आंख की पलकों पर गुहेरी होने पर ऐसे करे इलाज, जाने

आंख की पलकों पर गुहेरी होने पर ऐसे करे इलाज, जाने

मौसम बदलने के साथ ही सेहत पर भी असर पड़ता है इस बदलाव के साथ ही आंख की पलकों पर की बाहर या फिर अंदर की तरफ दाना निकल आने को ही गुहेरी या फुंसी कहा जाता है।

यह फुंसी काफी दर्दनाक होती है। दर्द के साथ इसमें सूजन भी आ जाती हे। हालाकि, यह कोई गंभीर रोग नहीं है। मगर, यह काफी तकलीफ देती हैं। यहां तक कि पलक झपकाना भी मुश्किल हो जाता है। इस समस्या से निजात पाने के लिए अपनाये ये घरेलू नुस्खे ............

अमरूद के पत्तेअमरूद के पत्ते भी गुहेरी को खत्म करने में हेल्प करते हैं। इस उपाय को करने के लिए पैन में कुछ मात्रा में पानी लें और फिर अमरूद के 4 पत्तों को साफ कपड़े में बांध कर पानी में डुबो कर उबालें। फिर पत्तियों के ठंडा होने पर इससे आंखों की गुहेरी से सिकाई करें। आपको जल्द ही इस समस्या से राहत मिलेगी


ग्रीन टीग्रीन टी अपने एंटीबैक्टीरियल गुणों की वजह जाना जाता है। इसमें बैक्टीरिया को खत्म करने के गुण होते है। यह गुहेरी की रोकथाम के लिए भी बहुत फायदेमंद है। ग्रीन टी पैक में मौजूद टैनिन इंफेक्शन बढ़ने से रोकता है। इसके अलावा इससे आंखों से सूजन और दर्द से राहत मिलती है। ग्रीन टी के टी बैग को गरम पानी में डुबोकर आंखों या उस स्थान पर रखें जहां गुहेरी का प्रभाव हो। जब टी बैग ठंडे हो जाएं तो दोबारा इसे गरम पानी में डुबोकर प्रयोग करें, 5-7 मिनट तक इस प्रयोग को अपनाएं।

एलोवेरा जैलएलोवेरा को त्वचा संबंधी कई तरह के रोगों को दूर करने के लिए उपयोगी माना जाता है। यह त्वचा में होने वाली जलन को कम करता है और स्किन इंफेक्शन से होने वाले रोगों को भी दूर रखता है। आंख की गुहेरी से राहत पाने के लिए एलोवेरा काफी कारगार उपाय है। इसके लिए एलोवेरा जैल को निकालकर आंख पर लगाएं और 20 मिनट बाद साफ पानी से धो लें। एलोवेरा में मौजूद तत्व बैक्टीरिया को खत्म करने और इंफेक्शन को रोकने में मदद करते हैं।

कैस्टर ऑयलकैस्टर ऑयल में मौजूद तत्व जलन और दर्द को कम करने में सहायक होता है। यह ऑयल गुहेरी के इलाज और उन्हें जल्दी ठीक करने के लिए उपयोगी है। आंखों को अच्छी तरह से धो लें और उन पर गर्म पानी में कॉटन को भिगो कर सेंक लें। सिंकाई के बाद थोड़ी मात्रा में कैस्टर ऑयल लेकर उसे गुहेरी पर लगा लें। दिन में इस प्रयोग को 2 बार करना बेहतर होता है।

गर्म पानी से सिंकाईगुहेरी के घरेलू इलाज में गर्म सिंकाई सबसे आसान और असरकारी उपाय है जो दर्द और सूजन को कम कर आपको राहत देता है। इससे पलकों या आंखों के किनारों पर जो दाने होते हैं वो तेजी से बढ़कर पक जाते हैं, इस तरह प्राकृतिक तरीके से पस निकल जाता है और जल्दी ही सुधार आने लगता है। गर्म पानी में साफ सूती कपड़े को भिगोकर निचोड़ लें। इससे गुहेरी की सिकाई करें। दिन में तीन चार बार इस प्रकार सिकाई करने से बहुत आराम मिलता है। सुजन और दर्द कम हो जाते है।