तलाक होते ही अनुपमा ने बदला घर, कैंसर से लड़नी होगी अब लड़ाई

तलाक होते ही अनुपमा ने बदला घर, कैंसर से लड़नी होगी अब लड़ाई

नई दिल्ली: बीते दिन यानी 16 मई को वनराज और अनुपमा का तलाक हो गया है. जिसके बाद दोनों ही घर लौटते हैं. जहां सब बेसब्री से उनका इन्तजार कर रहे होते हैं. घर आते ही अनुपमा अपने दूसरे घर में शिफ्ट हो जाती हैं. वहीं डॉक्टर अद्वैत के पास उनकी फाइनल मेडिकल रिपोर्ट आती है. तो चलिए आपको बतातें हैं कि आज के एपिसोड में क्या होगा.

घर की ओर लौटे वनराज-अनुपमा

डॉक्टर अद्वैत के साथ वनराज और अनुपमा तलाक के बाद साथ में घर लौटते हैं. रास्ते में आते हुए गाड़ी में अनुपमा गाना प्ले करने को कहती हैं. जैसे वह सॉन्ग प्ले करते हैं और गाना चलता है कि मैंने अपने संजिया जी से संबंध विच्छेद कर लिया. यह गाना सुनते हुए अनुपमा और वनराज बहुत ज्यादा अजीब महसूस करने लगते हैं. वहीं दूसरी ओर घर में सभी दोनों के लौटने का इन्तजार कर रहे हैं. तलाक होने से तोषो और समर बहुत ज्यादा उदास है.

अनुपमा ने बदला घर

तलाक होने के बाद जैसे ही अनुपमा और वनराज वापस रिजॉर्ट आती हैं. वह निर्णय लेती हैं कि वह अब उस घर में उन सभी के साथ नहीं रह पाएंगी. यह सुन बॉ बहुत ज्यादा नाराज़ हो जाती हैं. वह अनुपमा को रोकने की बहुत प्रयास करती हैं. लेकिन अनुपमा बॉ को समझाती हैं और अकेले ही दूसरे घर में चली जाती हैं. जिसे देख सभी दंग हो जाते हैं. पहली बार घर से अलग होने वाली अनुपमा जब नए घर में स्वयं को अकेला महसूस करती हैं. तो उनके कानों में सभी घरवालों की आवाज़ें गूज़ने लगती हैं. जिसे सुन वह बहुत ज्यादा परेशान हो जाती हैं.

अनुपमा से मिलने आई काव्या

काव्या अनुपमा के लिए चाय लाती है. जिसे देख अनुपमा बहुत ज्यादा हैारन हो जाती है. काव्या अनुपमा को कहती हैं कि वह अब अकेले हो गई हैं. उनके पास कोई नहीं रहा है. ना फैमिली ना हसबैंड और ना सौतान. क्योंकि अब वह वनराज की पत्नी नहीं रही. काव्या कहती हैं कि वह विवाह के बाद उन्हें किसी से भी बात करने के लिए नहीं रोकेंगी. यहां तक कि वनराज से भी नहीं. काव्या अनुपमा से कहती है कि वह स्वयं ये जीवन चाहती थीं. जो उन्हें मिल गई. वहीं अनुपमा कहती हैं कि जन्म मिलता है. जीवन बनानी पड़ती हैी

काव्या ने छपवाया विवाह का कार्ड

एक ओर जहां पूरा परिवार वनराज और अनुपमा के तलाक से उदास हैं. वहीं दूसरी ओर काव्या विवाह के सपने बुन रही हैं. काव्या पूरे परिवार के पास जाती है और बॉ के हाथ में विवाह का कार्ड थमा देती है. यह देख बॉ और वनराज बहुत ज्यादा गुस्सा हो जाते हैं. काव्या कहती है कि वनराज और उनके तलाक के बाद दोनों को विवाह करनी ही थी. तो इसमें देरी क्यों? वहीं काव्या को बच्चों को भी विवाह की स्थान चुनने को कहती है. जिसे सुन सब काव्या को दंग भरी नज़रों से देखते हैं.

