बालों की ग्रोथ बढ़ाना चाहती हैं तो लैवेंडर और विटामिन ई ऑयल लगाएं

बालों की ग्रोथ बढ़ाना चाहती हैं तो लैवेंडर और विटामिन ई ऑयल लगाएं

लंबे और खूबसूरत बाल हर इनसान की चाहत होते है। बाल अगर लंबे और स्ट्रॉन्ग हो तो आपके लुक में निखार आता है। लेकिन हमारी डाइट ऐसी हो गई है कि उसमें पोषक तत्वों का अभाव है, जिसका सीधा असर हमारी बॉडी पर दिखता है। पर्यावरण, खानपान और तनाव की वजह से बालों को लगातार नुकसान पहुंचता हैं। खूबसूरत और मज़बूत बालों के लिए बेहतरीन डाइट और बालों की केयर बेहद जिम्मेदार है। यदि आप बालों की ग्रोथ बढ़ाना चाहते हैं, साथ ही बालों को शाइनी और खूबसूरत बनाना चाहते हैं तो कैमिकल बेस प्रोडक्ट को इस्तेमाल करने के बजाए लैवेंडर और विटामिन ई ऑयल का इस्तेमाल करें। लैवेंडर ऐसा एसेंशियल ऑयल है जो बालों के लिए बेहद फायदेमंद हैं। लैवेंडर और विटामिन ई ऑयल बालों की ग्रोथ बढ़ाएंगे, साथ ही बालों को जड़ों से मज़बूत भी करेंगे।

लैवेंडर ऑयल के गुण:

टॉक्सिकोलॉजी रिसर्च जर्नल में प्रकाशित एक शोध के अनुसार, लैवेंडर का तेल बालों के विकास में मदद करता है। इसके एंटीसेप्टिक गुण सिर की जूं को खत्म करते हैं, साथ ही जीवाणुरोधी गुण बैक्टीरिया और फंगस से निजात दिलाते हैं।


विटामिन ई:

ट्रॉपिकल लाइफ साइंसेज जर्नल में प्रकाशित एक शोध के मुताबिक विटामिन ई बालों की ग्रोथ बढ़ाने में बेहद असरदार है। इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण स्कैल्प में ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करते हैं। विटामिन ई स्कैल्प में रक्त के प्रवाह को भी बढ़ाता है, साथ ही बालों की ग्रोथ भी बढ़ाता है।

लैवेंडर और विटामिन ई हेयर ऑयल कैसे तैयार करें

सामग्री

ताजे या सूखे लैवेंडर फूल

नारियल का तेल 

1 से 2 विटामिन E कैप्सूल

बनाने का तरीका:


इस तेल को बनाने के लिए हमें लैवेंडर के फूल, तना और पत्तियों की जरूरत होती है, इसलिए सबसे पहले लैवेंडर के फूलों के तने काट लें।
इसके बाद एक साफ कांच के जार में उबला हुआ पानी डालें और फिर उसमें लैवेंडर के तने, फूल और पत्ते डालें।
जार में नारियल का तेल डालें और साथ ही विटामिन ई कैप्सूल को तोड़कर डालें।
जार को एक हफ्ते के लिए ऐसी जगह रख दें जो सूखी और गर्म हो।
अब तेल से लैवेंडर के पत्तों, तने और फूलों को छान लें, आपका तेल तैयार है। 


इन तरीकों से करें मां लक्ष्मी की पूजा और पूरी होगी हर मनोकामना

इन तरीकों से करें मां लक्ष्मी की पूजा और पूरी होगी हर मनोकामना

हमें सालभर दीवाली का बेसब्री से इंतजार किया जाता है और दीवाली की तैयारियों की जिम्मेदारी आमतौर पर महिलाएं ही निभाती हैं। बात चाहे रिश्तेदारों और परिचितों को गिफ्ट देने की हो, या घर के लिए नई खरीदारी करने की और इससे भी अहम लक्ष्मी पूजन की, इन सभी चीजों में महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

मां लक्ष्मी की पूजा को बनाएं सफल

# घर से अवांछित सामान जैसे कि पुराने कपडे़, जूते, डिब्बे आदि हटा दें। यह सामान नकारात्मक ऊर्जा का स्रोत होता है और आर्थिक अवसरों पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है। 

# लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए भली प्रकार से पूजन करना भी आवश्यक है। जिस कक्ष में पूजा स्थल बनाएं, वहां ताजा हवा व रोशनी का पर्याप्त प्रबंध होना चाहिए।

# अपने प्रेम व देखरेख से मकान को घर बनाने वाली होती हैं महिलाएं। शास्त्रों में भी वर्णित है कि जिस घर में स्त्री का आदर-मान नहीं होता, वहां दरिद्रता वास करती है।