पाक हर छोटी-बड़ी बात पर हिंदुस्तान पर आरोप लगाने का नहीं छोड़ता है मौका

पाक हर छोटी-बड़ी बात पर हिंदुस्तान पर आरोप लगाने का नहीं छोड़ता है मौका

आतंकवादियों का पनाहगार बन चुका पाक हर छोटी-बड़ी बात पर हिंदुस्तान पर आरोप लगाने का मौका नहीं छोड़ता है. उसे हर वक्त हिंदुस्तान का भय सताता रहता है.

Image result for श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने क्रिकेट खेलने से किया इनकार, पाकिस्तान मंत्री फवाद हुसैन ने कहा- हिंदुस्तान ने दी है धमकी

यही वजह है कि जब श्रीलंका की क्रिकेट टीम ने पाक जाकर खेलने से मना कर दिया तो पाकिस्तान ने इसे हिंदुस्तान की साजिश करार दिया. पाक के बडबोले मंत्री फवाद हुसैन ने हिंदुस्तान पर श्रीलंकाई खिलाड़ियों को धमकाने का आरोप लगाया है.

दरअसल, पाकिस्तान मंत्री फवाद हुसैन ने श्रीलंकाई खिलाड़ियों के पाक में क्रिकेट ना खेलने को लेकर एक ट्वीट किया. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, 'मेरे कुछ जानकार स्पोर्ट्स कॉमेंटेटर्स ने मुझे बताया कि श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने पाक जाने से मना इसलिए किया, क्योंकि उन्हें हिंदुस्तान ने आईपीएल कॉन्ट्रैक्ट कैंसल करने की धमकी दी. यह बहुत घटिया कार्य है.'पाक मंत्री ने हिंदुस्तान में राष्ट्रवादी भावना के चरम पर पहुंचने का भी आरोप लगाया. फवाद हुसैन ने कहा, 'खेल से लेकर अंतरिक्ष तक, कट्टर राष्ट्रवाद कुछ ऐसा छा गया है, जिसकी हमें निंदा करनी चाहिए. ये भारतीय अथॉरिटीज का घटिया कार्य है.'

आपको बता दें कि वर्ष 2009 में श्रीलंकाई क्रिकेट टीम पर हुए हमले के बाद जैसे-तैसे वहां की क्रिकेट बोर्ड अपनी टीम को पाकिस्तान भेजन पर सहमती दे दी थी.

लेकिन श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने पाक जाने से साफ मना कर दिया. इस बात से परेशान पाकिस्तानी मंत्री ने इसे हिंदुस्तान की साजिश बताया है.गौरतलब है कि वर्ष 2009 में पाक की भूमि पर श्रीलंका की क्रिकेट टीम पर पहले ही हमला हो चुका है. उस दौरान बड़ी कठिन से श्रीलंकाई खिलाड़ी को वहां से बचाकर निकाला गया था.

इस घटना के बाद कई राष्ट्रों की क्रिकेट टीमों ने पाक जाकर क्रिकेट खेलने से मना कर दिया था. कई राष्ट्रों के मना के बाद पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट का आयोजन बंद हो गया.बीच में 2015 में जिम्बाब्वे व 2018 में वेस्ट इंडीज की टीमें यहां खेलने जरूर आई लेकिन किसी बड़ी टीम ने यहां कदम नहीं रखा.