इंटर्नशिप के लिए पहुंचे इस किशोर ने किया यह बड़ा कारनामा तो नासा ने की यह बड़ी घोषणा

इंटर्नशिप के लिए पहुंचे इस किशोर ने किया यह बड़ा कारनामा तो नासा ने की यह बड़ी घोषणा

अमरीकी अंतरिक्ष एजेंसी नेशनल एयरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) ने इस हफ्ते एक बड़ी घोषणा करते हुए अपनी उपलब्धि बताई. हालांकि नासा को यह बड़ी उपलब्धि दिलाने वाला कोई बड़ा वैज्ञानिक नहीं बल्कि यहां पर इंटर्नशिप के लिए पहुंचा एक 17 वर्षीय किशोर है.

दरअसल, नासा में इस हफ्ते एक 17 वर्षीय किशोर वुल्फ ककियर इंटर्नशिप के लिए पहुंचा. हाईस्कूल के विद्यार्थी ककियर ने इंटर्नशिप के तीसरे ही दिन एक बड़ा कारनामा कर डाला. ककियर ने एक नए ग्रह की खोज की जो दो सूर्य के चक्कर लगा रहा था.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस विषय में ककियर ने कहा, "मैं उन सभी चीजों के लिए डाटा देख रहा था जिन्हें वॉलंटियर्स ने एक ग्रहण रूपी बाइनरी के रूप में चिह्नित किया था, यह एक प्रणाली होती है जहां दो तारे एक-दूसरे के चारों ओर घूमते हैं व हमारे दृश्य एक-दूसरे की कक्षा में घूमते हैं."

अपने मूल सितारों पर धुंधलेपन की वजह से TOI 1338 b की पहचान करने के बाद ककियर समेत रिसर्च टीम ने एलेनोर नामक एक सॉफ्टवेयर पैकेज का उपयोग किया.

शिकागो विश्वविद्यालय की स्नातक छात्रा व इस अध्ययन की सह-लेखिका एडिना फीइंस्टीन ने बोला कि सभी तस्वीरों के बीच TESS लाखों सितारों पर निगरानी रख रहा है.

हालांकि इसके परिणाम का अध्ययन अब प्रकाशित किया गया है, लेकिन असली खोज पिछली गर्मियों में हुई थी. हम निश्चित रूप से तो नहीं जानते हैं, लेकिन शायद वुल्फ का इस वर्ष फिर से यहां स्वागत किया जाएगा ताकि वह नए ग्रहों का फिर से शिकार कर सके.