3000 ट्रैक्टरों के साथ कांग्रेस, नेतृत्व कर रहे कमलनाथ

3000 ट्रैक्टरों के साथ कांग्रेस, नेतृत्व कर रहे कमलनाथ

नई दिल्ली: कृषि कानून के विरोध को और प्रभावी बनाने के लिए किसानों द्वारा 26 मार्च को ट्रैक्टरों की रैली का एलान किया है जिसको हर प्रदेश से समर्थन मिल रहा है। इसी सिलसिले में देपालपुर में कांग्रेस की ट्रैक्टर रैली शुरू हो गई है। इस रैली 3000 ट्रैक्टर शामिल हैं जिसका नेतृत्व प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के कृषि कानून काले कानून हैं। अपराध लगातार बढ़ रहे हैं।

कृषि कानून लागू हुए तो सब तबाह हो जाएगा- कमलनाथ
ट्रैक्टर रैली का नेतृत्व करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ कहा कि सरकार कृषि के निजीकरण का प्रयास कर रही है। इससे हमारी अर्थव्यवस्था तबाह हो जाएगी, क्योंकि किसान से ही देश चलता है। किसानों से ही व्यापार चलता है, इसलिए अगर कृषि कानून लागू हुए तो सब तबाह हो जाएगा। बता दें, रैली में पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, जीतू पटवारी, बाला बच्चन, अरुण यादव समेत मालवा निमाड़ के सभी कांग्रेस विधायक और कार्यकर्ताओं के साथ-साथ 3000 ट्रैक्टर शामिल हैं।

कांग्रेस ने शनिवार को भोपाल में भी बड़ी रैली निकाली थी
कृषि कानूनों के विरोध में कांग्रेस ने शनिवार को भोपाल में भी बड़ी रैली निकाली थी। इस दौरान पुलिस ने आंदोलन कर रहे कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं और कार्यकर्ताओं पर लाठी चार्ज किया था और वॉटर कैनन का इस्तेमाल किया था। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, उनके बेटे जयवर्धन समेत 106 नेताओं-कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया। पुलिस पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह, कैलाश मिश्रा, पूर्व मंत्री पीसी शर्मा समेत कार्यकर्ताओं को सेंट्रल जेल ले गई। टीटीनगर पुलिस ने उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 151 के तहत कार्रवाई की और बाद में जमानत पर छोड़ दिया।

 किसान उद्योगपतियों का बंधुआ मजदूर बन जाएगा-कमलनाथ
प्रदर्शन के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा था- केंद्र ने किसानों के लिए काले कानून बनाए हैं। मैंने अपने समय में MSP के लिए केंद्र सरकार से लड़ाई लड़ी थी। क्या दिल्ली में बैठे किसानों में बुद्धि नहीं है, कि वे क्या कर रहे हैं? ये कानून अमल में आए तो मंडियों को बड़े-बड़े उद्योगपति अपनी चपेट में ले लेंगे। उन्होंने कहा कि किसान उद्योगपतियों का बंधुआ मजदूर बन जाएगा।

आंदोलन जारी रहेगा-कमलनाथ
हम एकत्रित हुए हैं देश के सभी किसानों के लिए। कांग्रेस ने ऐलान किया है कि जब तक किसानों के मुद्दे पर केंद्र सरकार कोई फैसला नहीं करती, तब तक वो अपना आंदोलन जारी रखेगी। वहीं कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने केंद्र सरकार के फिलहाल कृषि कानून लागू नहीं करने के आश्वासन को किसानों की आंशिक जीत बताया है। लक्ष्मण सिंह ने कहा कांग्रेस पार्टी किसानों के समर्थन में अपने आंदोलन को जारी रखेगी।


8 वर्ष के बच्चे के साथ सौतेली मां ने की बर्बरता, शरीर पर मिले गहरे घाव

8 वर्ष के बच्चे के साथ सौतेली मां ने की बर्बरता, शरीर पर मिले गहरे घाव

दिल्ली के हरिनगर इलाके से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. एक 8 वर्ष के बच्चे को उसकी सौतेली मां द्वारा बहुत बुरी तरह से मारा पीटा जा रहा था. बच्चे की चीखें सुन मंगलवार को पड़ोस के लोगों ने दिल्ली महिला आयोग (DCW) के हेल्पलाइन नंबर पर इसकी सूचना दी. अयोग ने मौके पर पहुंचकर बच्चे को बचाया.

