दुनिया बैंक ने दी  हिंदुस्तान को एक अरब डॉलर के इमरजेंसी कोष की मंजूरी, पढ़े

दुनिया बैंक ने दी  हिंदुस्तान को एक अरब डॉलर के इमरजेंसी कोष की मंजूरी, पढ़े

 दुनिया बैंक ने कोरोना वायरस महामारी को लेकर हिंदुस्तान को एक अरब डॉलर के इमरजेंसी कोष को मंजूरी दे दी है. अब तक इस महामारी से देश में 56 लोगों की जान जा चुकी है. वहीं 2200 से अधिक लोग संक्रमित हैं

. दुनिया बैंक ने गुरुवार को बोला कि उसने मदद के पहले चरण के रूप में 1.9 अरब अमरीकी डॉलर का प्रावधान किया है, जिससे 25 राष्ट्रों की मदद की जाएगी.

राहत कोष में हिंदुस्तान को सबसे ज्यादा मिला

इस इमरजेंसी वित्तीय सहायता का सबसे बड़ा भाग (एक अरब डॉलर) हिंदुस्तान को मिला है. निदेशक मंडल द्वारा कोरोना जैसी महामारी का मुकाबला करने के लिए विकासशील राष्ट्रों को पहले चरण की सहायता को मंजूरी दी है. दुनिया बैंक के अनुसार हिंदुस्तान में एक अरब डॉलर की सहायता देश में व्यवस्थाओं को बेहतर तरीका से संचालित करने के लिए दी गई है. इससे नयी पृथक इकाइयों की स्थापना में मदद मिलेगी. दुनिया बैंक ने दक्षिण एशिया में पाक के लिए 20 करोड़ डॉलर,अफगानिस्तान के लिए 10 करोड़ डॉलर, मालदीव के लिए 73 लाख डॉलर व श्रीलंका के लिए 12.86 करोड़ डॉलर की मंजूरी दी.

दुनिया भर में 51 हजार से अधिक मौत

कोरोना वायरस के सामने अमरीका बेबस दिखाई दे रहे हैं. एक दिन में सबसे अधिक 1169 लोगों की मृत्यु हुई है. अमरीका में कोरोना वायरस (कोविड 19) के कारण मरने वालों की संख्या पांच हजार से अधिक हो गई है. वहीं संसार भर में कोरोना वायरस के मुद्दे दस लाख से अधिक हो गये हैं. जबकि 51 हजार से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है.