तानाशाह का ऐसा आदेश: कांप उठी पूरी दुनिया

तानाशाह का ऐसा आदेश: कांप उठी पूरी दुनिया

नई दिल्ली: वैसे तो दक्षिण कोरिया अपने बेतुके कानूनों की वजह से बहुत पहले से परिचित है। ऐसे में इन दिनों दक्षिण कोरिया की सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन इन बीच कोरोना संक्रमण को लेकर अजीबोगरीब फैसले ले रहे हैं। सामने आई रिपोर्ट के अनुसार, किम जोंग ने समुद्र में मछली पकड़ने पर प्रतिबंध लगाने और साथ ही राजधानी प्योंगयांग में कम से कम दो लोगों को मारने का आदेश दिया है।

ऐसे कार्य से परहेज
दक्षिण कोरिया में किम की सरकार ने विदेशों में राजनयिकों को किसी भी ऐसे कार्य से परहेज करने का आदेश दिया है जो अमेरिका को उत्तेजित कर सकता है। साथ ही रिपोर्ट के हिसाब से किम अमेरिका के नए राष्ट्रपति बिडेन के उत्तर कोरिया के लिए अपेक्षित नए दृष्टिकोण को लेकर चिंतित हैं। यह जानकारी वहां सांसदों के राष्ट्रीय शांति सेवा द्वारा एक निजी ब्रीफिंग में भाग लेने के बाद दी गई।

साथ ही सांसदों में से एक, हा-के-कुंग ने सूत्रों के हवाले से कहा कि किम “अत्यधिक क्रोध” प्रदर्शित कर रहे हैं और महामारी और इसके आर्थिक प्रभाव पर “तर्कहीन उपाय” कर रहे हैं। ऐसे में कुंग ने कहा कि एनआईएस ने कानूनविदों को बताया कि उत्तर कोरिया ने पिछले महीने प्योंगयांग में एक हाई-प्रोफाइल मनी चेंजर को विनिमय दर को निचले स्तर पर ले जाने के लिए जिम्मेदार ठहराया।

मछली पकड़ने और नमक उत्पादन पर प्रतिबंध
आगे उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया ने अगस्त में विदेश से लाए गए माल को प्रतिबंधित करने वाले सरकारी नियमों का उल्लंघन करने के लिए एक प्रमुख अधिकारी को भी मार दिया। जबकि ही सजा मिलने वाले दो लोगों की पहचान सामने नहीं आ पायी है।

इसके अलावा सांसदों को बताया कि उत्तर कोरिया ने समुद्र में मछली पकड़ने और नमक उत्पादन पर प्रतिबंध लगा दिया है जिससे समुद्री जल को वायरस से संक्रमित होने से बचाया जा सके।

सूत्रों से सामने आई रिपोर्ट में कहा कि उत्तर कोरिया ने कम से कम एक दक्षिण कोरियाई दवा कंपनी पर हैकिंग का असफल प्रयास भी किया, जो कोरोना वायरस वैक्सीन विकसित करने की कोशिश कर रहा था। उसे अपनी धरती पर एक भी कोरोना वायरस केस नहीं मिला है। फिलहाल यहां के अजीबोगरीब वाक्यों से दुनिया भलीभातिं परिचित है।


कोरोना का ऐसा खौफ, 3 महीने एयरपोर्ट पर छिपा रहा युवक

कोरोना का ऐसा खौफ, 3 महीने एयरपोर्ट पर छिपा रहा युवक

शिकागो: साल 2020, एक ऐसा साल जिसे शायद ही कोई भूल पाए। साल के शुरुआती दौर से ही कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया में धीरे-धीरे अपना पैर पसारते चली गई। कोरोना के डर की वजह से लोगों ने खुद को घरों में कैद कर लिया। जो जहां था वो वहीं फंसा गया। ऐसे आपको कई उदाहरण देखने को मिले होगें। कुछ ऐसी घटना शिकागो से भी सामने आई है, जिसे जानकर आपके होश उड़ जाएंगे। बता दें कि शिकागो के एक एयरपोर्ट कैंपस में एक भारतीय मूल का व्यक्ति करीब 3 महीने तक कोरोना के भय छिपा रहा। चलिए जानते है इसकी पूरी कहानी…