आयोग ने हेल्पलाइन नंबर 181 पर आई कॉल के तुरंत बाद टीम गठित की जो की मौके पर पहुंची. शिकायतकर्ता ने बताया कि उसने कई बार इसकी कम्पलेन पुलिस को भी की थी, लेकिन पुलिस द्वारा इसे घर का केस बताकर कोई कार्रवाई नहीं की गई. शिकायतकर्ता ने अपने फोन में एक वीडियो भी दिखाई जिसमें बच्चा चीखता हुआ दिखाई और सुनाई दे रहा है और उसे पीटने की भी आवाजें सुनाई दे रही हैं. इतना ही नहीं, टीम जिस समय मौके पर पहुंची उस समय भी घर से बच्चे के रोने और चीखने की आवाजें सुनाई दे रही थीं. आयोग ने पुलिस को फोन कर पीसीआर वैन को बुलाया और बच्चे को घर से सुरक्षित बाहर निकाला. इसके बाद बच्चे और उसकी सौतेली मां को हरिनगर पुलिस थाने ले जाया गया.

बच्चे की काउंसलिंग की गई

पुलिस थाने ले जाकर बच्चे की काउंसलिंग की गई. बच्चा बहुत डरा हुआ था और कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं था, हालांकि काउंसलिंग के बाद बच्चे ने अपनी आपबीती बताई. बच्चे ने बताया कि उसके साथ रोज उसकी सौतेली मां द्वारा हाथापाई की जाती थी, कई बार उसे खाना नहीं दिया जाता था और ना ही उसे घर से बाहर निकलने दिया जाता था. बच्चे ने बताया कि जब मां बाहर जाती थी तो उसे रस्सी से बांधकर जाती थी. आयोग के बताया कि बच्चे के हाथ पर जख्मों के निशान उसके साथ हुई बर्बरता की कहानी साफ दर्शाते हैं. उसके हाथ पर कंघी से हमला करने के भी निशान हैं, जिसकी वजह से हाथ में छोटे गहरे घाव हो गए हैं. उसके पूरे हाथ सूजे हुए हैं. पीठ पर नोंचने के निशान हैं. सिर में अमानवीय चोटें हैं और पूरे शरीर पर गंभीर जख्म हैं. अच्छी तरह से खाना न मिलने के कारण बच्चा निर्बल भी हो गया है.

बच्चे को मेडिकल जाँच के बाद पिता को सौंपा गया

बच्चे के बयान के आधार पर इस मुद्दे में हरिनगर पुलिस थाने में कम्पलेन दर्ज कराई गई है. बच्चे को मेडिकल जाँच के लिए ले जाया गया. जाँच के बाद बच्चे को आश्रयगृह ले जाया गया और उसके बाद बुधवार को उसे चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के सामने पेश किया गया. कमेटी ने बच्चे के पिता को बुलवाया, पिता ने बताया कि ये उसकी दूसरी विवाह है और लॉकडाउन के बाद से ही वो मुंबई में रह रहा था और उसका बच्चा दिल्ली में उसकी पत्नी के साथ रह रहा था. कमेटी के समक्ष बच्चे के पिता ने लिखित आश्वासन दिया कि वो बच्चे की सुरक्षा का ध्यान रखेगा और बच्चा मैंगलोर में अपने दादा दादी के पास रहेगा. इसके चलते कमेटी ने बच्चे को उसके पिता को सौंप दिया है.

