अश्विन की कप्तानी वाली दिन्ग्दुल ड्रैगन्स व चेपक सुपर जाइल्स के बीच खेला गया टूर्नामेंट का पहला मैच

 अश्विन की कप्तानी वाली दिन्ग्दुल ड्रैगन्स व चेपक सुपर जाइल्स के बीच खेला गया टूर्नामेंट का पहला मैच

भारतीय ऑफ स्पिनर गेंदबाज गेंदबाजी में अपनी विविधता के लिए जाने जाते हैं। ऐसा ही कुछ तमिलनाडु प्रीमियर लीग में देखने को मिला जहां अश्विन एक हाथ से गेंदबाजी करते नजर आए। टूर्नामेंट का पहला मैच रविचंद्रन अश्विन की कप्तानी वाली दिन्ग्दुल ड्रैगन्स व चेपक सुपर जाइल्स के बीच खेला गया। इस मुकाबले को रविचंद्रन अश्विन के शानदार ऑलराउंड प्रदर्शन के चलते दिन्ग्दुल ड्रैगन्स की टीम ने 10 रन के अंतर से जीत लिया था

Image result for बल्लेबाजी में भी दिखा अश्विन का दम

आखिरी ओवर में चेपक सुपर गिलीज को जीत के लिए दो गेंदों में 17 रन की आवश्यकता थी आखिरी ओवर कर रहे अश्विन ने कुछ अलग करने की प्रयास की जिससे सभी दंग रह गए।पांचवीं गेंद करते हुए अश्विन ने अधूरे एक्शन के साथ गेंदबाजी की, उन्होंने गलत पैर (बाएं पैर) के साथ रन अप समाप्त किया व बगैर दूसरा हाथ हिलाए एक हाथ से गेंदबाजी की।हालांकि इस गेंद से बल्लेबाज को कुछ परेशान नहीं हुई लेकिन उनकी इस गेंद के बाद सोशल मीडिया पर इसको लेकर चर्चा होने लगी।

बल्लेबाजी में भी दिखा अश्विन का दम

अश्विन की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में नौ विकेट खोकर 115 रन बनाए। कैप्टन अश्विन ने बल्लेबाजी में शानदार प्रदर्शन किया व 19 गेंदों में 37 रन बनाए।अपनी इस पारी में उन्होंने पांच चौके व एक छक्का लगाया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेपॉक की टीम को शुरुआती झटके मिले जिसे वह अंत तक नहीं उभर पाई। गिनदिगुर की ओर से एम सिलाबारासन ने चार ओवर में चार विकेट हासिल किए। अश्विन की टीम ने इस मैच में 10 रन से जीत दर्ज की।