अगर आपके बच्चे चला रहे है रात में मोबाइल तो ध्यान हटाने के लिए करे ये टिप्स

अगर आपके बच्चे चला रहे है रात में मोबाइल तो ध्यान हटाने के लिए करे ये टिप्स

बच्चे अपना अधिकांश समय स्क्रीन पर ही बिताते हैं, यहां तक कि अब उनके खेल डिजिटल हो गए हैं. जिसके कारण उनकी फिजिकली एक्टिविटी ना के बराबर ही होती है.

Image result for सोते हुए चला रहे है मोबाइल बच्चे

ऐसे में बच्चों का शारीरिक विकास रूक जाता है व समग्र शारीरिक विकास न होने के कारण बच्चों को फैट की चर्बी और अन्य बीमारियां अपनी जद में ले लेती हैं. लेकिन अगर आप चाहती हैं कि आपके लाडले के साथ ऐसा न हो तो यह बेहद महत्वपूर्ण है कि आप उन्हें फिजिकली एक्टिव बनाएं. तो चलिए आज हम आपको बच्चों को फिजिकली एक्टिव बनाने के कुछ सरल तरीकों के बारे में बता रहे हैं-

लिमिटेड स्क्रीन टाइम

बच्चोंको फिजिकली एक्टिव करने का यह भी एक प्रभावी उपाय है. अगर आप घर में स्क्रीन टाइम को सीमित कर देंगी तो फिर बच्चे के पास बहुत ज्यादा सारा समय खाली बचेगा. आप उस खाली समय में आप उन्हें फिजिकली एक्टिव होने के प्रेरित करें.

लाएं नए खेल:आप बच्चों के लिए ऐसे कुछ खेल लाने की प्रयास करें, जिसमें वह फिजिकली एक्टिव बन सके. मसलन, आप उन्हें रस्सी या हूलाहूप आदि लाकर दे सकती हैं. इस तरह जब बच्चे उनसे खेलेंगे तो उनकी एक्सरसाइज़ भी हो जाएगी.

बताएं आवश्यकता :चूंकि आजकल बच्चे अपना अधिकांश समय स्क्रीन पर ही बिताते हैं व इसलिए उन्हें फिजिकली एक्टिव होने की आवश्यकता महसूस नहीं होती. इसलिए बच्चों को फिजिकली एक्टिव बनाने का सबसे पहला कदम है उन्हें इसकी आवश्यकता समझाना. जब तक बच्चों कोफिजिकली एक्टिवहोने के महत्व के बारे में नहीं पता होगा, तब तक वह इस ओर कोई ध्यान नहीं देंगे.

फन एक्टिविटी : बच्चों को फिजिकली एक्टिव बनाने के लिए महत्वपूर्ण है कि आप उनकी आयु के हिसाब से उन्हें कुछ मजेदार फिजिकल एक्टिविटी के बारे में बताएं. एक्टिविटी ऐसी होनी चाहिए, जिसे करने में बच्चों को मजा आए क्योंकि अगर बच्चे का इंटरस्ट डेवलप नहीं होगा तो फिर वह उसे नहीं करेगा. ध्यान रखें कि आप कभी भी बच्चे के साथ जबरदस्ती न करें, बल्कि उसका इंटरस्ट डेवलप करने की प्रयास करें.

इन टिप्स का प्रयोग कर आप अपने लाडले को हुए भी ज्यादा एक्टिव बना सकती है तो देर किस बात की आज ही अपनाये.