महानगरों से घर लौट रहे प्रवासी, कोरोना लॉकडाउन नहीं, यह भी है एक बड़ी वजह

महानगरों से घर लौट रहे प्रवासी, कोरोना लॉकडाउन नहीं, यह भी है एक बड़ी वजह

महाराष्ट्र के विभिन्न शहरों के साथ ही गुजरात के सूरत और अहमदाबाद जैसे रोजगार देनेवाले महानगरों से इन दिनों उत्तर प्रदेश और बिहार की ओर जानेवाले लोगों की भीड़ अचानक बढ़ गई है। सामान्य एवं विशेष ट्रेनों के अलावा सड़क मार्ग एवं हवाई मार्ग से भी लोग उत्तर भारत की ओर जा रहे हैं। इसके पीछे कोरोना एवं लॉकडाउन के थोड़े डर के अलावा उत्तर प्रदेश का पंचायत चुनाव भी एक बड़ा कारण है। इसके अलावा भी कई वजहें हैं। पढ़ें यह रिपोर्ट...

सिहरा देती हैं लॉकडाउन की यादें

कोरोना के चलते एक साल पहले लगे लॉकडाउन की यादें मुंबई, सूरत और अहमदाबाद में रहनेवाले उत्तर प्रदेश-बिहार मूल के प्रवासियों को आज भी सिहरा देती हैं। इसलिए महाराष्ट्र में कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप के कारण लॉकडाउन की आशंका लोगों को फिर से डराने लगी है। महाराष्ट्र सरकार ने शनिवार को इस संबंध में एक सर्वदलीय बैठक भी बुलाई है।

यूपी में पंचायत चुनाव भी बड़ी वजह

इसके अलावा उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव भी हो रहे हैं। भदोही के रहनेवाले अभिषेक पांडे बताते हैं कि ग्राम प्रधान पद के प्रत्याशी इन महानगरों में रहनेवाले अपनी ग्राम सभा के लोगों को मतदान के लिए बुलाने का पूरा प्रयास कर रहे हैं। उन्हें ट्रेन के टिकट एवं पूरी-पूरी एसी बसें बुक करके दी जा रही हैं। कुछ बसें तो सीधे एक ही गांव के लोगों को लेकर निकल रही हैं, जिनका किराया संभवत: किसी न किसी प्रधान पद के प्रत्याशी की ओर से ही दिया जा रहा है।


फसलों की कटाई का मौसम

मुंबई के एक ट्रेन टिकट एंजेंसी में काम करनेवाले संजय सिंह बताते हैं कि मुंबई से सामान्य दिनों में भी अप्रैल से मई महीनों के बीच करीब 16 से 20 लाख लोग उत्तर भारत की ओर जाते हैं क्योंकि इस सीजन में स्कूल बंद हो जाते हैं, गांव में गेहू, सरसों इत्यादि की कटाई का मौसम होता है, साथ ही शादी-विवाह भी बड़े पैमाने पर होते हैं।

सभी ट्रेनें फुल


मुंबई से उत्तर प्रदेश एवं बिहार की ओर जानेवाली ट्रेनों की संख्या दो दर्जन के करीब है। ये सारी ट्रेनें इन दिनों पूरी तरह भर कर जा रही हैं। हालांकि ट्रेनों में बैठने की क्षमता भर यात्रियों को ही चलने की अनुमति है। बावजूद इसके, कोचों में क्षमता से अधिक यात्री यात्रा करते दिखाई दे रहे हैं।

मध्य रेलवे ने कहा, कोई पलायन नहीं

मुंबई, प्रेट्र। मध्य रेलवे ने उन खबरों को पूरी तरह से गलत बताया है, जिसमें कहा जा रहा है कि मुंबई से बड़ी संख्या में लोग अपने पैतृक घरों को पलायन कर रहे हैं। मध्य रेलवे के महाप्रबंधक संजीव मित्तल ने कहा कि इंटरनेट मीडिया पर रेलवे स्टेशनों पर भीड़ की कुछ पुरानी तस्वीरें और वीडियो साझा किए जा रहे हैं जिससे लोगों को सावधान रहने की जरूरत है।


अप्रैल मई में रहती है यात्रियों की भीड़

मित्तल ने लोगों से इस तरह के वीडियो साझा नहीं करने की अपील करते हुए कहा कि इस संबंध में रेलवे पुलिस ने मामला भी दर्ज किया है। मित्तल ने कहा कि अप्रैल और मई में यात्रियों की भीड़ रहती है। मौजूदा भीड़ भी उसी का हिस्सा है और पलायन जैसी कोई बात नहीं है। सिर्फ कंफर्म टिकट वालों को ही यात्रा करने दिया जा रहा है। उन्होंने लोगों से यात्रा के दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव के नियमों का पालन करने की भी अपील की।


