पाक की नापाक हरकत, मुंबई अटैक के दरिंदों की प्रार्थना सभा

पाक की नापाक हरकत, मुंबई अटैक के दरिंदों की प्रार्थना सभा

नई दिल्ली: आतंकियों के प्रति पाकिस्तान की हमदर्दी से पूरी दुनिया वाकिफ है। 12 साल पहले मुंबई पर हुए आतंकी हमले की बरसी पर पाकिस्तान में एक और नापाक हरकत की तैयारी की गई है। मुंबई अटैक की बारहवीं बरसी पर पाकिस्तान में लश्कर-ए-तैयबा का मुखिया हाफिज सईद कसाब समेत मारे गए 10 आतंकियों के लिए प्रार्थना सभाओं का आयोजन करवा रहा है।

मस्जिदों में होंगी प्रार्थना सभाएं
12 साल पहले 26 नवंबर, 2008 को लश्कर के आतंकियों ने मुंबई में आतंकी हमला करके हर किसी को दहला दिया था। इस हमले में करीब 170 लोग मारे गए थे। इस हमले की बरसी पर लश्कर-ए-तैयबा के राजनीतिक मोर्चा जमात-उद-दावा की ओर से मस्जिदों में मारे गए आतंकियों के लिए विशेष प्रार्थनाएं की जाएंगी। हाफिज सईद की अगुवाई वाले जमात-उद-दावा की ओर से पाकिस्तान के पंजाब स्थित साहिवाल शहर में भी प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया है।

सुरक्षाबलों ने की थी त्वरित कार्रवाई
मुंबई में आतंकी हमलों के बाद भारतीय सुरक्षाबलों ने त्वरित कार्रवाई की थी और लश्कर के 9 हथियारबंद आतंकवादियों को मार गिराया था। इस हमले में शामिल एक आतंकी अजमल कसाब को जिंदा पकड़ लिया गया था जिसे कानूनी प्रक्रिया के बाद 21 नवंबर 2012 को फांसी दी गई थी। लश्कर-ए-तैयबा का मुखिया हाफिज सईद इस आतंकी हमले का मास्टरमाइंड था और भारत की तमाम मांगों के बावजूद पाकिस्तान की ओर से अभी तक इस दुर्दांत आतंकी को भारत को नहीं सौंपा गया है।

माहौल बिगाड़ने में जुटा है लश्कर
लश्कर-ए-तैयबा अभी भी कश्मीर में हालात खराब करने की कोशिश में जुटा हुआ है और बीच-बीच में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने में लगा हुआ है। हालांकि घाटी में भारतीय सुरक्षा एजेंसियां भी काफी सक्रिय हैं और सुरक्षा एजेंसियों ने हाल के दिनों में आतंकियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए काफी संख्या में आतंकियों को मार गिराया है।

लश्कर के जिहाद विंग के मुख्य ऑपरेशनल कमांडर और प्रमुख जकीउर रहमान लखवी ने हाल में हाफिज सईद से मुलाकात भी की थी। खुफिया सूचनाओं के मुताबिक जिहाद के लिए पैसा इकट्ठा करने के लिए यह मीटिंग की गई थी।

खुफिया एजेंसियों के मुताबिक पाकिस्तान की जमीन से आतंकी घटनाओं को अंजाम देने की कोशिश की जा रही है। भारत की ओर से इस बाबत पुख्ता जानकारी देने के बावजूद पाकिस्तान लगातार इस बात से इनकार करता रहा है। हालांकि भारत की एजेंसियों ने कई भारत पाकिस्तान की पोल खुली है मगर पाकिस्तान इस बात को मानने को नहीं तैयार है। अंतरराष्ट्रीय मंचों पर भी भारत समय-समय पर पाकिस्तान की पोल खोलता रहा है मगर पाकिस्तान हमेशा सच्चाई से इनकार करता रहा है।

मुंबई में 26 नवंबर 2008 को हुए आतंकी हमले के बाद भी भारत की ओर से पाक आतंकियों के शामिल होने के पर्याप्त सबूत दिए गए थे मगर पाकिस्तान का कहना था कि सईद और अन्य लोगों के खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं दिए गए हैं। पाक से आए आतंकियों की ओर से की गई फायरिंग के दौरान मायानगरी में करीब 160 लोगों की मौत हो गई थी और 300 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। मुंबई के लोग आज भी उस हमले की याद करके दहल उठते हैं। जांच एजेंसियों की पड़ताल में इस बात का खुलासा हुआ था कि आतंकी कराची से नाव के रास्ते मुंबई में घुसे थे और फिर बाद में उन्होंने मुंबई पर हमला बोला था।


