रोजाना इन व्यायामों के अभ्यास से दूर हो सकती हैं आंखों से जुड़ी कई सारी प्रॉब्लम

रोजाना इन व्यायामों के अभ्यास से दूर हो सकती हैं आंखों से जुड़ी कई सारी प्रॉब्लम

आंखों से जुड़े व्यायामों को रोजाना और आराम से करने का अभ्यास करना चाहिए और तुरंत दो से तीन दिनों में ही इसका असर दिखने लगेगा ये सोचकर बिल्कुल न चलें। आंखों से जुड़ी समस्याएं एकाएक नहीं होती तो ऐसे ही व्यायाम वगैरह के भी फायदे मिलने में कुछ महीने या उससे भी ज्यादा वक्त लग सकता है। बस इत्मीनान रखें क्योंकि फायदों तो मिलते ही हैं। साथ ही इससे चश्मे का नंबर भी कम किया जा सकता है।

तैयारी

इन अभ्यासों को शुरु करने से पहले आंखों पर ठंडे पानी के छीटें मार लें।

हथेलियों में पानी भरकर उसमें आंखों को खोले और बंद करें।

इससे आंखों में ब्लड का सर्कुलेशन सही तरह से होता है।

आंखों के लिए व्यायाम

1. नाक की ओर देखना

दाहिने हाथ  की मुट्ठी बनाकर सीधा करते हुए नाक की सीध में रखें। अब हाथों को मोड़ते हुए धीरे-धीरे अंगूठे को नाक पर रखें। आंखें अंगूठे को ही देखती होनी चाहिए। कुछ सेकेंड ऐसे बने रहें। फिर हाथों को सीधा करें और फिर नीचे। यह एक चक्र पूरा हुआ। ऐसा कम से कम 5 बार करें।


फायदे

यह आंखों की मसल्स को स्ट्रेच करता है और आखों के फोकस करने की क्षमता में सुधार लाता है।

2. गोल-गोल घुमाना

सीधे बैठ जाएं हाथों को सीधा करके मुट्ठी बना लें। अब पहले हाथों को बाईं ओर फिर ऊपर फिर दाईं ओर ले जाएं। जैसे-जैसे हाथ चलेंगे वैसे-वैसे आपकी आखें। इस अभ्यास को भी 10-15 बार करने का प्रयास करें।

फायदे


इससे भी आंखों की मसल्स एक्टिव होती हैं, तनाव दूर होता है।

3. सामने और तिरछे देखना

दांयी भुजा को दाएं ओर फैलाकर इस तरह से रखें कि अंगूठा ऊपर की ओर रहें। सिर को बिना घुमाए आंखों को बाएं अंगूठे पर फोकस करें फिर दाहिने अंगूठे पर औऱ फिर बाएं अंगूठे पर वापस लाएं।

फायदे

इससे आंखों की मसल्स में समन्वयता बनी रहती है।

4. ऊपर-नीचे करना

दोनों मुट्ठियों को इस प्रकार बंद करें कि अंगूठे ऊपर की ओर रहें। अब पहले धीरे-धीरे अंगूठे को नीचे ले जाएं फिर ऊपर की ओर। ऐसा करते वक्त आंखें भी अंगूठे के साथ ऊपर-नीचे होती रहनी चाहिए।

फायदे

इस अभ्यास से नेत्र गोलकों के ऊपर एवं नीचे की पेशियों में संतुलन लाता है।


नींद न आने की समस्या से हैं बहुत ज्यादा परेशान, तो इन घरेलू नुस्खों को एक बार जरूर करें ट्राय

नींद न आने की समस्या से हैं बहुत ज्यादा परेशान, तो इन घरेलू नुस्खों को एक बार जरूर करें ट्राय

स्वस्थ शरीर के लिए जितना जरूरी पोषक तत्वों से भरपूर भोजन है, उतना ही आवश्यक भरपूर नींद भी है। अच्छी नींद से दिमाग शांत और मन खुश रहता है। आंखों के नीचे काले घेरे नहीं पड़ते, त्वचा की चमक बरकरार रहती है। अगर आप नींद न आने की समस्या से परेशान हैं तो यहां दिए जा रहे टिप्स आपकी मदद कर सकते हैं।

1. सिर की मालिश नींद लाने का एक कारगर उपाय है। सोने से पहले गुनगुने तेल से सिर की मालिश करें और हल्के हाथों से कनपटियों को अंगुलियों से दबाएं, कुछ ही देर में नींद आ जाएगी।


2. रात को सोने से पहले एक ग्लास गुनगुने दूध में एक टीस्पून शहद मिलाकर पिएं और सुकून भरी नींद लें।

3. रोज दो टीस्पून मेथी के पत्तों के रस में एक टीस्पून शहद मिलाकर खाने से नींद न आने की समस्या दूर होती है।

4. नियमित दलिया, बादाम, अखरोट और दूध के सेवन से अच्छी नींद आती है।

5. अच्छी नींद के लिए रात में काबुली चना, केला और कीवी खाया जा सकता है।


6.  अध्ययनों के मुताबिक सोने स कुछ देर पहले चेरी खाने से सुकूनभरी नींद आती है। दिन में दो बार एक कप चेरी का जूस पीना भी फायदेमंद होता है।

7. केले में मौजूद पोटैशियम और मैग्नीशियम मांसपेशियों को तनावमुक्त करता है, जिससे नींद अच्छी आती है। इसलिए रात को नींद न आने पर कटे हुए केले पर भुना-पिसा जीरा छिड़कर खाना चाहिए।

8. शरीर में मैग्नीशियम की कमी अनिद्रा के लिए जिम्मेदार होती है। बादाम में अच्छी मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है, इसलिए सुकूनभरी नींद के लिए हर रोज 8-10 बादाम खाएं।

9. दूध में हल्दी या जायफल मिलाकर पीने से नींद से दोस्ती हो सकती है।

10. गहरी नींद के लिए रात को सोने से पहले एक ग्लास दूध में आधा टीस्पून दालचीनी पाउडर मिला सकते हैं।

11. एक ग्लास दूध में केसर के दो धागे मिलाकर पीने से गहरी नींद आती है।

12. सोने से पहले जीरे की चाय पीने या एक ग्लास दूध में एक टीस्पून जीरा पाउडर और एक केला मसल कर खाने से नींद अच्छी आती है।