महिलाएं निखरती और ग्लोइंग स्किन के लिए अपनाएं ये टिप्स

महिलाएं निखरती और ग्लोइंग स्किन के लिए अपनाएं ये टिप्स

आजकल त्योंहारों का सीजन चल रहा है इस दौरान महिलाएं अपनी सुंदरता पर खास ध्यान दे रही है। ऐसे में मार्केट में कई प्रोडक्ट्स है जिन्हें लगाने से स्किन की डलनेस तथा ड्राईनेस चली जाती है। वहीं ऑइली त्वचा पर भी ये मास्क बहुत प्रभावित करते हैं। टैनिंग, पिग्मेंटेशन, एक्ने मार्क्स के साथ-साथ ये मास्क एंटी एजिंग का काम बखूबी करते हैं।

अपनाएं ये टिप्स

इसके लिए टमाटर के साथ अच्छी प्रकार से मैश किए पम्पकिन के साथ दालचीनी तथा आधा चम्मच शहद की आवश्यकता होगी। इन सारी चीजों को मिक्स करके पैक बना लें तथा फेस पर लगाएं। 

अच्छी प्रकार से सूख जाने के पश्चात् इसे ठंडे पानी से धो दें। ये मास्क चेहरे एक्ने तथा इनसे होने वाले दाग-धब्बों को समाप्त करने में सहायता करेंगे। 

वही त्वचा पर होने वाली टैनिंग तथा अनइवन स्किन टोन को अच्छा करने के लिए अल्फा हाईड्रोक्सी पील जैसे लैक्टिक एसिड के मास्क स्किन को मार्क्स तथा टैन लाइन को हटाने में सहायता करते हैं। 


इस प्रकार के पील ऑफ मास्क को बनाने के लिए आवश्यकता होगी दही, चीनी तथा नींबू के रस की। इन तीनों को मिक्स करके एक फैस पैक बना लें तथा फेस पर लगाएं। कुछ देर पश्चात् हल्के हाथों से मसाज करें तथा फिर गुनगुने पानी से चेहरे को धो दें।


कुंडली में सबसे खास ये ग्रह, कमजोर हुआ तो बनेंगे कंगाल

कुंडली में सबसे खास ये ग्रह, कमजोर हुआ तो बनेंगे कंगाल

हमारी कुडंली में ग्रहों की मजबूत स्थिति हमारा सुखद भविष्य तय करती है।अगर नवग्रह कुंडली में अच्छी स्थिति में रहते हैं तो उनकी स्थिति अच्छी रहती है। खासकर बृहस्पति को गुरु और मंत्रणा का कारक मानते है। पीला रंग, स्वर्ण, वित्त और कोष, कानून, धर्म, ज्ञान, मंत्र और संस्कारों को नियंत्रित करता है।

ये शरीर में पाचन तंत्र, मैदा और आयु की अवधि को निर्धारित करता है। पांच तत्वों में आकाश तत्त्व का अधिपति होने के कारण इसका प्रभाव बहुत ही व्यापक और विराट होता है। महिलाओं के जीवन में विवाह की सम्पूर्ण जिम्मेदारी बृहस्पति से ही तय होती है।
 

अशुभ बृहस्पति से संतान पक्ष की समस्याएं भी परेशान करती हैं। व्यक्ति  निम्न कर्म की ओर झुकाव रखता है और बड़ों का सम्मान नहीं करता है। कमजोर बृहस्पति के होने से व्यक्ति के संस्कार कमजोर होते हैं। विद्या और धन प्राप्ति में बाधा के साथ साथ व्यक्ति को बड़ों का सहयोग पाने में मुश्किलें आती हैं। पाचन तंत्र के साथ त बृहस्पति और भी कई गंभीर समस्याएं देता है।
 

कुंडली में बृहस्पति के शुभ हो तो व्यक्ति विद्वान और ज्ञानी होता है,अपार मान सम्मान पाता है। व्यक्ति के ऊपर दैवीय कृपा होती है और व्यक्ति जीवन में तमाम समस्याओं से बच जाता है। ऐसे लोग आम तौर पर धर्म , कानून या कोष (बैंक) के कार्यों में देखे जाते हैं। अगर बृहस्पति केंद्र में हो और पाप प्रभावों से मुक्त हो तो व्यक्ति की सारी समस्याएं गायब हो जाती हैं।
 

बड़े बुजुर्गों का खूब सम्मान करें। हर बृहस्पतिवार को किसी धर्मस्थान पर जरूर जाएं। इससे कुंडली का बृहस्पति मजबूत होगा। नित्य प्रातः हल्दी मिलाकर सूर्य को जल अर्पित करें। शिव की यथाशक्ति उपासना करें। महीने में एक दिन शिव का पंचामृत अभिषेक करें। बरगद के वृक्ष में नियमित रूप से जल अर्पित करें।


कैफीन फ्री कश्मीरी चाय इम्यूनिटी बूस्ट करने के साथ ही वजन भी कंट्रोल करेगी       पल्स ऑक्सीमीटर की ज़रूरत किन लोगों को पड़ती है, जानें       नाश्ते में अगर आप भी रोजाना खाते हैं ब्रेड, तो जान लें कौन सी है ज्यादा बेहतर       कोरोना पॉजिटिव मां से बच्चे को संक्रमण का कितना खतरा हो सकता है, जानिए       एक्सपर्ट से जानें जनरलाइज्ड एंग्ज़ाइटी डिसॉर्डर के बारे में, साथ ही इसके लक्षण       व्रत रखना सेहत के लिए है कितना फायदेमंद और इस दौरान किन बातों का ध्यान रखना है जरूरी       पीएम मोदी की दाढ़ी-बाल का पश्चिम बंगाल से कनेक्शन, इसलिए रखा ऐसा लुक       Co-Win ऐप में खामियां, लोगों को नहीं मिला टीकाकरण का मैसेज       वैक्सीन लगने के बाद एक और शख्स की मौत, जानें       भारत बायोटेक ने दी जानकारी, अगर ये समस्याएं हैं तो ना लगवाएं कोरोना वैक्सीन       CM शिवराज ने दिल्ली में 5 मंत्रियों से की मुलाकात       इस केंद्रशासित प्रदेश में सामने आया कोरोना का पहला केस, जानें       सूरत दर्दनाक हादसा, मृतक के परिवार को 2 लाख रुपये मुआवजा       दोस्ती का बड़ा दावा, रूस-भारत हुए करीब , अमेरिका-चीन को लेकर ये है बड़ा प्लान       बलिदान दिवस: महाराणा प्रताप की शौर्य गाथा, जानिए       बांग्लादेश को ये देश देगा फ्री में वैक्सीन, पाकिस्तान भी देख रहा ये बड़ा सपना       राजनाथ सिंह को दी ये सलाह, गडकरी को सरकारी अस्पतालों पर भरोसा नहीं       आज लॉन्च हो रहा PUBG, यूजर्स में खुशी की लहर       ‘दीदी’ को लेकर क्या सोचता है बंगाल, इस बार भी होगी वापसी या नहीं       लालकिले पहुंची तबाही, 15 मरे कौओं में बर्ड फ्लू की पुष्टि