43 लोगों की गला काटकर हत्या, लाशों को देखकर रो रहा पूरा देश

43 लोगों की गला काटकर हत्या, लाशों को देखकर रो रहा पूरा देश

नई दिल्ली: नाइजीरिया में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां बोको हरम के लड़ाकों ने धान के खेतों में काम करने वाले 43 मजदूरों की बर्बरता के साथ गला रेतकर हत्या कर दी।

वहीं 6 मजदूरों को जख्मी कर दिया। ये पूरी घटना नाइजीरिया के मैदुगुरी शहर की है। इस घटना की जानकारी जिहादी विरोधी मिलिशिया ने दी है। उन्होंने बताया कि इन मजदूरों को पहले रस्सियों से बांधा गया और फिर क्रूर तरीके से इनके गले को धड़ से अलग कर दिया गया।

कई लोगों को मिलिशिया नेता बाबाकुरा कोलो ने मदद करके मरने से बचाया है। उन लोगों ने कोलो को बताया कि हमने घटनास्थल से 43 शवों को बरामद किया है। सभी की क्रूरता के साथ हत्या की गई है।

जबकि छह अन्य लोग बुरी तरह से जख्मी हो गये हैं। उन्होंने कहा, इसमें कोई शक नहीं कि यह बोको हरम का काम है, जो इस इलाके में सक्रिय है और लगातार मजदूरों पर हमला करता रहता है। उसने पहले भी इस तरह की वारदातों का अंजाम दिया है।

राष्ट्रपति ने कही ऐसी बात
इस घटना के बाद नाइजीरिया के राष्ट्रपति मोहम्मदू बुहारी का बयान आया है। जिसमें उन्होंने इस हमले की निंदा की है। उन्होंने कहा है कि इन हत्याओं से पूरा देश घायल हुआ है।

वहीं एक अन्य मिलिशिया इब्राहिम लिमन ने बताया कि इस घटनाक्रम में मारे गए मजदूर उत्तर पश्चिम नाइजीरिया के सोकोतो राज्य के थे।

ये सभी लोग काम की तलाश में इस इलाके में आए थे। लिमन ने बताया कि 60 मजदूरों को धान के खेत में काम करने का जिम्मा सौंपा गया था। उनका शव खेत के पास ही पाया गया है।

आठ लोगों का अब तक नहीं चला कोई सुराग
प्राप्त जानकारी के अनुसार बोको हरम के हमले में 43 लोगों की जान गई है और छह लोग घायल हुए हैं। वहीं, आठ लोगों के बारें में अभी कुछ पता नहीं चल पाया है।

माना जा रहा है कि जिहादियों ने इन लोगों को किडनैप करके रखा है। खोज अभियान में मदद करने वाले एक स्थानीय नागरिक माला बुनु ने बताया कि शवों को जाबरमारी गांव ले जाया गया है जहां उन्हें रविवार को दफन करने से पहले रखा जाएगा। माना जा रहा है अंतिम यात्रा में लोगों की भारी भीड़ जुटेगी।


कोरोना का ऐसा खौफ, 3 महीने एयरपोर्ट पर छिपा रहा युवक

कोरोना का ऐसा खौफ, 3 महीने एयरपोर्ट पर छिपा रहा युवक

शिकागो: साल 2020, एक ऐसा साल जिसे शायद ही कोई भूल पाए। साल के शुरुआती दौर से ही कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया में धीरे-धीरे अपना पैर पसारते चली गई। कोरोना के डर की वजह से लोगों ने खुद को घरों में कैद कर लिया। जो जहां था वो वहीं फंसा गया। ऐसे आपको कई उदाहरण देखने को मिले होगें। कुछ ऐसी घटना शिकागो से भी सामने आई है, जिसे जानकर आपके होश उड़ जाएंगे। बता दें कि शिकागो के एक एयरपोर्ट कैंपस में एक भारतीय मूल का व्यक्ति करीब 3 महीने तक कोरोना के भय छिपा रहा। चलिए जानते है इसकी पूरी कहानी…

