Royal Enfield Classic 350 दो नए कलर में हुई लॉन्च

Royal Enfield Classic 350 दो नए कलर में हुई लॉन्च
नई दिल्ली: रॉयल एनफील्ड ने अपनी क्लासिक 350 बाइक को दो नए कलर Metallo Silver और Orange Ember में लॉन्च किया है इसके अतिरिक्त रॉयल एनफील्ड ने अपनी इन दो नए वेरिएंट में कई अहम परिवर्तन भी किए है कस्टमर को नए वेरिएंट में अलॉय व्हील्स और ट्यूबलेस टायर्स भी मिलेंगे आपकी जानकारी के लिए बताते चलें क्लासिक 350 रॉयल एनफील्ड की सबसे पॉपुलर बाइक है जिसने पिछले 10 वर्ष में कामयाबी के कई कीर्तिमान स्थापित किए है  रॉयल एनफील्ड ने मैटेलो सिल्वर और Orange Ember वेरिएंट की मूल्य दिल्ली में एक्स-शोरूम प्राइस 1 .83 लाख रुपये रखी है कंपनी ने इसके अतिरिक्त क्लासिक 350 बाइक पर मेक इट योर्स इनिशिएटिव प्रारम्भ किया है इसके अनुसार कस्टमर क्लासिक 350 बाइक को अपने मनमुताबिक कस्टमाइज करा सकेंगे और अपनी पसंद की ऐसेसरी भी ऐड कर सकेंगे बता दे रॉयल एनफील्ड की मेक इट योर्स स्कीम का लाभ कंपनी के सभी चैनल्स जैसे वेबसाइट, रॉयल एनफील्ड ऐप और डीलरशिप पर उपलब्ध रहेगा  

रॉयल एनफील्ड की Meteor 350 भी करा सकते हैं कस्टमाइज -  आपकी जानकारी के लिए बताते चलें रॉयल एनफील्ड ने मेक इट योर्स की आरंभ सबसे पहले 650 Twin  बाइक पर प्रारम्भ की थी कंपनी ने इस स्कीम को Meteor 350 पर भी प्रारम्भ कर दिया है यानी अब कस्टमर अपने हिसाब से  Meteor 350 को भी कस्टमाइज करा सकेंगे इसके अतिरिक्त रॉयल एनफील्ड जल्द ही अपनी बाइक्स के सभी मॉडल को मेक इट योर्स में उपलब्ध कराना प्रारम्भ कर देगी  

 नए कलर्स वाली क्लासिक 350  का इंजन- रॉयल एनफील्ड ने मैटेलो सिल्वर और ऑरेंज एंबेर वेरिएंट बाइक के इंजन में कोई परिवर्तन नहीं किया है इन बाइक में आपको 346cc का इंजन मिलेगा जो 19.1 bhp की क्षमता और 28 Nm पीक टॉर्क जेनरेट करता है इंजन 5-स्पीड गियरबॉक्स से लैस है कंपनी ने इन बाइक में दोनों तरफ डिस्क ब्रेक दिए हैं इसके अतिरिक्त बाइक ड्यूल चैनल एबीएस से लैस है इसके फ्रंट में टेलेस्कोपिक फोर्क्स और रियर में ट्विन शॉक अब्जॉर्बर्स सस्पेंशन मिलते हैं

निवेशकों के लिए टाइमिंग समझना होता है बड़ी उलझन, यह रणनीति आएगी काम

निवेशकों के लिए टाइमिंग समझना होता है बड़ी उलझन, यह रणनीति आएगी काम

बाजार जब भी तेजी के सफर पर होता है, तो अक्सर होल्डिंग पैनिक यानी निवेश को बनाए रखने का डर देखने को मिलता है। निवेशक इस उलझन में रहते हैं कि निवेश को बेचकर मुनाफा कमाने की सही टाइमिंग क्या है? ऐसे में समझना जरूरी है कि निवेश बेचकर निकल लेना टाइमिंग नहीं है। पोर्टफोलियो में सही असेट अलोकेशन ज्यादा जरूरी है।

इस समय बहुत से इक्विटी निवेशकों को डर सता रहा है कि बाजार काफी ऊपर चला गया है और अब इसमें बड़ी गिरावट के हालत बन रहे हैं। कुछ निवेशकों को लग रहा है कि उन्हें अपना निवेश बेचकर लाभ कमा लेना चाहिए। लेकिन फिर वे यह भी नहीं चाहते हैं कि उनकी रकम बैंक में बेकार पड़ी रहे और दूसरे लोग अमीर बनते रहें। ध्यान रहे, मैं यह नहीं कह रहा हूं कि बाजार में गिरावट की आशंका को लेकर वे सही हैं या गलत हैं।

पिछले चार सप्ताह से सेंसेक्स नई ऊंचाई पर है और निवेशक इससे डर रहे हैं। निवेश की दुनिया में कई तरह के डर होते हैं। जब बाजार तेजी से गिरने लगता है तो निवेश बेचने का डर काम करता है। इसे सेलिंग पैनिक भी कहते हैं। कुछ लोग बाइंग पैनिक से भी परिचित होंगे। बाइंग पैनिक यानी निवेश खरीदने का डर। यह डर तब काम करता है जब बाजार तेजी से ऊपर चढ़ने लगता है।

