जानिए, मानसून में प्रेग्नेंट महिलाएं कैसे रखे अपना ध्यान

जानिए, मानसून में प्रेग्नेंट महिलाएं कैसे रखे अपना ध्यान

मॉनसून में कई बीमारियां व समस्याएं दस्तक देती हैं। ऐसे में महिलाएं जब प्रग्नेंसी के दौर से गुज़रते हैं तो उन्हें खास ध्यान रखना पड़ता है। इस मौसम में आपको कई तरह की सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है ताकि आप सुरक्षित व स्वस्थ रहें।

Image result for मानसून, प्रेग्नेंट महिलाएं

ऐसे में हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ खास ढंग जिनसे आप अपना ख़याल रख सकते हैं। लेकिन ये सावधानियां बरतनी तब व भी ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाती हैं जब आप प्रेग्नेंट (Pregnancy Tips) होती हैं।

प्रेग्नेंसी के दौरान इस मौसम में ना सिर्फ आपको अपने खान-पान का ध्यान रखने की आवश्यकता होती है, बल्कि कपड़ों से लेकर डेली रूटीन की व भी कई चीजों का खास ख्याल रखना पड़ता है।

* इस मौसम में बैक्टिरिया व फंग्स का संक्रमण किसी भी वस्तु में तुरंत होता है। इसलिए लंब वक्त से कटी सब्जी या फल को ना खाएं। साथ ही, बाहर की चीजों को खाने से भी बचें।इनसे आपको फूड प्वाइजनिंग हो सकती है व बच्चे को नुकसान होने कि सम्भावना है।

* ऐसे मौसम में मछली व मीट खाने से बचें। अगर आप इन्हें खाएं, तो हमेशा अच्छी स्थान से खरीदें व इसे पकाते वक्त भी खास ध्यान रखें। बासी खाने से बचें। इससे आपको पेट से जुड़ी कई समस्या हो सकती हैं।

* अक्सर ऐसा लगता है कि मॉनसूम के ठंडे मौसम में डिहाइड्रेशन की कठिनाई नहीं हो सकती है, लेकिन आपका सोचना गलत है। इस मौसम में ये समस्या ज्यादा होती है। इसलिए नारियल पानी, सूप व बहुत ज्यादा मात्रा में पानी पिएं। पैकेट वाले सूप व जूस ना पिएं।

* बारिश के मौसम में अक्सर फिसलन की कठिनाई होती है। ऐसे में प्रेग्नेंट औरतों को इससे बचकर रहना चाहिए। इसके लिए हमेशा आप संभलकर चलें। कभी भी फिसलने वाले चप्पल ना पहनें। गीले फर्श या जमीन पर चलने से बचें। हील्स ना पहनें।

* धूप की कमी में कपड़े अच्छी तरह नहीं सुखते हैं व कई बार इससे स्किन एलर्जी व रैशेज हो जाते हैं। इसके लिए आप कपड़े धोते वक्त डिटॉल जैसे एंटीसेप्टिक का प्रयोग करें।

* ऐसे मौसम में सिर्फ इर्द-गिर्द नहीं, खुद को भी साफ-सुथरा रखना महत्वपूर्ण होता है। अगर मुमकिन हो, तो दिन में दो बार नहाएं। अगर ठंड महसूस हो, तो गुनगुने पानी का प्रयोगकरें। नहाने के पानी में नीम की पत्तियों का प्रयोग करें।

* नमी की वजह से बारिश के मौसम में कई बार पैर व हाथों की उंगलियों में भी फंग्स की वजह से इंफेक्शन हो जाते हैं। अगर इससे ना बचा जाए, तो ये कई स्किन से जुड़ी बीमारियां बन सकती हैं। इसलिए किसी अच्छे पार्लर से पेडिक्योर व मैनिक्योर कराएं।

* हल्के, हवादार व कॉटन वाले कपड़े पहनें। इससे आपको कई बार बारिश में उमस की कठिनाई होती है वो नहीं होगी। साथ ही, इन्हें सुखाना भी सरल भी होता है व प्रेग्नेंसी में इन कपड़ों में आराम मिलेगा।