कोरोना के डर एयरपोर्ट पर ही छिप गया युवक
जानकारी के मुताबिक, कैलिफोर्निया (California) का रहने वाला एक भारतीय मूल का नागरिक कोरोना के डर के कारण शिकागो के एयरपोर्ट कैंपस में करीब 3 महीने से छिपा हुआ था। बताया जा रहा है कि वो कोरोना से इतना डरा हुआ था कि वो बाहर ही नहीं निकला। हैरत की बात यह कि युवक के छिपने की जानकारी सिक्योरिटी स्टाफ को बाद में पता लगी। युवक के बारे में जानकारी मिलते ही सिक्योरिटी स्टाफ ने तुरंत उसे हिरासत में ले लिया।

16 जनवरी को पकड़ा गया युवक
पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि युवक का नाम आदित्य सिंह है। वह 19 अक्टूबर को O’Hare airport पर पहुंचा और मौका पाकर सिक्योरिटी जोन में जाकर छिप गया। पुलिस के मुताबिक, आदित्य सिंह कोरोना के खौफ से इतना डरा हुआ था कि उसकी वजह से बाहर ही नहीं निकला। एयरपोर्ट स्टाफ को जब 16 जनवरी को इस बात का पता चला, तब उसे तुरंत गिरफ्तार कर लिया।

आदित्य ने दिखाया आईकार्ड
वहीं एयरपोर्ट स्टाफ के अनुसार, जब आदित्य सिंह पकड़ा गया तो उसने अपना एक आईकार्ड दिखाया था, जो एयरपोर्ट स्टाफ का ही था। बता दें कि आदित्य ने जो आईकार्ड स्टाफ को दिखाया था उसके खोने की रिपोर्ट एयरपोर्ट मैनेजमैंट को दे दी गई थी। इसका खुलासा होने के बाद आदित्य सिंह का झूठ सामने आ गया। फिलहाल सिक्योरिटी स्टाफ आदित्य सिंह का बयान दर्ज कर आगे की जांच में जुटी हुई है।


वजन कम करना चाहते है और साथ ही बीमारियों से महफूज रहना चाहते है तो गर्म पानी पीएं       आंखों की रोशनी बढ़ाने के साथ ही कई बीमारियों का उपचार भी करता है शहद       ठंड और प्रदूषण का डबल अटैक बच्चों के लिए बन सकता है खतरा       जानिए, दूध के साथ किन चीजों को खाने से करना चाहिए परहेज, नहीं तो गड़बड़ी की रहती है आशंका       रोजाना सिर्फ 5 मिनट करें ये 3 काम, पेट की चर्बी हो जाएगी गायब!       नींबू को लंबे समय तक स्टोर करके फ्रेश रखना चाहते है तो इन आसान उपायों को अपनाएं       कब्ज से हैं परेशान, तो रोजाना करें ये योगासन       कोरोना काल में फ्लू हो जाने पर इन बातों का रखें ख्याल       पाना चाहते हैं तेज दिमाग, तो सप्ताह में इतने अंडे खाएं       सेहत और फिटनेस के लिहाज से मक्खन या चीज़ में से क्या खाना है ज्यादा बेहतर?       दिमाग में कैसे जमा होती है याददाश्त? वैज्ञानिकों ने खोला राज़       वजन को कंट्रोल करने के साथ ही मुंह को फ्रेश भी रखती है सौंफ, जानिए फायदे       अर्थराइटिस से पीड़ित है तो सबसे पहले अपनी डाइट को दुरुस्त करें       लंबी उम्र के लिए वैज्ञानिकों ने खोजा खास प्रोटीन, जानिए इस प्रोटीन के स्रोत       जोड़ों में होने वाले हल्के दर्द को भी न करें इग्नोर, हो सकता है आर्थराइटिस का संकेत       जानें, सप्ताह में कितनी बार और कैसे ब्लड शुगर जांच करें       क्या काढ़ा और खुद से इलाज करना, कोविड-19 से लड़ने में कर सकते हैं आपकी मदद       इस योग को करने से महज 30 दिनों में मोटापे से मिल सकता है छुटकारा       तनाव और चिंता दूर करने के साथ सुकून भरी नींद के लिए घर में जरूर लगाएं ये पौधे       आंत के कैंसर की संभावनाओं को काफी हद तक कम करते हैं ये फूड आइटम्स