अभी कुछ निवेशक जिस डर का अनुभव कर रहे हैं, वह तीसरे तरह का डर है। इसे होल्डिंग पैनिक कहा जा सकता है। यानी निवेश बनाए रखने को लेकर डर। वे अपना निवेश बनाए हुए हैं, लेकिन इस बात को लेकर डरे हुए हैं कि आगे क्या होगा। हाल में कई लोगों ने ऐसे सवाल किए हैं कि उन्हें अभी क्या करना चाहिए।

पिछले 20 साल में हमने ऐसे कई दौर देखे हैं। हर बार बाजार जब अपने उच्चतम स्तर पर होता है तो इसी तरह का होल्डिंग पैनिक पैदा होता है। हालांकि याद रखना चाहिए कि इस तरह के हालात का सबक यह नहीं है कि सही समय पहचान कर बाजार से निवेश बेचकर निकल लेना चाहिए।

निवेशक अक्सर सोचते हैं कि निवेश बेचकर निकलने का सही समय क्या है। उन्हें लगता है कि तेजी का यह दौर सही टाइमिंग है। हालांकि बाजार में तेजी का दौर लंबे समय तक बना रह सकता है। मुझे अब भी याद है कि बहुत से निवेशक 2004 में इस तरह की मनोदशा में थे और बाजार में तेजी का दौर लगभग चार साल तक जारी रहा। बाजार में तेजी का दौर सालों तक जारी रह सकता है।

टाइमिंग का मतलब निवेश बेचकर मुनाफा कमा लेना नहीं है। समाधान यह है कि जब बाजार में इस तरह के हालात बनें, तो आपका असेट अलोकेशन सटीक हो और आपके पास सिर्फ उच्च गुणवत्ता वाले स्टॉक्स होने चाहिए। निश्चित तौर पर जब बाजार में गिरावट आएगी तो आप रकम गंवाएंगे। हालांकि, अगर आपका असेट अलोकेशन तार्किक है और आप इसे बनाए रखते हैं, तो आपको फिक्स्ड असेट से काफी फायदा होगा। मैं कोई काल्पनिक बात नहीं कर रहा हूं, बल्कि हाल के दशकों में बाजार में तेजी, गिरावट और फिर तेजी के चक्र में स्मार्ट निवेशक इसी तरह से सफल हुए हैं।


केविन पीटरसन ने कहा कि इंग्लैंड अगर सर्वश्रेष्ठ टीम के साथ नहीं खेला, तो ये टीम इंडिया का अपमान होगा       भारत की जीत के बाद गावस्कर ने खास अंदाज में मनाया था जश्न, कहा...       अजिंक्य रहाणे की सफलता से विराट कोहली पर बढ़ा दबाव, दिग्गज बोले...       पाकिस्तान के खिलाड़ियों को बड़ी टीमों के खिलाफ कैसे खेलना है, बाबर आजम ने बताया       जो रूट ने श्रीलंका के खिलाफ शतक लगाकर बतौर कप्तान बनाया नया वर्ल्ड रिकॉर्ड, विराट, सचिन व फ्लेमिंग पीछे छूटे       अब आएगा इस स्पिनर का टाइम, ऑस्ट्रेलिया में नहीं खेल पाए एक भी मैच       इन दिग्गजों का नाम है शामिल, Ind vs Eng टेस्ट सीरीज के लिए कमेंट्री टीम का ऐलान!       इंग्लैंड के खिलाफ स्टेडियम में दिख सकते हैं दर्शक, लेकिन...       पाकिस्तान ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ कराची टेस्ट के लिए टीम की घोषणा की, इतने अकैप्ड खिलाड़ियों को मिला मौका       शार्दुल ठाकुर को ब्रिसबेन टेस्ट के बाद मिला नया 'निकनेम', सचिन तेंदुलकर का नाम भी साथ जोड़ा गया       अगले वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा 5.5 फीसद तक सिमटने का अनुमान, कोरोना काल में सरकार के वित्तीय प्रबंधन का दिखेगा असर       निवेशकों के लिए टाइमिंग समझना होता है बड़ी उलझन, यह रणनीति आएगी काम       इलेक्ट्रिक कार उद्योग को बजट से बड़ी सौगात की उम्मीद, चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने में प्रोत्साहन की दरकार       अपने पिछले उच्च स्तर से 8,000 रुपये टूट चुका है सोना, चांदी भी 12,500 रुपये टूटी       इस महीने भी विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक बने हुए हैं शुद्ध खरीदार, अब तक कर चुके हैं 18,456 करोड़ रुपये का निवेश       बजट से पहले भी बाजार में आ सकती है अच्छी खासी गिरावट, जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट       Budget 2021: भारतीय कंपनियों ने Deloitte सर्वे में बताई बजट को लेकर अपनी उम्मीदें       कौन हैं नताशा दलाल को महेंदी लगाने वाली आर्टिस्ट वीना नगाड़ा, ईशा अंबानी और दीपिका को भी कर चुकी हैं तैयार       रिचा चड्ढा ने कहा कि जब तक लोकतंत्र है लोगों को मुखर होना चाहिए       Bigg Boss 14 : सोनाली फोगाट को खाने को लेकर निक्की, अर्शी और रुबीना से पड़ी जमकर डांट