देश के कई राज्यों में अगले 5 दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट, दिल्ली में 1 हफ्ते देर पहुंचेगा मानसून

देश के कई राज्यों में अगले 5 दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट, दिल्ली में 1 हफ्ते देर पहुंचेगा मानसून

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने देश के कई राज्यों में अगले पांच दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। आईएमडी के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के कारण अगले पांच दिन तक पश्चिमी हिमालयी क्षेत्रों और नॉर्थवेस्‍ट के आसपास के इलाकों में तेज बारिश हो सकती है। स्काइमेट के मुताबिक, ओडिशा, पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों और पूर्वोत्तर भारत में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।

स्काइमेट के अनुसार- सिक्किम, बिहार के कुछ हिस्सों, पूर्वी उत्तर प्रदेश, झारखंड और छत्तीसगढ़ के अलग-अलग हिस्सों, तटीय आंध्र प्रदेश, केरल, तटीय कर्नाटक के कुछ हिस्सों और तमिलनाडु के कुछ भागों में एक या दो दिन तक भारी बारिश के साथ हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

स्काइमेट के मुताबिक- पूर्वी मध्य प्रदेश, दक्षिण-पूर्व राजस्थान, दक्षिण-पश्चिम एमपी, कोंकण और गोवा और गुजरात क्षेत्र के कुछ हिस्सों में भी हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। इसके साथ ही पश्चिमी हिमालय, तेलंगाना और आंतरिक कर्नाटक में छिटपुट हल्की बारिश हो सकती है।

स्काइमेट के मुताबिक, एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तर पश्चिमी बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के आसपास के हिस्सों पर बना हुआ है। एक ट्रफ रेखा पंजाब से लेकर हरियाणा, उत्तर प्रदेश के उत्तरी भागों, उत्तर पश्चिमी बिहार और इससे सटे पूर्वी उत्तर प्रदेश, झारखंड और गंगीय पश्चिम बंगाल से होते हुए उत्तर पूर्व बंगाल की खाड़ी तक जा रही है। चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बांग्लादेश के दक्षिण और इससे सटे उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी पर बना हुआ है। एक ट्रफ रेखा अब उत्तरी कर्नाटक से दक्षिण केरल तट तक फैली हुई है।

दिल्ली में एक हफ्ते देरी से आएगा मानसून !

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक अगले सात दिनों के दौरान दिल्ली और राजस्थान, हरियाणा तथा पंजाब के कुछ हिस्सों में मानसून के आगे बढ़ने की संभावना नहीं है। आईएमडी ने एक बयान में कहा कि दक्षिण-पश्चिम मानसून अब तक राजस्थान, दिल्ली, हरियाणा और पंजाब के कुछ हिस्सों को छोड़कर देश के अधिकांश हिस्सों में आ चुका है। इसमें कहा गया है कि इस साल मानसून की मुख्य विशेषता पूर्वी, मध्य और उत्तर-पश्चिम भारत में सामान्य से पहले आगे बढ़ना है। हालांकि अगले सात दिनों के दौरान देश के शेष हिस्सों में इसके और आगे बढ़ने की संभावना नहीं है।

मौसम विज्ञान के मुताबिक, पश्चिमी हवाएं कुछ दिनों से उत्तर-पश्चिम भारत के शेष हिस्सों में मानसून को आगे बढ़ने से रोक रही हैं। इनके कम से कम एक सप्ताह तक बने रहने की उम्मीद है। दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर पश्चिम भारत में आने वाले दिनों में तापमान के 38-39 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की संभावना जताई गई है।


देश में एक बार फिर कोरोना के मामलों में हुई बढ़ोतरी

देश में एक बार फिर कोरोना के मामलों में हुई बढ़ोतरी

देश में कोरोना (Coronavirus) के मामले एक बार फिर से बढ़ना शुरू हो रहे है. जिसके बाद चिकित्सा विभाग अलर्ट मोड पर आ गए है. बात करें मामलों की तो केरल में तेजी से कोरोना (Kerala Mein Corona Case) के मामले बढ़ रहे है. देशभर में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 43,654 नए मामले सामने आए (Aaj India Mein Corona Ke Kitne Naye Mamle Aae) है. वहीं, 640 लोगों की मौत भी हुई है. वहीं, कोरोना के कुल नए मामलों में आधे से ज्यादा मरीज अकेले केरल से हैं. केरल में मंगलवार को कोरोना के 22,129 नए मामले सामने आए हैं, जो कि 29 मई के बाद एक दिन में मिले संक्रमितों की सबसे बड़ी संख्या है. बढ़ते मामलों के बीच केरल इस समय सबसे अधिक चिंता का विषय बना हुआ है. देश के कुल मामलों का लगभग 50 परसेंट केरल से ही है. राज्य में पिछले 24 घंटे में 22129 केस दर्ज किए गए हैं. केरल में डेली मामलों का औसत करीब 16700 केस बना हुआ है. केरल के अलावा पूर्वोत्तर के राज्यों में भी कोरोना के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. इन जगहों पर आए हैं मामले सबसे ज्यादा 4,037 मामले मलाप्पुरम से सामने आए हैं. इसके बाद त्रिशूर में 2,623, कोझिकोड से 2,397 और एर्नाकुलम से 2,352 और पलक्कड़ से 2,115 मामले मिले. इसके अलावा कोल्लम से 1,914 और कोट्टायम से 1,136, तिरुवनंतपुरम से 1,100, कन्नूर से 1,072 और अलप्पुझा से 1,064 मामले सामने आए. अलर्ट मोड पर केरल प्रशासन केरल प्रशासन बढ़ते मामलों को देखते हुए अलर्ट मोड पर आ गई है. विभाग ने अस्पतालों में व्यवस्था पूरी कर ली है. जिससे कोरोना की दूसरी लहर की तरह मामला न बिगड़े और समय रहते लोगों को इलाज मिल जाए. इन पांच राज्यों से कोरोना से सबसे अधिक नए मामले देश में जिन पांच राज्यों से कोरोना के सबसे अधिक नए मामले सामने आए हैं, उसमें केरल सबसे ऊपर है. इसके बाद हमेशा की तरह महाराष्ट्र से 6258 नए केस पिछले 24 घंटे में सामने आए. वहीं, तमिलनाडु से 1767 केस और आंध्र प्रदेश से 1540 नए मामले सामने आए. कर्नाटक से भी 1501 नए केस सामने आए हैं. कोरोना वैक्सीन की 44.61 करोड़ डोज देश में अभी तक कोविड-19 रोधी टीके की 44 करोड़ 61 लाख 56 हजार 659 डोज दी जा चुकी है. पांच राज्यों - गुजरात, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में 18-44 आयु वर्ग में एक करोड़ से अधिक लोगों को कोविड-19 रोधी टीके की खुराक दी गई है. वहीं, आंध्र प्रदेश, असम, छत्तीसगढ़, दिल्ली, हरियाणा, झारखंड, केरल, तेलंगाना, हिमाचल प्रदेश, ओडिशा, पंजाब, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल में 18-44 आयु वर्ग में 10 लाख से अधिक लोगों को टीके की पहली खुराक दी गई है.