सरकार के इस फैसले से निराश हुए हंसल मेहता और विशाल भारद्वाज सहित ये फिल्मी हस्तियां

सरकार के इस फैसले से निराश हुए हंसल मेहता और विशाल भारद्वाज सहित ये फिल्मी हस्तियां

बॉलीवुड के कई निर्माता और निर्देशक इन दिनों कानून मंत्रालय के एक फैसले से काफी निराश हैं। साथ ही फैसले को वह हिंदी सिनेमा के लिए सबसे बुरा बता रहे हैं। दरअसल हाल ही में केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के आदेशों से नाखुश फिल्म निर्माताओं की अपील सुनने के लिए गठित एक सांविधिक निकाय फिल्म प्रमाणन अपीलीय न्यायाधिकरण (एफसीएटी) को कानून मंत्रालय ने तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया है।

कानून और न्याय मंत्रालय ने आदेश जारी करते हुए एक नोटिस जारी किया है। अब सीबीएफसी के फैसलों से नाखुश निर्माता और निर्देशकों को अपनी शिकायतों के निवारण के लिए एफसीएटी के बजाय हाईकोर्ट का रुख करना होगा। कानून मंत्रालय के इस फैसले से बॉलीवुड के कई निर्माता और निर्देशक काफी निराश है और इस फैसले को सिनेमा के लिए बुरा दिन बता रहे हैं।

बॉलीवुड के मशहूर निर्माता-निर्देशक हंसल मेहता ने मंत्रालय के इस फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर लिखा, 'क्या फिल्म प्रमाणन की शिकायतों के समाधान के लिए उच्च न्यायालयों के पास इतना समय होता है? कितने फिल्म निर्माताओं के पास अदालतों का रुख करने का साधन होगा? एफसीएटी की छूट मनमाना लगती है और निश्चित रूप से प्रतिबंधात्मक है। यह दुर्भाग्यपूर्ण समय क्यों है? यह निर्णय क्यों लिया?'


वहीं फिल्म निर्देशक विशाल भारद्वाज ने भी ट्विटर पर इस फैसले की निंदा की है। उन्होंने अपने ट्वीट पर लिखा, 'फिल्म प्रमाणन अपीलीय ट्राइब्यूनल को खत्म करना सिनेमा के लिए सबसे दुखद दिन है।' विशाल भारद्वाज के ट्वीट पर फिल्म निर्माता गुनीत मोंगा ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा, 'ऐसा कुछ कैसे होता है? कौन तय करता है?' वहीं अभिनेत्री ऋचा चड्ढा ने भी एक GIF शेयर कर विशाल भारद्वाज के ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

आपको बता दें कि फिल्म प्रमाणन अपीलीय न्यायाधिकरण (एफसीएटी) अतीत में कई फिल्म निर्माताओं के लिए उपयोगी साबित हुई है। सीबीएफसी की ओर से फिल्म 'लिपस्टिक अंडर माय बुर्का' को प्रमाणित करने से इनकार करने के बाद फिल्म की निर्देशक अलंकृता श्रीवास्तव ने 2017 में एफसीएटी से संपर्क किया था। एफसीएटी ने कुछ एडिट्स के सुझाव के बाद सीबीएफसी को फिल्म को ए सर्टिफिकेट देने का आदेश दिया।


सीबीएफसी ने साल 2016 में अनुराग कश्यप की फिल्म 'उडता पंजाब' को मंजूरी देने से इनकार कर दिया। यह भी एफसीएटी का हस्तक्षेप था कि फिल्म रिलीज हो पाई थी। इसी तरह, एफसीएटी ने अभिनेता नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी द्वारा अभिनीत और कुषाण नंदी द्वारा निर्मित फिल्म 'बाबूमोशाय बंदूकबाज' की भी रिलीज करने में मदद की थी।


Arshad Warsi और बमन ईरानी के इस कॉमेडी शो में हंसने पर है पाबंदी, जानें

Arshad Warsi और बमन ईरानी के इस कॉमेडी शो में हंसने पर है पाबंदी, जानें

बॉलीवुड के दो बेहतरीन अभिनेता अरशद वारसी और बमन ईरानी अमेज़न प्राइम वीडियो के कॉमेडी रिएलिटी शो LOL- Hasse Toh Phasse को होस्ट करेंगे। प्राइम ने इसका प्रोमो बुधवार को जारी किया। इस रिएलिटी शो में कई जाने-माने कॉमिक कलाकार और स्टैंड अप कॉमेडियन नज़र आएंगे। यह शो अमेज़न प्राइम की अपनी ओरिजिनल इंटरनेशनल सीरीज़ LOL का भारतीय रूपांकरण है।

