सेमीफाइनल में समाप्त हुआ इंग्लैंड जाने वाली भारतीय टीम का सफर

सेमीफाइनल में समाप्त हुआ इंग्लैंड जाने वाली भारतीय टीम का सफर

खिताब की प्रबल दावेदार के रूप में इंग्लैंड जाने वाली भारतीय टीम का सफर सेमीफाइनल में समाप्त हो गया है। उसे दो दिन तक चले इस रोमांचक सेमीफाइनल मैच में न्यूजीलैंड के हाथों 18 रनों से पराजय का सामना करना पड़ा।

Related image

92 रनों पर ही अपने छह विकेट खो देने वाली भारतीय टीम की पारी संभालने उतरे महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) वरवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) ने अपना अच्छा प्रदर्शन दिखाया, लेकिन धोनी के रन आउट होते ही टीम इंडिया की सारी उम्मीदों पर पानी फिर गया। धोनी के रूप में बड़ा विकेट गिरा तो मैदान में खड़े अंपायर भी अवाक रह गए।

240 रनों का पीछा करना ओल्ड ट्रेफर्ड की पिच पर सरल नहीं था क्योंकि बारिश व मौसम ने यहां की स्थितियां तेज गेंदबाजों के मुफीद बना दी थीं। हिंदुस्तान ने 92 रनों पर ही अपने छह विकेट खो दिए थे। यहां से रवींद्र जडेजा (77) व महेंद्र सिंह धोनी (50) ने सातवें विकेट के लिए 116 रनों की साझेदारी कर हिंदुस्तान को जीत के करीब पहुंचाया। धोनी क्रिज पर हिंदुस्तान की आखिरी उम्मीद थे। आखिरी दो ओवरों में हिंदुस्तान को 31 रनों की दरकार थी। धोनी ने पहली गेंद पर छक्का मारा व दूसरी गेंद पर दो रन लेने चाहे। दूसरा रन लेने दौड़े धोनी, मार्टिन गुप्टिल की डायरेक्ट हिट से पहले बल्ला क्रीज पर नहीं रख सके व यहीं हिंदुस्तान की उम्मीदें समाप्त हो गईं। धोनी ने 72 गेंदों का सामना कर एक छक्का व एक चौका लगाया।

50 रन की पारी खेलने वाले धोनी के इस तरह से रन आउट होने से भारतीय टीम के अतिरिक्त दर्शक सन्न रह गए, क्योंकि मैच हिंदुस्तान के हाथ से निकल चुका था। यहां तक कि मैच में अंपायरिंग कर रहे रिचर्ड केटलबोरो को भी धोनी के विकेट के बाद चौंकते हुए देखा गया। अब उनकी फोटोज़ व वीडियोज सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। यूजर्स तरह-तरह के कैप्शन के साथ वह फोटो शेयर कर रहे हैं।

अंपायर के रिएक्शन की तस्वीर इसलिए दंग करने वाली हैं क्योंकि एक अंपायर को निष्पक्ष माना जाता है। उम्मीद की जाती है कि उह किसी भी टीम की जीत-हार के खुशी या दुखी नहीं होते, लेकिन क्रिकेट का यह मुकाबला ही ऐसा था जिसमें जाने-अनजाने में वह अपनी भावनाओं को जाहीर करने से नहीं रोक सके।

न्यूजीलैंड ने 239 रन बनाए
पता हो कि वर्ल्ड कप का पहला सेमीफाइनल मैच मंगलवार को खेला जाना था लेकिन बारिश के कारण पूरा नहीं हो सका था इसलिए मैच को रिजर्व डे में पूरा कराया गया। मंगलवार के दिन जब मैच रुका तब न्यूजीलैंड का स्कोर पांच विकेट के नुकसान पर 46.1 ओवरों में 211 रन था। बुधवार को न्यूजीलैंड ने अपनी पारी पूरी की व 50 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 239 रन बनाए।