बांद्रा के बैंडस्टैंड में 20 वर्ष की लड़की के साथ गैंगरेप

बांद्रा के बैंडस्टैंड में 20 वर्ष की लड़की के साथ गैंगरेप

मुंबई: बांद्रा पुलिस ने तीन लोगों को एक 20 वर्ष की लड़की से गैंगरेप करने के आरोप में हिरासत में लिया है एक वरिष्ठ ऑफिसर ने बताया कि चारों लोग एक दूसरे को जानते हैं पुलिस ने बताया कि चारों लोग मुंबई के गोवंडी स्थित शिवाजीनगर इलाके में रहते हैं

पुलिस ने बताया कि 12 मई की शाम को चारों कपड़े खरीदने के लिए शिवाजी बाजार गए थे चूंकि मुंबई में कोविड-19 के मामलों के चलते लॉकडाउन है, जिसकी वजह से कई दुकानें बंद हैं शिवाजी बाजार बंद होने के कारण चारों ने बांद्रा के बैंडस्टैंड जाने का फैसला लिया

अकेले होने का उठाया फायदा

एक ऑफिसर ने बताया कि घटना बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान के मन्नत बंगले से कुछ मीटर की दूरी पर ही हुई है चारों ही मन्नत बंगले के सामने बैंडस्टैंड पर गए, जहां पर पीड़िता के अकेले होने का लाभ उठाकर तीनों ने उसका गैंगरेप किया इस घटना के बाद पीड़िता ने तुरंत ही मुद्दे की जानकारी बांद्रा पुलिस को दी

पुलिस ने पीड़िता की कम्पलेन के आधार पर आईपीसी की धारा 376, 376 (डी) और 34 के अनुसार केस दर्ज कर तीनों लड़कों को अरैस्ट कर लिया अरैस्ट लड़कों में से दो लोगों की आयु 21 वर्ष है तो तीसरे आरोपी की आयु 19 वर्ष है


कोविड-19 पॉजिटिव रुबीना दिलैक का अब ऐसा है हाल, फूट-फूटकर रोती दिखीं       मिलिंद सोमन डोनेट नहीं कर पाए प्लाज्मा, हॉस्पिटल ने लौटाया       इन हिरोइनों ने प्यार के लिए बदल लिया अपना धर्म       कंगना रनौत इजरायल-फिलिस्तीन मुद्दे में ट्रोल्स पर भड़कीं, कहा...       नेपाल में पीएम पद की शपथ पर विवाद, ओली ने नहीं दोहराया राष्ट्रपति का बोला वाक्य       कहीं खतरनाक रूप न ले ले इजरायल-फलस्‍तीन के बीच छिड़ी लड़ाई! तुर्की का कड़ा रुख       दुनिया में एक दिन में मिले 5.70 लाख नए केस, दस हजार संक्रमितों की गई जान       गाजा टनल को हथियार के तौर पर इस्तेमाल करता है हमास, जानें       इजराइल की भीषण बमबारी से कांपा गाजा शहर, अब तक 201 फलस्तीनियों की मौत       अमेरिका में स्वीकृत टीके पहली बार विदेश भेजेगा अमेरिका, राष्ट्रपति जो बाइडन का एलान       इजरायल-फिलीस्‍तीन के बीच सीजफायर कराने के लिए अमेरिकी राष्‍ट्रपति बाइडन पर बढ़ा दबाव       पाकिस्तान में ईश निंदा आरोपी को मारने के लिए थाने में घुसी भिड़       कोरोना के खिलाफ भारत की मदद जारी रखेगा अमेरिका       जो बाइडन से कई गुना ज्यादा है कमला हैरिस की कमाई, जानें       व्यक्ति ने सांप पकड़ने के लिए लगाया ऐसा जुगाड़       कार एक्सीडेंट के बाद व्यक्ति ने किया कुछ ऐसा, जानकर हंसी नहीं रोक पाएंगे       Covid-19 से भारतियों की सुरक्षा के लिए इजरायली लोगों ने किया ॐ नमः शिवाय का जाप       शॉर्टकट संस्कार पर महिला को आया गुस्सा, देखें फिर क्या हुआ...       महिला ने डॉगी को सिखाया खाने से पहले प्रार्थना करने का पाठ       थोक महंगाई दर ने तोड़े सारे रिकॉर्ड! अप्रैल में WPI हुई 10.49 परसेंट