भूलकर भी इस पोजीशन में ना सोए गर्भवती महिलाएं, वरना पड़ सकता हैं भारी

भूलकर भी इस पोजीशन में ना सोए गर्भवती महिलाएं, वरना पड़ सकता हैं भारी

महिलाओं को गर्भवस्था में अपनी सेहत का खास ख्याल रखने की जरूरत होती है। इसके साथ ही बच्चे की सेहत को भी नुकशान पहुँच सकता है। आज हम आपको कुछ ऐसी ही सोने की पोजीशन के बारे में बताने जा रहे जो आपको राहत प्रदान कर सकती है। गर्भावस्था के अंतिम हफ्ते में गर्भवती महिलाओं का पीठ के बल सोना 10 सिगरेट पीने जितना खतरनाक हो सकता है। 

ऑकलैंड विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों के अनुसार, जो महिला अपने गर्भावस्था के त्रैमासिक अवधि के दौरान एक तरफ मुंह करके लेटने की बजाय पीठ के बल लेटती है, तो उनके जन्म लेने वाले बच्चे का वजन कम होने की संभावना तीन गुना तक बढ़ जाती है। वैज्ञानिकों का मानना है कि गर्भावस्था के अंतिम दिनों में पीठ के बल लेटने से बच्चे में रक्त की आपूर्ति कम हो जाती है। पीठ के बल लेटने पर मां के बड़े हुए गर्भ आकार की वजह से गर्भ नाल संकुचित हो जाती है।

किसी भी तरह की बीमारी से बचे रहने के लिए गर्भवती महिलाओं को नियमित रूप से व्यायाम करना भी जरूरी है। व्यायाम से उनका ब्लड शुगर नियंत्रित रहने के साथ-साथ मां और बच्चे में टाइप-2 डायबिटीज जैसी बीमारियों का खतरा भी कम होता है।


नींद न आने की समस्या से हैं बहुत ज्यादा परेशान, तो इन घरेलू नुस्खों को एक बार जरूर करें ट्राय

नींद न आने की समस्या से हैं बहुत ज्यादा परेशान, तो इन घरेलू नुस्खों को एक बार जरूर करें ट्राय

स्वस्थ शरीर के लिए जितना जरूरी पोषक तत्वों से भरपूर भोजन है, उतना ही आवश्यक भरपूर नींद भी है। अच्छी नींद से दिमाग शांत और मन खुश रहता है। आंखों के नीचे काले घेरे नहीं पड़ते, त्वचा की चमक बरकरार रहती है। अगर आप नींद न आने की समस्या से परेशान हैं तो यहां दिए जा रहे टिप्स आपकी मदद कर सकते हैं।

1. सिर की मालिश नींद लाने का एक कारगर उपाय है। सोने से पहले गुनगुने तेल से सिर की मालिश करें और हल्के हाथों से कनपटियों को अंगुलियों से दबाएं, कुछ ही देर में नींद आ जाएगी।


2. रात को सोने से पहले एक ग्लास गुनगुने दूध में एक टीस्पून शहद मिलाकर पिएं और सुकून भरी नींद लें।

3. रोज दो टीस्पून मेथी के पत्तों के रस में एक टीस्पून शहद मिलाकर खाने से नींद न आने की समस्या दूर होती है।

4. नियमित दलिया, बादाम, अखरोट और दूध के सेवन से अच्छी नींद आती है।

5. अच्छी नींद के लिए रात में काबुली चना, केला और कीवी खाया जा सकता है।


6.  अध्ययनों के मुताबिक सोने स कुछ देर पहले चेरी खाने से सुकूनभरी नींद आती है। दिन में दो बार एक कप चेरी का जूस पीना भी फायदेमंद होता है।

7. केले में मौजूद पोटैशियम और मैग्नीशियम मांसपेशियों को तनावमुक्त करता है, जिससे नींद अच्छी आती है। इसलिए रात को नींद न आने पर कटे हुए केले पर भुना-पिसा जीरा छिड़कर खाना चाहिए।

8. शरीर में मैग्नीशियम की कमी अनिद्रा के लिए जिम्मेदार होती है। बादाम में अच्छी मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है, इसलिए सुकूनभरी नींद के लिए हर रोज 8-10 बादाम खाएं।

9. दूध में हल्दी या जायफल मिलाकर पीने से नींद से दोस्ती हो सकती है।

10. गहरी नींद के लिए रात को सोने से पहले एक ग्लास दूध में आधा टीस्पून दालचीनी पाउडर मिला सकते हैं।

11. एक ग्लास दूध में केसर के दो धागे मिलाकर पीने से गहरी नींद आती है।

12. सोने से पहले जीरे की चाय पीने या एक ग्लास दूध में एक टीस्पून जीरा पाउडर और एक केला मसल कर खाने से नींद अच्छी आती है।