कोरोना के डर एयरपोर्ट पर ही छिप गया युवक
जानकारी के मुताबिक, कैलिफोर्निया (California) का रहने वाला एक भारतीय मूल का नागरिक कोरोना के डर के कारण शिकागो के एयरपोर्ट कैंपस में करीब 3 महीने से छिपा हुआ था। बताया जा रहा है कि वो कोरोना से इतना डरा हुआ था कि वो बाहर ही नहीं निकला। हैरत की बात यह कि युवक के छिपने की जानकारी सिक्योरिटी स्टाफ को बाद में पता लगी। युवक के बारे में जानकारी मिलते ही सिक्योरिटी स्टाफ ने तुरंत उसे हिरासत में ले लिया।

16 जनवरी को पकड़ा गया युवक
पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि युवक का नाम आदित्य सिंह है। वह 19 अक्टूबर को O’Hare airport पर पहुंचा और मौका पाकर सिक्योरिटी जोन में जाकर छिप गया। पुलिस के मुताबिक, आदित्य सिंह कोरोना के खौफ से इतना डरा हुआ था कि उसकी वजह से बाहर ही नहीं निकला। एयरपोर्ट स्टाफ को जब 16 जनवरी को इस बात का पता चला, तब उसे तुरंत गिरफ्तार कर लिया।

आदित्य ने दिखाया आईकार्ड
वहीं एयरपोर्ट स्टाफ के अनुसार, जब आदित्य सिंह पकड़ा गया तो उसने अपना एक आईकार्ड दिखाया था, जो एयरपोर्ट स्टाफ का ही था। बता दें कि आदित्य ने जो आईकार्ड स्टाफ को दिखाया था उसके खोने की रिपोर्ट एयरपोर्ट मैनेजमैंट को दे दी गई थी। इसका खुलासा होने के बाद आदित्य सिंह का झूठ सामने आ गया। फिलहाल सिक्योरिटी स्टाफ आदित्य सिंह का बयान दर्ज कर आगे की जांच में जुटी हुई है।


अर्थराइटिस से पीड़ित है तो सबसे पहले अपनी डाइट को दुरुस्त करें       लंबी उम्र के लिए वैज्ञानिकों ने खोजा खास प्रोटीन, जानिए इस प्रोटीन के स्रोत       जोड़ों में होने वाले हल्के दर्द को भी न करें इग्नोर, हो सकता है आर्थराइटिस का संकेत       जानें, सप्ताह में कितनी बार और कैसे ब्लड शुगर जांच करें       क्या काढ़ा और खुद से इलाज करना, कोविड-19 से लड़ने में कर सकते हैं आपकी मदद       इस योग को करने से महज 30 दिनों में मोटापे से मिल सकता है छुटकारा       तनाव और चिंता दूर करने के साथ सुकून भरी नींद के लिए घर में जरूर लगाएं ये पौधे       आंत के कैंसर की संभावनाओं को काफी हद तक कम करते हैं ये फूड आइटम्स       क्या इंट्रानैसल वैक्सीन COVID-19 के खिलाफ लड़ाई में कर सकती है मदद       कॉमन कोल्ड, फ्लू और कोरोना वायरस के अंतर को 3 तरह से समझें!       आप भी खट्टी डकार से परेशान रहते हैं तो इन घरेलू नुस्खों को आजमाएं, जल्द मिलेगी डकार से मुक्ति       कम इंजेक्शनों में नवजात शिशु को बीमारियों से कैसे बचाएं?       शैंपू और बॉथरूम में इस्तेमाल होने वाले क्लीन प्रोडक्ट में होते हैं हानिकारक रसायन       इम्यूनिटी बूस्ट करने से लेकर स्किन के रोगों का इलाज करता है नीम       पाना चाहते हैं तेज दिमाग, तो रोज इतनी मात्रा में पिएं ये जूस       कैफीन फ्री कश्मीरी चाय इम्यूनिटी बूस्ट करने के साथ ही वजन भी कंट्रोल करेगी       पल्स ऑक्सीमीटर की ज़रूरत किन लोगों को पड़ती है, जानें       नाश्ते में अगर आप भी रोजाना खाते हैं ब्रेड, तो जान लें कौन सी है ज्यादा बेहतर       कोरोना पॉजिटिव मां से बच्चे को संक्रमण का कितना खतरा हो सकता है, जानिए       एक्सपर्ट से जानें जनरलाइज्ड एंग्ज़ाइटी डिसॉर्डर के बारे में, साथ ही इसके लक्षण