सर्दी जुकाम का उपचार है गुड़

सर्दी जुकाम का उपचार है गुड़

सर्दियों का मौसम में गन्ने की रस से बना गुड़ कितना गुणकारी है। खानपान में इसका अगल ही महत्व है। ये शरीर में खून की होने वाली कमी को रोकता है इसके अतिरिक्त ये एक प्रभावशाली एंटीबायोटिक है। खासकर सर्दी के मौसम में इसका इस्तेमाल सभी आयु के लोगों के लिए बेहद लाभकारी है। आइए जाने कि सर्दी में गुण से होने वाले फायदों के बारे में-

सर्दी जुकाम का उपचार है गुड़:गुड़ तिल की बर्फी खाने से जुकाम की कठिनाई समाप्त हो जाती है। इसे खाने से सर्दी में भी गर्मी बनी रहती है।

कफ में है असरदार:सर्दी में कफ की कठिनाई से लोग परेशान रहते हैं। सर्दियों से होने वाली परेशानियों में गुड़ बेहद असरदार होता है। इन परेशानियों में आप गुड़ की चाय पी सकती हैं। ठंड के दिनों में अदरक, गुड़ व तुलसी के पत्तों का काढ़ा बना कर पीना स्वास्थ्य के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है

अस्थमा को रखे दूर:अस्थमा में गुड़ बेहद फायदेमंद होता है। एक कप घिसी हुई मूली में गुड़ व नींबू का रस मिला कर करीब 20 मिनट तक पकाएं। इस मिलावट को रोजोना एक चम्मच खाएं। इससे अस्थमा में बहुत ज्यादा लाभ होगा।

फेफड़ों के लिए है फायदेमंद:गुड़ में सेलेनियम नाम का एक तत्व पाया जाता है जो एक एंटीऔक्सिडेंट है। ये हमारे गले व फेफड़े को इंफेक्शन से बचाता है व शरीर को स्वस्थ रखने में हमारी मदद करता है। ॉ

नाक की एलर्जी में है फायदेमंद:जिन लोगों को नाक की एलर्जी है उन्हें रोज सबेरे भूखे पेट 1 चम्मच गिलोय व 2 चम्मच आंवले के रस के साथ गुड़ का सेवन करना चाहिए। ऐसा प्रतिदिन करने से नाक की एलर्जी में लाभ मिलता है।