स्वाति मालीवाल ने अफसोस जताया

इस मुद्दे का संज्ञान लेते हुए DCW अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने चाइल्ड वेलफेयर कमेटी को पत्र लिखकर अफसोस जताया है. उन्होंने बोला कि न तो अब तक सौतेली मां के विरूद्ध एफआईआर दर्ज हुई है और उल्टा बिना जांच-पड़ताल बच्चे को उसके पिता को सौंप दिया गया है. उन्होंने पत्र में लिखा है कि बच्चा अपनी दादी के साथ रहना चाहता है पर उसे उसके पिता के साथ बिना किसी जांच-पड़ताल के जाने देना कितना ठीक होगा, जबकि पिता ने भी बच्चे की सुध नहीं ली. उन्होंने कमेटी से निवेदन करते हुए लिखा है कि मुद्दे में सौतेली मां के विरूद्ध एफआईआर कराएं और ये सुनिश्चित किया जाए की बच्चा सुरक्षित उसकी दादी के पास मैंगलोर पहुंच जाए.

स्वाति मालीवाल ने बोला कि ये मामला बहुत अधिक संगीन और डराने वाला है. आयोग ने अपने काम क्षेत्र से बाहर जाते हुए छोटे बच्चे को बचाया. नन्हें से मासूम के साथ इस प्रकार की हाथापाई और दुर्व्यवहार पूरी मानवता को शर्मसार करता है. इतने गंभीर मुद्दे में भी एफआईआर दर्ज न होना बहुत ही दुखद है. आयोग ने बोला कि पुलिस को नोटिस भेज रहे हैं.


बंदूक तो सिर्फ़ शौक के लिए रखता हूं... फुल एक्शन अवतार में जॉन अब्राहम       वीर सावरकर की पुण्यतिथि पर भारतरत्न लता मंगेशकर ने दी श्रद्धांजलि       ये एक्टर आज शुरू करेंगे 'गंगूबाई काठियावाड़ी' की शूटिंग       कभी पेंटर बनना चाहते थे प्रकाश झा, इतने साल बाद दीप्ति नवल संग लिया था तलाक       Ranbir Kapoor और आलिया भट्ट की तस्वीर हुई वायरल       Raisin Water Benefits: रोज़ाना पिएंगे किशमिश का पानी फिर देखें इसका कमाल       Immunity Improve Tips: इन कुछ हेल्दी तरीकों से इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाएं       दिल और लिवर को रखना चाहते हैं सुरक्षित, तो डाइट में शामिल करें ये सब्जी       Health Benefits of Bitter Foods: ऐसी कुछ कड़वी सब्जियां जो सेहत का ख़ज़ाना है, जानें       Dieting Side Effects: डाइटिंग का सोच रहे हैं, तो जान लें इसके बारे में       तेजी से वजन बढ़ाना चाहते हैं, तो दिन में करें ये काम       मोटापा, डायबिटीज, दिल की बीमारियों का रिस्क कम करने के लिए करें ये काम       ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए ऐसे करें इसका सेवन       नेचुरल तरीके से हैप्पी हार्मोन बढ़ाने के लिए फॉलो करें ये घरेलू उपाय       रक्त को भी प्रभावित करता है Covid-19, शरीर में हो सकते हैं ये...       Dasvi के सेट से यामी गौतम ने शेयर किया अपना IPS का लुक       Kiston Song: आज रिलीज होगा जाह्नवी कपूर- राजकुमार राव की फिल्म 'रूही' का दूसरा गाना 'किस्तों'       इस एक्ट्रेस ने बॉलीवुड को लेकर फिर दिया बड़ा बयान       Happy Birthday Danny: जया बच्चन के पुराने दोस्त हैं डैनी, एक साथ की क्लास में पढ़ाई       इस बार भी लीड रोल में होंगे अजय देवगन और तब्बू, Drishyam 2 का हिंदी रीमेक बनाने की तैयारी शुरू