कब है सोमवती अमावस्या, जानें तिथि, शुभ मुहूर्त और महत्व

कब है सोमवती अमावस्या, जानें तिथि, शुभ मुहूर्त और महत्व

हिंदू धर्म में पूर्णिमा व अमावस्या का महत्व बेहद विशेष माना गया है। हर माह के कृष्ण पक्ष की आखिरी तारीख को अमावस्या आती है। चैत्र माह की अमावस्या 12 अप्रैल को है। इस दिन सोमवार है इसलिए इसे सोमवती अमावस्या भी कहा जा रहा है। सबसे अहम बात यह है कि वर्ष 2021 में केवल एक ही सोमवती अमावस्या पड़ रही है। इस दिन दान का महत्व भी अत्याधिक होता है। मान्यता है कि इस दिन दान करने से व्यक्ति के घर में सुख-शांति और खुशहाली आती है। आइए जानते हैं क्या है सोमवती अमावस्या की तिथि, शुभ मुहूर्त और महत्व।

सोमवती अमावस्या शुभ मुहूर्त:

चैत्र मास, कृष्ण पक्ष, अमावस्या

12 अप्रैल 2021, सोमवार

अमावस्या तिथि प्रारम्भ- 11 अप्रैल 2021, रविवार, सुबह 06 बजकर 03 मिनट से

अमावस्या तिथि समाप्त- 12 अप्रैल 2021, सोमवार, सुबह 8 बजे तक


सोमवती अमावस्या का महत्व:

सोमवती अमावस्या के दिन सुहागिनें अपने पति की लंबी आयु के लिए व्रत रखती हैं। साथ ही इस दिन पितरों का तर्पण भी किया जाता है। ऐसा करने से व्यक्ति को पितरों का आशीर्वाद प्राप्त होता है। इस दिन दान करने से घर में सुख-शांति व खुशहाली आती है। अमावस्या का दिन, हिंदू परंपरा में बहुत महत्व रखता है। अमावस्या का दिन सबसे शुभ माना जाता है। सोमवार को पड़ने वाली अमावस्या को सोमवती अमावस्या के रूप में जाना जाता है और इसका एक विशेष महत्व है। माना जाता है कि अगर इस अमावस्या पर कोई उपवास करता है तो सभी इच्छाएं पूरी हो सकती हैं।


लॉकडाउन में घर में रहने से बिगड़ रहे है पार्टनर संग रिश्ते, रोमांटिक पलों के लिए करें ये काम

लॉकडाउन में घर में रहने से बिगड़ रहे है पार्टनर संग रिश्ते, रोमांटिक पलों के लिए करें ये काम

आजकल कोरोना का असर हर कहीं दिखाई दे रहा है। इसका असर रिश्तों पर भी खासा नजर आया है। लॉकडाउन के दौरान लोग अपने-अपने घरों पर रहने को मजबूर हैं क्योंकि मौजूदा समय में घर से बाहर जाना सुरक्षित नहीं है। जिसके चलते कई पति-पत्नी के रिश्ते में खटास भी आ रही है। वहीं, अगर आपकी भी अपने पार्टनर से बन नहीं रही है, तो कुछ तरीके हैं जो शायद आपकी मदद कर पाएं। 

रोमांटिक पलों के लिए करें ये काम

कई लोगों की आदत होती है कि पूरा गुस्सा वो अपने पार्टनर पर निकालते हैं। इससे रिश्ते में खटास आना स्वाभाविक है। इसलिए आपको अपने प्यार के रिश्ते में गलतफहमी नहीं होने देनी है। 


पार्टनर संग रोमांटिक पल बिताने का इससे अच्छा समय शायद ही फिर कभी मिल पाए। ऐसे में आपको मोबाइल की जगह अपने पार्टनर से बातें करनी है और उनके साथ समय बिताना है।

आप घर पर अपने पार्टनर के साथ हैं, तो दोनों को एक-दूसरे का सम्मान करना चाहिए। सम्मान करने से प्यार बढ़ता है और रिश्ते में खटास नहीं आती है।


प्यार के रिश्ते में तो भरोसे का अहम रोल होता है। अगर आपका पार्टनर किसी से फोन पर हंस-हंसकर बात कर रहा है, किसी के बारे में ज्यादा बातें कर रहा है तो इसका मतलब ये नहीं कि आप उन पर शक करने लगें।


सीएम योगी के निर्देश के बाद रंग ला रही आबकारी तथा चीनी विभाग की मेहनत’       शिक्षकों के वेतन निर्गत में लापरवाही करने के कारण बीएसए गाजीपुर और लेखाधिकारी गाजीपुर के खिलाफ कार्यवाही करने के दिये निर्देश       पशु स्वास्थ सेवाओं के विस्तार हेतु 520.763 रुपये की धनराशि स्वीकृत       विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में 20 मई से ऑनलाइन पढ़ाई, कर्मचारी 50 प्रतिशत ही आएंगे       उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के ’नए अध्यक्ष श्री संजय श्रीनेत ने पदभार’ ग्रहण किया       अखिलेश ने गन्ना किसानों को उनके गन्ना मूल्य का नहीं किया था भुगतान : सिद्धार्थनाथ सिंह       तलाक होते ही अनुपमा ने बदला घर, कैंसर से लड़नी होगी अब लड़ाई       Himani Shivpuri ने जताई बुजुर्ग कलाकारों को लेकर फिक्र, कहा...       एक कविता के जरिए अनुपम खेर ने बयां किया अपना हाल-ए-दिल       मुंबई में समंदर किनारे है श्रद्धा कपूर का आलीशान घर       खतरों के खिलाड़ी 11' का पहला एलिमिनेशन, ये अभिनेता होंगे बाहर!       सलमान खान के बॉडी डबल हैं परवेज काजी, सलमान से जुड़ने के बाद बढ़ी कमाई       Khatron Ke Khiladi 11: शो में हुआ पहला शॉकिंग एलिमिनेशन       कोविड-19 पॉजिटिव रुबीना दिलैक का अब ऐसा है हाल, फूट-फूटकर रोती दिखीं       मिलिंद सोमन डोनेट नहीं कर पाए प्लाज्मा, हॉस्पिटल ने लौटाया       इन हिरोइनों ने प्यार के लिए बदल लिया अपना धर्म       कंगना रनौत इजरायल-फिलिस्तीन मुद्दे में ट्रोल्स पर भड़कीं, कहा...       नेपाल में पीएम पद की शपथ पर विवाद, ओली ने नहीं दोहराया राष्ट्रपति का बोला वाक्य       कहीं खतरनाक रूप न ले ले इजरायल-फलस्‍तीन के बीच छिड़ी लड़ाई! तुर्की का कड़ा रुख       दुनिया में एक दिन में मिले 5.70 लाख नए केस, दस हजार संक्रमितों की गई जान