एलओएल- हंसे तो फंसे में 10 नामचीन कॉमिक कलाकार शामिल हो रहे हैं। इनमें सुनील ग्रोवर, सुरेश मेनन, गौरव गेरा, सायरस ब्रोचा, कुशा कपिला, मल्लिका दुआ, अंकिता श्रीवास्तव, आकाश गुप्ता, अदिति मित्तल और आदर मलिक शामिल हैं। शो का प्रोमो प्राइम ने सोशल मीडिया में शेयर किया है, जिसके साथ लिखा है- एलओएल का बस एक रूल, हंसना जाओ भूल। शो में दो प्रतिभागियों को एक-दूसरे के सामने रखा जाएगा। मगर, इन दोनों को छोड़कर बाकी सब हंसेंगे।


अरशद वारसी और बमन ईरानी ने मुन्नाभाई एमबीबीएस, लगे रहो मुन्नाभाई और जॉली एलएलबी जैसी फ़िल्मों में काम किया है। दोनों कलाकारों की टाइमिंग ज़बरदस्त है और अपने किरदारों के ज़रिए जमकर मनोरंजन करते रहे हैं। ऐसे में इस कॉमेडी शो में दोनों को साथ देखना दिलचस्प होगा। वहीं, सुनील ग्रोवर भी अपनी कॉमिक टाइमिंग के लिए जाते हैं और द कपिल शर्मा शो के ज़रिए लोगों को हंसाते रहे हैं।


मल्लिका दुआ मूल रूप से यू-ट्यूबर हैं। दर्शकों ने उन्हें कियारा आडवाणी के साथ इंदू की जवानी में देखा होगा। शो 30 अप्रैल को अमेज़न प्राइम वीडियो पर स्ट्रीम किया जाएगा। अरशद वारसी ने वूट के शो असुर से ओटीटी डेब्यू किया था, जो काफ़ी चर्चित रहा था। हालांकि, वो एक साइकोलॉजिकल थ्रिलर शो है। 

उधर नेटफ्लिक्स पहले ही कपिल शर्मा के साथ एक शो का एलान कर चुका है। इस शो की ज़्यादा जानकारी अभी बाहर नहीं आयी है। नेटफ्लिक्स ने इसका एक प्रोमो जारी करके इसके बारे में बताया था।


लॉकडाउन के दौरान क्या करें और क्या न करें       हेल्दी ब्रेकफास्ट के साथ भरपूर मात्रा में लिक्विड्स लेकर सुधार सकते हैं अपना इम्यून सिस्टम       COVID-19 के बारे में 6 बातें जो गर्भवती महिलाओं के लिए हैं ज़रूरी       बुजुर्गों को सेहतमंद रखने में बेहद कारगर हैं ये 5 प्राणायाम       क्या सीज़नल इंफेक्शन भी बन सकता है कोरोना वायरस?       कोरोना वायरस का अटैक होने पर शरीर पर होने लगता है ऐसा असर       लंबे लॉकडाउन के दौरान इस तरह रखें अपने बच्चों की पढ़ाई का ध्यान       बाहर से आई सब्ज़ी और फलों से भी है वायरस का ख़तरा, बरतें ये सावधानियां       जानें, डिप्रेशन से बचने के लिए वर्क फ्रॉम होम करने वालों को क्या-क्या करना चाहिए       लॉकडाउन के दौरान क्रिएटिविटी बनाए रखने के लिए वर्क फ्रॉम होम करने वालों को ये करना चाहिए       कोरोना वायरस से लड़ने में सक्षम हैं ये 5 आयुर्वेदिक ड्रिंक्स       पिछली महामारियों से कैसे 10 गुणा ज़्यादा ख़तरनाक है कोरोना वायरस       सूखी खांसी और गीली खांसी में क्या है फर्क?       नींद आने में हो रही है दिक्कत, तो चैन से सोने के लिए अपनाएं ये टिप्स       7 दिनों का ये डाइट मेन्यू करें फॉलो, मिलेगी हेल्दी और स्लिम-ट्रीम बॉडी       देश के इन हिस्सों में गरज के साथ होगी तेज बारिश, जानें- IMD का ताजा अपडेट       हरियाणा में जन्मे और अल्‍पसंख्‍यकों की आवाज रहे पाकिस्तानी मानवाधिकार कार्यकर्ता आइए रहमान का निधन       Kareena Kapoor Khan ने प्रेगनेंसी के दौरान जमकर खाया पिज्जा और पास्ता       अपनी टीम की हार से निराश हुए शाहरुख खान, फैंस से इस अंदाज में मांगी माफी       'रात बाक़ी है' में फीमेल लीड निभा रहीं पाउली दाम ने बताया, 'हेट स्टोरी' के बाद क्यों हो गयीं बॉलीवुड से दूर