बड़ी संख्या में तबलीगी समूहों का वापस जाना बना हुआ है स्वास्थ्य अधिकारियों के लिए चिंता की वजह, पढ़े

बड़ी संख्या में तबलीगी समूहों का वापस जाना बना हुआ है स्वास्थ्य अधिकारियों के लिए चिंता की वजह, पढ़े

पाक के कई हिस्सों में अपने सदस्यों के कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण का शिकार होने व दूसरों को इससे संक्रमित करने के बाद अब के नेतृत्व ने पाक की सरकार की बात मानते हुए अपनी सभी गतिविधियों को बंद करने का ऐलान किया है। 

अब धर्म प्रचार में निकले सभी तबलीगी समूहों को जमात के केंद्रों (मरकज) पर लौटने के लिए बोला गया है। हालांकि बड़ी संख्या में तबलीगी समूहों का अपने मरकज की तरफ वापस लौटना भी स्वास्थ्य अधिकारियों के लिए चिंता की वजह बना हुआ है। इन सभी लोगों को आइसोलेशन में रखा जा रहा है।

इस बीच लाहौर के पास रायविंड स्थित तबलीग के मुख्यालय में 14 व जमातियों में Covid-19 के होने की पुष्टि बुधवार को हुई। इन्हें मिलाकर अब तक रायविंड के इस मुख्यालय के 41 जमातियों को कोविड-19 की बीमारी हो चुकी है।

गौरतलब है कि पाक में पंजाब की सरकार के आग्रह पर रायविंड स्थित तबलीग के मुख्यालय में संस्था के बड़े अधिकारियों ने मीटिंग की। इसमें जमात की सभी गतिविधियों को देश भर में रोकने का निर्णय किया गया। तब्लीगी जमात के लोगों से बोला है कि वे जिस स्थान पर हैं, वहीं पर रहें, कहीं आने-जाने की प्रयास न करें व सरकारी अधिकारियों के साथ योगदान करें

लेकिन इस निर्णय के बाद देश भर में फैले जमात के लोग अब इलाके के मरकजों में लौटने लगे हैं। पाक की पंजाब सरकार के प्रवक्ता ने बोला कि लौट रहे सभी समूहों को भिन्न-भिन्न आइसोलेशन में रखा जाएगा व चिकित्सक इन्हें लेकर अपनी जिम्मेदारियां निभाएंगे।

बता दें कि पाक में कोरोना का सर्वाधिक प्रकोप पंजाब प्रांत में देखने को मिल रहा है। यहां पाक में सबसे अधिक कोरोना के मुद्दे सामने आए हैं। पाक के पंजाब में अब तक Covid-19 के कारण 9 लोगों की मृत्यु हो चुकी है व 700 से अधिक लोग कोरोना से संक्रमित हैं।