंने बोला कि बिहार में बीजेपी बड़ा भाई है, जदयू को चाहिए कि वह छोटा भाई बनकर रहे. इससे पहले पटना में रावण वध के मौका पर सीएम नीतीश कुमार के साथ किसी भी बीजेपी नेता की मौजूदगी नहीं रही थी, जिसपर जदयू नेताओं ने ऐतराज जताया था. भाजपा सांसद ने कल यानि बुधवार को बोला कि अगर जदयू को बिहार में अपनी पॉलिटिक्स बचानी है तो उसे छोटे भाई की किरदार में रहना होगा. देशभर में लोग बीजेपी को पसंद कर रहे हैं व इस लहर के बीच बिहार में भी अब बीजेपी बड़े भाई की किरदार में है.

स्वामी ने बोला कि नीतीश कुमार को 2020 का विधानसभा चुनाव जीतना है, उन्हें बीजेपी के साथ छोटे भाई की किरदार में रहना होगा. जदयू अकेले चुनाव लड़ता है तो उसकी स्थिति बेहद निर्बल हो जाएगी. उन्होंने बोला कि बीजेपी सारे देश में बढ़ रही है. बंगाल में हम नंबर वन बनने से कुछ ही दूर है. इतना ही नहीं कई राज्यों में हमारी पार्टी नंबर वन है. बिहार तो पुराना गढ़ रहा है.

अपने कठोर टिप्पणी के लिए पहचाने जाने वाले स्वामी ने बोला कि नीतीश कुमार को पता करना चाहिए कि बीजेपी के नेता किस कारण से नाराज हैं. उन्होंने गिरिराज सिंह की टिप्पणी का भी समर्थन करते हुए बोला कि वह स्पष्टवादी नेता हैं. इसके साथ ही उन्होंने पटना में आई बाढ़ को लेकर सरकार कीविफलता पर नीतीश पर निशाना भी साधा.