कैंसर हुआ अनुपमा

अनुपमा की फाइनल रिपोर्ट आ गई है. डॉक्टर अद्वैत अनुपमा से बात करने के लिए उनके घर में जाते हैं और कहते हैं कि उनसे बात करना चाहते हैं. अनुपमा उनसे पूछती है कि उनकी फाइनल रिपोर्ट में क्या आया है. जिसके बाद डाक्टर अद्वैत बताते हैं कि उन्हें कैंसर हैं. यह बात सुन अनुपमा बहुत ज्यादा दंग और परेशान हो जाती हैं. लेकिन वह कहती हैं कि वह इसके लिए पूरी तरह से तैयार हैं. अनुपमा का आत्मविश्वास देख डॉक्टर अद्वैत भी उनका साथ देने की बात कहते हैं.


हेमा मालिनी के न रहने पर धर्मेंद्र ऐसे रखते थे बेटी एशा देओल का ख्याल, एक्ट्रेस ने कहा...

हेमा मालिनी के न रहने पर धर्मेंद्र ऐसे रखते थे बेटी एशा देओल का ख्याल, एक्ट्रेस ने कहा...

 बॉलीवुड अभिनेत्री एशा देओल फिल्मों से दूर हैं। वह मशहूर कपल अभिनेता धर्मेंद्र और अभिनेत्री हेमा मालिनी की बड़ी बेटी हैं। एशा देओल ने फादर्स डे पर पिता धर्मेंद्र के बारे में खास बातें बताई हैं। साथ ही उन्होंने अपनी बचपन की यादों को भी साझा किया है। एशा देओल पिता धर्मेंद्र के काफी करीब हैं। वह अक्सर उनके बारे में खास बातें बताती रहती हैं।

एशा देओल ने फादर्स डे के मौके पर अंग्रेजी वेबसाइट टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने बताया है कि मां हेमा मालिनी के घर में न रहने पर पिता धर्मेंद्र उन्हें नहलाते, कपड़े पहनाते और आंखों में काजल भी लगाया करते थे। एशा देओल ने कहा, 'मां के न रहने पर पापा ने मुझे नहलाया, सुंदर सी फ्रॉक पहनाई और आंखों में काजल भी लगाया था। सच कहूं तो जब मैं बड़ी हो रही थी, तब पापा हमेशा शूटिंग पर रहते थे इस वजह से हमने कभी भी फादर्स डे को इस तरह से नहीं मनाया, लेकिन अब हम मनाते हैं।'

एशा देओल ने आगे कहा, 'हम उन्हें इस दिन की बधाई देते हैं और अगर वह मुंबई में होते हैं तो हम उन्हें तोहफे में केक देते हैं। मुझे याद है कि एक बार हम सभी विकेशन पर विदेश घूमने गए थे और मां सुबह जल्दी शॉपिंग के लिए निकल गई थीं। जब मैं सोकर उठी तो मैंने रूम में सिर्फ पापा को पाया। मां को पास न देखकर मैं रोने लगी, तो पापा ने मुझे चुप करवाया और कहा कि वह मेरे पास हैं और मेरे लिए सबकुछ करेंगे।'


अभिनेत्री ने आगे कहा, 'उन्होंने मुझे नहलाया, बालों में कंघी की, मुझे सुंदर सी फ्रॉक पहनाई और आंखों में काजल लगाया। जब 9 बजे मम्मी आईं तो उन्होंने मुझे पूरी तरह तैयार पाया। यह बहुत क्यूट था। पापा के लिए केवल शब्द में तरीफ करना मुश्किल है क्योंकि उन्होंने अपने करियर में कई किरदार निभाए हैं। मेरे लिए वह मेरा सुरक्षा कवच हैं। जब वह मुझे गले लगाते हैं तो मेरी सारी परेशानियां दूर हो जाती हैं और मैं दोबारा चार्ज हो जाती हूं। वह सभी के हीरो हैं लेकिन हमारे लिए तो वो हमारे 'ही-मैन' हैं।'

धर्मेंद्र की गिनती बॉलीवुड के दिग्गज कलाकारों में होती है। उन्होंने अपने करियर में एक से बढ़कर फिल्मों में काम किया है। फिलहाल धर्मेंद्र लोनावाला के पास अपने एक फार्महाउस में रहते हैं। हालांकि वह सोशल मीडिया पर के जरिए अपने फैंस और करीबियों से जुड़े रहते हैं। धर्मेंद्र अक्सर अपने फैंस के लिए खास तस्वीरें और वीडियो भी साझा करते रहते हैं।