तेलंगाना : पुलिस कमिश्नर ऑफिस के अधिकारियों ने एनएचआरसी टीम को किए सभी विवरण प्रस्तुत

 तेलंगाना : पुलिस कमिश्नर ऑफिस के अधिकारियों ने एनएचआरसी टीम को  किए सभी विवरण प्रस्तुत

 तेलंगाना पुलिस ने बीते मंगलवार को हैदराबाद के बाहरी इलाके में पशु डॉक्टर के साथ गैंगरेप व हत्या के बाद आरोपियों के एनकाउंटर से संबंधित मुद्दे की रिपोर्ट राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) को सौंप दी है.

साइबराबाद पुलिस कमिश्नर ऑफिस के अधिकारियों ने एनएचआरसी टीम को सभी विवरण प्रस्तुत किए, जो 6 दिसंबर के एनकाउंटर की जाँच कर रही है. पुलिस ने शादनगर शहर के पास चटनपल्ली में इस जघन्य क्राइम में शामिल सभी चार आरोपियों को एनकाउंटर में ढेर कर दिया था.

 

पुलिस ने हैदराबाद के बाहरी इलाके में शमशाबाद के पास महिला वेटनरी चिकित्सक के साथ बलात्कार और मर्डर के मुद्दे में उनके द्वारा की गई जाँच का सारा ब्योरा भेज दिया है. एनएचआरसी की सात सदस्यीय टीम ने मंगलवार को लगातार चौथे दिन एनकाउंटर से संबंधित अपनी जाँच जारी रखी.

एनएचआरसी ने 7 दिसंबर को अपनी जाँच प्रारम्भ की थी व इसने अब तक सभी चार मारे गए आरोपियों व पीड़ित के परिवार के सदस्यों से पूछताछ की है. आयोग की टीम ने उस स्थान का दौरा भी किया है, जहां पर क्राइम हुआ था. इसके साथ ही वह महबूबनगर स्थित उस सरकारी अस्पताल भी पहुंचे, जहां आरोपियों के मृत शरीर रखे गए थे.

 

तेलंगाना उच्च न्यायालय के आदेश पर सोमवार को शवों को हैदराबाद के गांधी अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया था. पुलिस द्वारा फर्जी एनकाउंटर का आरोप लगाते हुए इस विषय में गहन जाँच की मांग करने वाली कुछ याचिकाओं की सुनवाई करते हुए न्यायालय ने अधिकारियों को 13 दिसंबर तक शवों को संरक्षित करने का आदेश दिया था.

 

गौरतलब है कि महिला पशु डॉक्टर डाक्टर दिशा (बदला हुआ नाम) से हैदराबाद के बाहरी इलाके शमशाबाद में 27 नवंबर को सामूहिक बलात्कार किया गया व उसके मृत शरीर को शादनगर कस्बे के पास जला दिया गया. शादनगर कस्बा, हैदराबाद से करीब 50 किमी दूर है. दोनों क्राइम स्थल साइबराबाद पुलिस की सीमा में आते हैं.