तीनों समुदाय के लोग  पाक से आजादी के लिए हिंदुस्तान व अमेरिका के नेताओं से लगाएंगे गुहार

तीनों समुदाय के लोग  पाक से आजादी के लिए हिंदुस्तान व अमेरिका के नेताओं से लगाएंगे गुहार

सिंधी, बलोच व पख्तून समूह के प्रतिनिधि अमेरिका के ह्यूस्टन स्थित एनआरजी स्टेडियम के सामने रविवार को एकसाथ प्रदर्शन कर पाक से आजादी के लिए पीएम नरेंद्र मोदी व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का ध्यान आर्किषत कराएंगे. सारे अमेरिका से बलोच अमेरिकी, सिंधी अमेरिकी व पख्तून अमेरिकी समुदाय के लोग शनिवार को यहां पहुंचे हैं. अमेरिका में अपनी तरह के इस पहले प्रदर्शन में तीनों समुदाय के लोग एक साथ पाक से आजादी के लिए हिंदुस्तान व अमेरिका के नेताओं से मदद की गुहार लगाएंगे.

Image result for मोदी ट्रंप

समूहों के सदस्यों ने शनिवार को आरोप लगाया कि पाक सरकार उनके समुदाय के लोगों के मानवाधिकारों का बड़े पैमाने पर हनन कर रही है.
अमेरिका में बलोच नेशनल मूवमेंट के प्रतिनिधि नबी बक्श बलोच ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘हम पाक से आजादी की मांग कर रहे हैं. हिंदुस्तान व अमेरिका को हमारी मदद करनी चाहिए है अच्छा वैसे ही जैसे 1971 में हिंदुस्तान ने बांग्लादेश के लोगों की मदद की थी.’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम यहां पीएम मोदी व ट्रंप से हमारे उद्देश्यों के वास्ते समर्थन का अनुरोध करने के लिए हैं. पाक सरकार बड़े पैमाने पर बलोच लोगों के मानवाधिकार का हनन कर रही है.’’ 100 से अधिक अमेरिकी सिंधी शनिवार को यहां पहुंचे. वे एनआरजी स्टेडियम के सामने एकत्र होने की योजना बना रहे हैं जहां पर रविवार को मोदी का ‘हाउडी मोदी’ प्रोग्राम होना है. उन्हें उम्मीद है कि आजादी की मांग करने वाले पोस्टर-बैनर पर मोदी व ट्रंप का ध्यान जाएगा.

जिय सिंधी मुताहिदा मुहाज के जफर सहितो ने कहा, ‘‘यह सबसे बड़े व पुराने लोकतंत्रों-स्वतंत्र दुनिया के नेताओं की ऐतिहासिक रैली है. हम सिंधी के लोग पाक से आजादी चहते हैं. जिस तरह से 1971 में हिंदुस्तान ने बांग्लादेश की आजादी में मदद में की, हम वैसे सिंधी के लिए अलग देश चाहते है.’’