कोरोना का ऐसा खौफ, 3 महीने एयरपोर्ट पर छिपा रहा युवक

कोरोना का ऐसा खौफ, 3 महीने एयरपोर्ट पर छिपा रहा युवक

शिकागो: साल 2020, एक ऐसा साल जिसे शायद ही कोई भूल पाए। साल के शुरुआती दौर से ही कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया में धीरे-धीरे अपना पैर पसारते चली गई। कोरोना के डर की वजह से लोगों ने खुद को घरों में कैद कर लिया। जो जहां था वो वहीं फंसा गया। ऐसे आपको कई उदाहरण देखने को मिले होगें। कुछ ऐसी घटना शिकागो से भी सामने आई है, जिसे जानकर आपके होश उड़ जाएंगे। बता दें कि शिकागो के एक एयरपोर्ट कैंपस में एक भारतीय मूल का व्यक्ति करीब 3 महीने तक कोरोना के भय छिपा रहा। चलिए जानते है इसकी पूरी कहानी…

कोरोना के डर एयरपोर्ट पर ही छिप गया युवक
जानकारी के मुताबिक, कैलिफोर्निया (California) का रहने वाला एक भारतीय मूल का नागरिक कोरोना के डर के कारण शिकागो के एयरपोर्ट कैंपस में करीब 3 महीने से छिपा हुआ था। बताया जा रहा है कि वो कोरोना से इतना डरा हुआ था कि वो बाहर ही नहीं निकला। हैरत की बात यह कि युवक के छिपने की जानकारी सिक्योरिटी स्टाफ को बाद में पता लगी। युवक के बारे में जानकारी मिलते ही सिक्योरिटी स्टाफ ने तुरंत उसे हिरासत में ले लिया।

16 जनवरी को पकड़ा गया युवक
पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि युवक का नाम आदित्य सिंह है। वह 19 अक्टूबर को O’Hare airport पर पहुंचा और मौका पाकर सिक्योरिटी जोन में जाकर छिप गया। पुलिस के मुताबिक, आदित्य सिंह कोरोना के खौफ से इतना डरा हुआ था कि उसकी वजह से बाहर ही नहीं निकला। एयरपोर्ट स्टाफ को जब 16 जनवरी को इस बात का पता चला, तब उसे तुरंत गिरफ्तार कर लिया।

आदित्य ने दिखाया आईकार्ड
वहीं एयरपोर्ट स्टाफ के अनुसार, जब आदित्य सिंह पकड़ा गया तो उसने अपना एक आईकार्ड दिखाया था, जो एयरपोर्ट स्टाफ का ही था। बता दें कि आदित्य ने जो आईकार्ड स्टाफ को दिखाया था उसके खोने की रिपोर्ट एयरपोर्ट मैनेजमैंट को दे दी गई थी। इसका खुलासा होने के बाद आदित्य सिंह का झूठ सामने आ गया। फिलहाल सिक्योरिटी स्टाफ आदित्य सिंह का बयान दर्ज कर आगे की जांच में जुटी हुई है।


वजन कम करना चाहते है और साथ ही बीमारियों से महफूज रहना चाहते है तो गर्म पानी पीएं       आंखों की रोशनी बढ़ाने के साथ ही कई बीमारियों का उपचार भी करता है शहद       ठंड और प्रदूषण का डबल अटैक बच्चों के लिए बन सकता है खतरा       जानिए, दूध के साथ किन चीजों को खाने से करना चाहिए परहेज, नहीं तो गड़बड़ी की रहती है आशंका       रोजाना सिर्फ 5 मिनट करें ये 3 काम, पेट की चर्बी हो जाएगी गायब!       नींबू को लंबे समय तक स्टोर करके फ्रेश रखना चाहते है तो इन आसान उपायों को अपनाएं       कब्ज से हैं परेशान, तो रोजाना करें ये योगासन       कोरोना काल में फ्लू हो जाने पर इन बातों का रखें ख्याल       पाना चाहते हैं तेज दिमाग, तो सप्ताह में इतने अंडे खाएं       सेहत और फिटनेस के लिहाज से मक्खन या चीज़ में से क्या खाना है ज्यादा बेहतर?       दिमाग में कैसे जमा होती है याददाश्त? वैज्ञानिकों ने खोला राज़       वजन को कंट्रोल करने के साथ ही मुंह को फ्रेश भी रखती है सौंफ, जानिए फायदे       अर्थराइटिस से पीड़ित है तो सबसे पहले अपनी डाइट को दुरुस्त करें       लंबी उम्र के लिए वैज्ञानिकों ने खोजा खास प्रोटीन, जानिए इस प्रोटीन के स्रोत       जोड़ों में होने वाले हल्के दर्द को भी न करें इग्नोर, हो सकता है आर्थराइटिस का संकेत       जानें, सप्ताह में कितनी बार और कैसे ब्लड शुगर जांच करें       क्या काढ़ा और खुद से इलाज करना, कोविड-19 से लड़ने में कर सकते हैं आपकी मदद       इस योग को करने से महज 30 दिनों में मोटापे से मिल सकता है छुटकारा       तनाव और चिंता दूर करने के साथ सुकून भरी नींद के लिए घर में जरूर लगाएं ये पौधे       आंत के कैंसर की संभावनाओं को काफी हद तक कम करते हैं ये फूड आइटम्स